Home > धर्म > विडियो – गाय का वध करने वाले कसाई पर ईश्वर का प्रकोप

विडियो – गाय का वध करने वाले कसाई पर ईश्वर का प्रकोप

cow killers

पूरी दुनिया में हिन्दू ही एकमात्र ऐसा धर्म है जो सभी पशु व पक्षियों तक का सम्मान करता है। घरों में भी ये संस्कार सदियों से चले आ रहे हैं की लोग गाय माता के लिए, पक्षियों के लिए तथा मनुष्य के परम मित्र कुत्ते तक के लिए रोटी निकाल के रखते हैं। मछलियों को कहना खिलाना भी पुण्य माना जाता है। सिर्फ हिन्दू धर्म में प्रेम सिर्फ जीव जंतुओं तक ही सिमित नहीं है बल्कि पेड़ पौधों के लिए भी प्रेम है। ऐसा इसलिए है कुकी हिन्दू धर्म में माना जाता है की सभी जीव प्रकृति की ही दें हैं और सभी साथ मिल के ही प्रेम से रह सकते है। यदि हम सभी जीवों को मार देंगे तो क्रमिक विकास में बढ़ा आएगी और मनुष्यों की भी हानि होगी।

छोटे शहरों तथा गाँव में अभी भी मनुष्य तथा पशु साथ रहते हैं और एक दूसरे की सेवा करते देखे जा सकते हैं। इस प्रकार से गाँव के लोग तनाव तथा प्रदुषण इ दूर खुशहाल जीवन व्यतीत करते आज भी देखे जा सकते हैं। मगर इसी दुनिया में एक वर्ग ऐसा भी है जो इस प्राणिमात्र के लिए प्रेम से अछूता है और जीव हत्या करने में ही गर्व महसूस करता है। जिस गाय का दूध पिके वो बड़ा होता है उसी गाय की हत्या कर देने में वो वर्ग परहेज नहीं करता। तथा इस प्रकार से वो स्वयं को और अपने बच्चों को भी पाप का भागी बनाता रहता है। और इस पाप का फल उसे किसी न किसी रूप से तो भोगना ही पड़ता है जैसा की इस विडियो में हुआ है।

इस विडियो में एक कसाई गाय माता का वध करने का प्रयास करता दिखाई दे रहा है। कुछ लोग मिलके गाय माता को पकडे हैं और फिर वो गाय माता को गिरा के उसके पैर बाँध रहा है। गाय कोई विरोध भी नहीं करती है। मगर जैसे ही वो गाय माता के पैर बाँध के वध करने के लिए उठता है की तभी ईश्वर का प्रकोप उस पर टूटता है और कर्मों का फल उसे वही मिल जाता है। कर्म तथा उसके फल का प्रभाव देखें इस आश्चर्य चकित करने वाले विडियो में।

अब आपकी बारी

क्या आपको लगता है की गाय जो की एक बहुत ही उपयोगी प्राणी है जिसके मल-मूत्र से लेकर दूध तक मनुष्य के तथा प्रकृति के काम आते है ऐसे प्राणी का वध नहीं करना चाहिए? अपने विचार हमें कमेंट के माध्यम से बताएं।

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments