Home > ख़बरें > सीएम योगी ने पूरा किया अपना सबसे बड़ा वादा, कर दिया सबसे बड़ा ऐलान, हिला दिया पूरे देश को !

सीएम योगी ने पूरा किया अपना सबसे बड़ा वादा, कर दिया सबसे बड़ा ऐलान, हिला दिया पूरे देश को !

yogi-waives-off-agriculture-loan

लखनऊ : यूपी चुनाव के दौरान बीजेपी की और से वादा किया गया था की वो प्रदेश में सरकार बनाते ही पहली ही कैबिनेट मीटिंग में किसानों का कर्ज माफ़ करेंगे. प्रचंड बहुमत से चुनाव जीत कर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की अगुवाई में बीजेपी की सरकार भी बनी और अब खबर सामने आ रही है कि आज अपनी पहली कैबिनेट मीटिंग के दौरान ही योगी ने अपना सबसे बड़ा वादा पूरा कर दिखाया है. जिससे पूरे देश में ख़ुशी की लहर दौड़ गयी है.

किसानों का 1 लाख रुपए तक का कर्ज माफ !

दरअसल खबर आयी है कि पहली कैबिनेट मीटिंग में लम्बी चर्चा के बाद योगी सरकार इस मामले पर अपने अंतिम निर्णय पर पहुच गयी है. सभी की एक मत राय से सीएम योगी ने किसानों की ऋण माफी का फैसला किया है. इसके साथ-साथ प्रदेश की तरक्की, उन्नति व् उज्जवल भविष्य के लिए कई अन्य महत्वपूर्ण फैसले भी लिए गए.

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक योगी सरकार ने किसानों का 1 लाख रुपए तक का कर्ज माफ करने की घोषणा की है. बताया जा रहा है कि योगी सरकार के इस फैसले से तकरीबन 2.15 करोड़ किसानों को राहत मिलेगी. योगी सरकार किसानों का कुल मिलाकर 36 हजार करोड़ रुपए का कर्ज माफ करेगी.

सीएम योगी ने लौटाई अन्नदाता की खोई हुई मुस्कान !

गौरतलब है कि प्रदेश में 92 फ़ीसदी किसान छोटे व् सीमांत के दायरे में हैं. मीडिया रिपोर्टों की माने तो कुल 62 हजार करोड़ रुपए का कर्ज किसान लौटा नहीं पाए हैं. चुनाव में किये गए वादे के अनुसार सूबे के 1.5 करोड़ किसानों का फसली कर्ज माफ करने का प्रस्‍ताव तैयार किया गया था और मंजूरी के लिए भेजा गया था.

इस प्रस्ताव को मंजूरी के लिए भेजे जाने की जानकारी रविवार को कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने दी थी. आज उसी प्रस्ताव पर योगी सरकार की कैबिनेट की पहली बैठक में फैसला ले लिया गया है. कैबिनेट की पहली बैठक होने से पहले पशुधन, लघु सिंचाई एवं मत्स्य मंत्री एसपी सिंह बघेल ने बताया था कि बीजेपी ने छोटे और लघु किसानों के कर्ज माफ करने का वादा किया था, जिसे जरूर पूरा किया जाएगा.

किसानों के लिये कई अन्य बड़े फैसले भी !

कर्जमाफी के साथ-साथ ही खबर आय है कि प्रदेश के किसानों के लिए अन्य कई बड़े फैसले भी किये गए हैं. कृषि मंत्री के मुताबिक़ योगी सरकार की पूरी कोशिश है कि किसानों की हर संभव मदद हो. किसानों के हिट के लिए गेहूं की सरकारी खरीद का लक्ष्‍य 40 लाख मीट्रिक टन से बढ़ाकर दोगुना यानी 80 लाख मीट्रिक टन कर दिया गया है.

किसानों को गेहूं बेचने के लिए दिक्कतों का सामना ना करना पड़े, इसके लिए हर 5 से 7 किलोमीटर पर एक क्रय केंद्र खोला जाएगा. वहीँ गेंहू का समर्थन मूल्‍य भी 1625 रूपये प्रति क्विंटल कर दिया गया है. ज्यादा मात्रा में किसानों से सरकार गेंहू खरीदेगी इसलिए इसके भंडारण के उचित इंतजाम भी कर लिए गए है. किसानों से खरीदी गई फसल के भंडारण के लिए काफी वक़्त से बंद पड़े गोदाम व पुराने कोल्‍ड स्‍टोरेज को दुरुस्‍त कर लिया गया है.

कृषि मंत्री के मुताबिक़ योगी सरकार ने 2022 तक किसानों की आर्थिक स्थिति में बड़े पैमाने पर सुधार का लक्ष्य तय किया है. किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का पूरा-पूरा लाभ दिलाने के लिए व्यापक स्तर पर कार्य किये जाएंगे. इसी के साथ फसल उत्‍पादन बढ़ाने के लिए हर जिले में मिट्टी की जांच के लिए केंद्र खोले जाएंगे. प्रदेश में मिटी की जांच के लिए अभी तक केवल 30 जांच केंद्र ही हैं.

कुल मिलाकर देखा जाए तो योगी सरकार ने अपना सबसे बड़ा वायदा पूरा कर दिखाया है, जिससे पूरे भारत में उनके नाम की धूम मच गयी है. हर राज्य के लोग उनकी तारीफ़ करते नहीं थक रहे. सोशल मीडिया में भी योगी की लहर चल पड़ी है. लाखों लोग ट्वीट करके उन्हें धन्यवाद अदा कर रहे हैं.

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments