Home > ख़बरें > गुस्से से बुरी तरह भभक उठे सीएम योगी, अपने ही सरकारी विभाग को दिखाए तेवर, सपा में मचा तहलका

गुस्से से बुरी तरह भभक उठे सीएम योगी, अपने ही सरकारी विभाग को दिखाए तेवर, सपा में मचा तहलका

लखनऊ – यूपी में योगी आदित्यनाथ की सरकार बनते ही उन्होंने अपने कड़े तेवर और बेबाक रवैया दिखाना शुरू कर दिया था. लेकिन सिर्फ शुरुआती दिनों में ही नहीं वही तेवर आज भी वो उसी हिम्मत और जोश से दिखा रहे हैं. लेकिन इस बार तो सीएम योगी ने अपने ही सरकारी विभाग के खिलाफ ताबड़तोड़ एक्शन ले लिया.


सीएम योगी को आया गुस्सा, अपने ही विभागों पर कर दी कार्रवाई !

अभी मिल रही बहुत बड़ी खबर के मुताबिक अखिलेश सरकार सीएम योगी को विरासत में सिर्फ मुसीबतें दे गए हैं. अखिलेश सरकार में सरकारी विभाग को इतना ज़्यादा लचर और लापरवाह बना के रख दिया है कि आप भी हैरान रह जायेंगे. खबर के मुताबिक सीएम योगी ने लखनऊ में सरकारी विभागों की ओर से कई महीनों से बिजली का बकाया बिल नहीं जमा करने पर उनके बिजली कनेक्शन काट दिए गए हैं. इन सरकार विभागों के अंदर आरामतलवी और अड़ियलपन इतना ज़्यादा घुस गया है कि इन सरकारी विभागों ने कई महीनों से बिजली के बिल की भुगतान नहीं किया था.

अखिलेश छोड़ गए हैं विरासत में योगी के लिए ये सब

अखिलेश यादव ने योगी सरकार को विरासत में दिया है यूपी का पावर कॉर्पोरेशन विभाग जो बुरी तरह घाटे में डूबा हुआ है. क्यूंकि अकेले सरकारी विभागों पर ही करीब 10,000 करोड़ रुपये का बिजली बिल बकाया है. इस वजह से प्रदेश में बिजली दरें महंगी करनी पड़ती हैं, अगर सरकारी विभागों से बकाया वसूल कर लें, तो प्रदेश में बिजली दरें महंगी कभी नहीं होंगी.

देखिये अखिलेश ने विरासत में योगी सरकार को क्या दिया है, आप खुद अंतर देखिये – सरकारी बकाए में यूपी नंबर एक स्थान पर है. सरकारी विभागों पर कितना बकाया है देखिये – उत्तर प्रदेश8853 करोड़, तेलंगाना- 3561 करोड़, महाराष्ट्र- 3364 करोड़, आन्ध्र प्रदेश 2828 करोड़, केरल 2609 करोड़, जम्मू-कश्मीर 1868 करोड़, कर्नाटक 1880 करोड़, बिहार 610 करोड़. आप अंतर देख सकते हैं यूपी और जम्मू कश्मीर में कितना अंतर है. ऐसी सरकार चला रहे थे सपा 5 साल से.

समाज कल्याण विभाग कर रहा था अपना ही कल्याण

लेकिन फिलहाल जिन दो विभागों पर योगी सरकार ने बिजली के कनेक्शन काटे गए है वो है फोरेंसिक लैब और समाज कल्याण का होस्टल शामिल है. बताया जा रहा है कि फोरेंसिक विभाग पर लगभग 16 लाख, जबकि समाज कल्याण के होस्टल पर करीब 26 लाख रुपये का बिल बकाया है. बताइये ये समाज का कल्याण करेंगे 26 लाख का बिल दबाये बैठे हैं, खुद अनुशासन है नहीं समाज में क्या अनुशासन लाएंगे. ऐसा लगता है ये समाज का कम, अपना ज़्यादा कल्याण करने में लगे थे.


ख़त्म हुई ऐशोआराम की ज़िन्दगी

अब सबसे बड़ा सवाल ये खड़ा होता है कि अगर 10 हज़ार करोड़ से ज़्यादा का बिल नहीं दिया गया तो ये पैसा गया कहाँ, किस-किस की जेब गरम हो रही थी अब तक? और अड़ियलपन की हद देखिये साहब बिजली विभाग ने कई बार नोटिस भी भेजना शुरू किया फिर भी कान पर जू तक नहीं रेंगी. लिहाजा बिजली विभाग ने कड़ी कार्रवाई करते इनके कनेक्शन काट दिए. इससे सभी सरकारी विभागों को सन्देश जाएगा कि उनके अब ऐशोआराम के दिन गए, अब ज़रा सख्ती से पेश आने वाली सरकार आ गयी है.

सीएम योगी ने निकाला समस्या का समाधान

आगे से ऐसी समस्या न कभी खड़ी ना हो, इसका भी समाधान योगी सरकार ने ग़ज़ब का निकाला है, जीएम लेसा आशुतोष कुमार ने बताया कि सभी सरकारी विभागों को सख्त निर्देश दे दिए गए है कि सबसे पहले अपने बकाया बिल चुकाएं, और उसके बाद अपने यहां प्री-पेड मीटर लगवा ले. ठीक मोबाइल फ़ोन की तरह रिचार्ज करिये फोन पर बात करिये, ठीक वैसे ही बिजली मीटर को रिचार्ज करिये, और बिजली पाइये.

जैसा राजा वैसी प्रजा

इससे पहले आपको याद होगा जब कभी अखिलेश सरकार पत्रकारों से वार्ता करते वक़्त या कभी मीटिंग कर रही होती थी तब बिजली कट जाया करती थी, जिससे वे अँधेरे में बैठ कर मीटिंग करते थे और फिर बिजली आ जाया करती थी, जिसका लोग खूब मज़ाक उड़ाया करते थे, लेकिन फिर भी अखिलेश कोई एक्शन नहीं ले पाए, यानि उन्हें सब पता था फिर भी जानबूझ कर एक्शन नहीं लिया गया.

लेकिन कुछ वक़्त पहले खबर आयी थी की सपा पार्टी के प्रमुख मुलायम सिंह यादव के घर का ही बिजली कनेक्शन कटवा दिया गया था. क्यूंकि उन्होंने भी कई महीनों से बिल नहीं दिया था. अब वो कहावत है न “जैसा राजा वैसी प्रजा”, जैसा पार्टी प्रमुख वैसे सरकारी विभाग भी बिना बिजली बिल चुकाए मौज काट रहे थे.


पीएम नरेंद्र मोदी से जुडी सभी खबरें व्हाट्सएप पर पाने के लिए 886 048 9736 पर Start लिख कर भेजें.

यदि आप भी जनता को जागरूक करने में अपना योगदान देना चाहते हैं तो इसे फेसबुक पर शेयर जरूर करें. जितना ज्यादा शेयर होगी, जनता उतनी ही ज्यादा जागरूक होगी. आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं.

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें

फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments