Home > ख़बरें > अयोध्या से लौटते ही सीएम योगी ने सुनाया सबसे कड़ा सरकारी फरमान, हिला दिया पूरा प्रदेश

अयोध्या से लौटते ही सीएम योगी ने सुनाया सबसे कड़ा सरकारी फरमान, हिला दिया पूरा प्रदेश


लखनऊ : देखा जाता रहा है कि अवैध तरीके से देश में रह रहे लोग भारत में ज्यादातर अपराधों को अंजाम देते आये हैं. वोटों के लालच में देश के अलग-अलग राज्यों में बसाये गए ऐसे अवैध लोग, जिनमे अवैध बांग्लादेशी व् अवैध तरीके से देश में घुसे रोहिंग्या मुसलमान भी शामिल है, ना केवल राजनीति को प्रभावित करते हैं बल्कि आपराधिक गतिविधियों में भी लिप्त रहते हैं. यूपी में भी रह रहे ऐसे अवैध लोगों की अब शामत आ गयी है. सीएम योगी ने इनके खिलाफ सख्त एक्शन लेने के आदेश जारी कर दिए हैं.

यूपी में अवैध तरीके से रह रहे लोगों पर होगी अब कार्यवाही

प्रदेश में कानून व्यवस्था को वापिस पटरी पर लाने के लिए और अपराधियों और माफियों पर नकेल कसने के लिए प्रदेश के डीजीपी सुलखान सिंह ने राज्य के तमाम पुलिस अधिकारियों को कड़े निर्देश देते हुए कहा है कि “देखा जा रहा है कि यूपी के बड़े महानगरों में बड़ी संख्या में लोग अवैध तरीके से सड़क किनारे झुग्गी झोपड़ी या तम्बू लगाकर रहने लगते हैं, बाद में इनमें से ही कई लोग अनेक संगीन अपराधों में लिप्त पाए जाते हैं. इन सबके ठिकानों की जांच हो और इनका पहचान पत्र देखें जाए, और जो भी गलत नाम या गलत पते से रहने वाला कोई भी व्यक्ति पाया गया उस पर उचित कार्यवाही करें ”

अपराधियों, माफियों और बाहुबलियों  पर नए कानून के तहत हो कार्यवाही

पुलिस महानिदेशक सुलखान सिंह ने कड़े निर्देश देते हुए कहा है कि अब कोई माफिया या बाहुबली बचना नहीं चाहिए. अब इन जैसों पर कोई रियायत नहीं बरती जाएगी. सुलखान सिंह ने कहा कि गिरोहबंद अधिनियम के तहत अब माफियों पर कड़ी कार्यवाही के साथ साथ उनकी सारी संपत्ति, प्रॉपर्टी जब्त कर ली जाएगी. साथ ही हर जिले में माफियों की लिस्ट तैयार की जायेगी और गुंडा एक्ट, गैंगस्टर एक्ट और या अन लॉफुल एक्टिविटी प्रिवेंशन एक्ट की तरह अब इन माफियाओं के लिए भी अलग एक्ट होगा. इसके बनने से माफियों पर कानून का शिकंजा आसानी से कसा जा सकेगा.


यूपी में पुलिस को खुली छूट, बिना किसी दबाव के करिये सख्त कार्यवाही.

अखिलेश सरकार के वक़्त से पुलिस पर एक दबाव सा रहता था कि किस बाहुबली पर कार्यवाही करें किस पर नहीं. एक दिन पहले ही यूपी पुलिस ने बाहुबली विजय मिश्रा की संपत्ति, और दो बंगलो को सील किया था. बाहुबली विजय मिश्रा अनेकों बार समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ा है. पुलिस ने तब भी इसके बंगले सील किये थे पर ये सभी कानून को ताक पर रखकर मजे से बंगले की सील तोड़कर उसमें रहता था और पुलिस भी कार्यवाही करने से कतराती थी. लेकिन अब सीएम योगी की सरकार में पुलिस को कानून व्यवस्था को सुधारने के लिए पूरी खुली छूट दी गयी है , बिना किसी दबाव के बाहुबलियों के खिलाफ कार्यवाही करने की छूट मिल गयी है. और जो काम नहीं करेगा उसका तुरंत तबादला कर दिया जायेगा, अभी 20 से ज़्यादा आईएएस अफसर 174 पीसीएस अफसर और आईपीएस अफसर साथ ही 63 ट्रेनी डीएसपी के ट्रांसफर कर दिए गए हैं.

प्रदेश में सपा सरकार के वक़्त पुलिस की ढीले और सुस्त बर्ताव के कारण सीएम योगी ने कड़ा रुख अपना लिया है. सीएम योगी आदित्यनाथ ने कुछ वक़्त पहले ही देश की कानून-व्यवस्था को सुधारने के लिए उच्चस्तरीय समीक्षा की गयी थी. इसमें सीएम योगी ने आदेश दिए हैं कि किसी भी पुलिस अधिकारी ने अगर लापरवाही बरती तो उसके खिलाफ कड़ा एक्शन लिया जायेगा.उन्होंने पुलिस की कार्यक्षमता बढ़ाने का आदेश देते हुए कहा कि अपराधियों के विरुद्ध तत्काल कठोर कार्रवाई सुनिश्चित की जाए. सूचना प्राप्त होने पर समय से डायल-100 का वाहन मौके पर न पहुंचने पर सम्बन्धित पुलिस कार्मियों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई करी जाएगी.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments