Home > ख़बरें > लखनऊ में रात 1 बजे योगी ने मंत्रियों को दिए ऐतिहासिक आदेश, दिल्ली में मोदी-शाह की उड़ गई नींद

लखनऊ में रात 1 बजे योगी ने मंत्रियों को दिए ऐतिहासिक आदेश, दिल्ली में मोदी-शाह की उड़ गई नींद

yogi-electricity-in-village

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस वक़्त फुल फॉर्म में नज़र आ रहे हैं. ऐसा लग रहा है कि मानो वो एक मिनट भी आराम करने के मूड में नहीं हैं और चाहे रात हो या दिन, प्रदेश की भलाई में तेजी से लगे हुए हैं. अभी-अभी आयी खबर इतनी हैरतअंगेज है कि देशभर में योगी की तारीफें की जा रही है, साथ ही सोशल मीडिया में भी ये खबर तेजी से वायरल हो रही. खबर है कि योगी के काम करने की तेजी देख दिल्ली में मोदी-शाह तक अचंभित रह गए हैं.

आधी रात को लिए अहम् फैसले !

दरअसल योगी आदित्यनाथ बिलकुल प्रधानमंत्री मोदी की तरह ही काम कर रहे हैं. कल गुरूवार की आधी रात को योगी ने अपने तमाम मंत्रियों व् अधिकारियों के साथ बैठक की और इस बैठक में प्रदेश के हित के लिए कई महत्वपूर्ण फैसले लिए. सीएम योगी आदित्यनाथ ने 14 अप्रैल से जिला मुख्यालय में 24 घंटे और तहसीलों व् गाँवों में 18-18 घंटे बिजली उपलब्ध कराने के आदेश दे दिये हैं. केवल इतना ही नहीं बल्कि इसके साथ-साथ योगी ने निर्देश दिए कि गांवों में शाम 6 बजे से सुबह 6 बजे तक एक मिनट के लिए भी बिजली की कटौती ना की जाए.

100 दिनों के अंदर 5 लाख नये कनेक्शन !

ये तो कुछ भी नहीं, बैठक के बाद सीएम योगी ने बिजली के 5 लाख नये कनेक्शन देने के भी आदेश दे दिए और वो केवल 100 दिनों के अंदर-अंदर. पूरे यूपी को चौबीसों घंटे बिजली देने के अपने वादे को पूरा करने की और पहला और अहम् कदम बढ़ाते हुए योगी ने निर्देश दिए हैं कि सबसे पहले गांवों में अब शाम 6 बजे से सुबह के 6 बजे तक बिना कटौती के बिजली दी जायेगी ताकि दिनभर काम करके थक कर घर लौटे लोगों को चैन की नींद नसीब हो सके और स्कूल से घर आये बच्चे बिजली की रोशनी में पढ़ाई कर सकें.

जेवर एयरपोर्ट को मंजूरी !

केवल इतने पर योगी नहीं रुके, कल रात ही उन्होंने जेवर एयरपोर्ट को भी मंजूरी दे दी है. इसके अलावा राज्य की तमाम सरकारी योजनाओं में से व्यक्ति विशेष के नाम हटा कर केवल “मुख्यमंत्री” नाम जोड़ने का फैसला लिया गया है.

नहीं होगी बिजली की चोरी !

केवल इतना ही नहीं, इसके बाद योगी ने प्रदेश में बिजली चोरी को रोकने के लिए सख्त कदम उठाते हुए अधिकारियों को इसे रोकने की योजना का खाका तैयार करने के भी आदेश दिए हैं. आधी रात को मुख्यमंत्री के कार्यालय में शुरू हुई ये बैठक मुख्य तौर से प्रदेश के विकास से जुड़े फैसले लेने के लिए ही हुई थी, जोकि कल रात तकरीबन 1 बजे तक चली.

24 घंटे उपलब्ध करायी जायेगी बिजली !

आपको बता दें कि योगी सरकार ने लक्ष्य रखा है कि 2018 के अंत तक प्रदेश के हर घर में बिजली कनेक्शन पहुंचा देंगे. इसके साथ ही प्रमुख तीर्थ स्थलों को 24 घंटे बिजली उपलब्ध करायी जायेगी. पांच वर्षों के अंदर-अंदर प्रदेश के हर घर में 24 घंटे बिजली उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा गया है. इसी सन्दर्भ में ऊर्जा मंत्री श्री कांत शर्मा 14 अप्रैल को केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल के साथ महत्वपूर्ण बैठक भी करेंगे. वहीँ प्रदेश को 24 घंटे बिजली मुहैय्या कराने के लिए योगी को केंद्र सरकार की सहायता भी चाहिए होगी, लेकिन जिस तेजी से योगी सब काम कर रहे हैं, उतनी ही तेजी से केंद्र सरकार के नेताओं व् अधिकारियों को भी काम करना पडेगा.

योगी सरकार के मंत्री सिद्धार्थनाथ ने बताया कि 11 अप्रैल को कैबिनेट की दूसरी बैठक होगी. पिछली सरकारों के वक़्त राज्य की योजनाओं पर बेहद धीमी गति से काम हो रहे थे, लेकिन इस बैठक में इस बात पर विशेष ध्यान दिया जाएगा कि कैसे इन योजनाओं पर तेज गति से काम किया जाए ताकि राज्य का विकास तीव्र गति से हो सके.

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments