Home > ख़बरें > आप संडे की छुट्टी मना रहे हैं, वहां योगी ने दिखाए कड़े तेवर और सुना दिया ऐतिहासिक सरकारी फरमान !

आप संडे की छुट्टी मना रहे हैं, वहां योगी ने दिखाए कड़े तेवर और सुना दिया ऐतिहासिक सरकारी फरमान !

yogi-govt-illegal-liquor-death-penalty

लखनऊ : यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने पद संभालते ही अपने सबसे बड़े वायदे को पूरा करते हुए अवैध कत्लखानों पर रोक लगा दी थी. हालांकि इसका प्रदेश के कुछ मीट कारोबारियों ने विरोध भी किया लेकिन फिर भी बेहद सख्त फैसले लेने में माहिर सीएम योगी ने अपने फैसले को नहीं बदला. अब खबर आयी है की सीएम योगी ने ऐसा ही एक और जबरदस्त फैसला लिया है, जिसे देख प्रदेश की जनता और खासतौर पर महिलाओं की ख़ुशी का कोई ठिकाना ही नहीं है.


अवैध शराब बेचने वालों को मिलेगी मौत की सजा !

अवैध कत्लखानों के बाद सीएम योगी अब अवैध शराब को लेकर बेहद सख्त हो गए हैं. खबर है कि प्रदेश में अवैध शराब से होने वाली मौतों को देखते हुए सीएम योगी ने इसपर एक बड़ा फैसला लिया है. योगी सरकार अब एक ऐसा क़ानून बनाने जा रही है, जिससे अवैध और जहरीली शराब पीने से मौत होने पर दोषियों को मृत्युदंड तो मिलेगा ही और साथ ही उन्हें भारी-भरकम जुर्माना भी चुकाना होगा.

बताया जा रहा है की 15 मई से होने जा रहे विधानमंडल के सत्र में इस प्रस्ताव को पास करने का फैसला लिया गया है. राज्यपाल की मंजूरी मिलते ही प्रदेश में संशोधित आबकारी कानून लागू हो जाएगा. उत्तर प्रदेश आबकारी अधिनियम, 1910 अंग्रेजों के वक़्त 107 साल पहले बना था, इसके तहत शराब की तस्करी से लेकर अवैध कच्ची देशी शराब बनाने वालों के लिए कड़ी सजा का प्रावधान ही नहीं है.

आजादी के बाद इतनी सरकारें आयीं और गयीं लेकिन किसी ने अब तक इसके संशोधन के बारे में नहीं सोचा. ढीले-ढाले कानून व् राजनीतिक मिलीभगत के चलते धड़ल्ले से अवैध शराब बनाई और बेची जा रही है. लेकिन योगी सरकार ने इसमें संशोधन लाने का फैसला किया है. अपर मुख्य सचिव आबकारी दीपक त्रिवेदी के मुताबिक़ आबकारी अधिनियम की ऐसी धाराओं में संशोधन किया जा रहा है जिनमें सजा और जुर्माने का प्रावधान है.

भ्रष्ट अफसर भी नहीं बक्शे जाएंगे !

अवैध शराब बनाने वालों को तो सजा होती थी लेकिन मिलीभगत करने वाले अफसर साफ़ बच निकलते थे क्योंकि उनके लिए कोई क़ानून ही नहीं था, लेकिन योगीराज में पुराना ढर्रा नहीं चलेगा. अफसरों का कर्त्तव्य है की वो अपने इलाके में अवैध शराब ना बनने दें, लेकिन यदि फिर भी वो अवैध शराब के कारोबारियों से मिलीभगत रखते हैं और अपने कर्तव्यपालन में हीला-हवाली करते हुए पाए जाते हैं तो उन्हें भी कठोर दंड दिया जाएगा.


क़ानून में संशोधन के जरिये अब यदि अफसरों ने ऐसे ठिकानों में तलाशी तक लेने में जरा भी लापरवाही बरती तो ना केवल ऐसे अफसरों को निलंबित कर दिया जाएगा बल्कि बर्खास्तगी तक हो सकेगी.

मिलावट की, तो एक साल रहना होगा जेल में !

फिलहाल प्रदेश में शराब में मिलावट करके बेचने पर 6 महीने कि जेल और 2000 रुपये का जुर्माना है, जिसे बढ़ाकर 1 साल की जेल और पांच हजार रुपये जुर्माना किया जाएगा. मादक वस्तुओं को रखने की सजा को भी 3 महीने से बढ़ाकर काम से काम 6 महीने की जेल और 2000 रुपये जुर्माने को बढ़ाकर 5000 रुपये किया जा रहा है. मादक वस्तुओं के अवैध आयात और परिवहन पर फिलहाल 5000 रुपये के जुर्माने की सजा है, जिसे बढ़ाकर 10 हजार रुपये तक करने का भी प्रस्ताव है.

इस तरह के अन्य मामलों में भी एक से तीन साल की जेल के साथ 25 हजार तक जुर्माना किये जाने का प्रस्ताव रखा गया है. कंपाउडिंग धनराशि को भी 5000 से बढ़ाकर 10 हजार किया जा रहा है.

कड़ी सजा देने के लिए बनेगी नई धारा !

अवैध शराब बनाने व् बेचने वालों को सख्त से सख्त सजा देने के लिए आबकारी एक्ट में बाकायदा एक नई धारा 60 (क) जोड़कर ऐसा क़ानून बनाया जा रहा है जिससे शराब की तस्करी एवं जहरीली शराब पीकर मौत होने पर दोषियों को मृत्युदंड तक दिया जा सकेगा. 10 लाख रुपये तक का जुर्माना लगाने के साथ-साथ उन्हें आजीवन कारावास की कठोर सजा भी दी जा सकेगी.

सीएम योगी आदित्यनाथ प्रदेश में किसी भी तरह के अवैध काम को होते हुए नहीं देख सकते. उत्तर प्रदेश को अपराध मुक्त करने के लिए वो प्रतिदिन कड़े से कड़े फैसले लेते ही जा रहे हैं. कल गोरखपुर में जनता को सम्बोधित करते हुए उन्होंने मंच से कहा भी था कि प्रदेश में गुंडाराज ख़त्म करके क़ानून राज स्थापित किया जाएगा, जिसे क़ानून राज नापसंद हो वो यूपी छोड़कर चला जाए. मुख्यमंत्री के ऐसे कड़े तेवर देखकर अपराधियों से लेकर भ्रष्ट अधिकारियों तक कि कंपकंपी छूट गयी.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments