Home > ख़बरें > उत्तर प्रदेश में सीएम योगी ने लिया एक और धमाकेदार फैसला, बुरी तरह काँप गयी अपराधियों की रूह

उत्तर प्रदेश में सीएम योगी ने लिया एक और धमाकेदार फैसला, बुरी तरह काँप गयी अपराधियों की रूह


उत्तरप्रदेश : यूपी में योगी सरकार के फैसले लेने की रफ़्तार तो धीमी होने का नाम ही नहीं ले रही है.प्रदेश में जबसे योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री बने हैं तब से एक के बाद एक कड़े फैसले ले रहे हैं जिन पर सख्ती से अमल भी हो रहा है. ताज़ा ख़बरों के मुताबिक अब योगी सरकार ने बिजली चोरी को रोकने के लिए एक बड़ा एलान कर दिया है जिससे बिजली चोरों को 440 वोल्ट का झन्नाटेदार झटका लगने वाला है.

बिजली चोरी पर 5 से 10 साल तक की होगी जेल

बिजली चोरी के लगातार बढ़ते मामलो की संख्या को देखते हुए यूपी में योगी सरकार ने अब एक ऐसा नियम निकाला है जिससे अब अगर किसी ने भी बिजली चोरी करी तो सीधा उसे पांच साल के लिए जेल में डाल दिया जायेगा. यही नहीं अगर वह शख्स दुबारा फिर चोरी करते हुए पकड़ा गया तो उसे 5 नहीं बल्कि 10 साल के लिए जेल में डाल दिया जायेगा.

गुजरात मॉडल पर काम करेगी योगी सरकार

योगी सरकार को यह फैसला इसलिए लेना पड़ा क्यूंकि सिर्फ 2016 में ही अकेले 31 फीसदी बिजली चोरी की रिपोर्ट सामने आयी थी. योगी सरकार में ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा है कि अगर प्रदेश में 24 घंटे बिजली देनी है तो बिजली चोरी पर पूरी तरह सख्ती से लगाम लगानी होगी चाहे कितना भी कड़ा कानून लाना पड़े. इसीलिए योगी सरकार ने अब गुजरात मॉडल की तर्ज़ पर काम करना शुरू कर दिया है. इसके तहत अब बिजली चोरी पर कार्यवाही करने के लिए स्पेशल टीम और स्पेशल थाने बनाये जायेंगे.


दरअसल बिजली विभाग को खुद बिजली चोरी को रोकने में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है. बिजली चोरी के लिए एफआईआर दर्ज़ करने के लिए बिजली विभाग के कर्मचारियों को थाने के चक्कर लगाने में पसीने छूट जाते हैं. अलग अलग थानों में रिपोर्ट दर्ज़ करने में समय की भी बर्बादी होती है. पुलिस थानों में अपने ही इतने कामो में व्यस्त रहती है कि वह बिजली चोरी पर ध्यान नहीं दे पाती है.

इसलिए अब सरकार ने बिजली चोरी रोकने के लिए बिजली थाने खोले जायेंगे, जिनकी व्यवस्था तो पुलिस ही करेगी लेकिन यहाँ सिर्फ बिजली से समन्धित मामले ही निपटाए जायेंगे.शुरुआत में इन्हे 21 जिलों में खोला जायेगा. इन्हे मुख्य रूप से गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर, मेरठ, मुरादाबाद, सहारनपुर में खोले जाएंगे. ये थाने गाजियाबाद से हापुड़, मेरठ से बागपत, मुरादाबाद को अमरोहा, रामपुर, संभल आदि जिलों को जोड़ेंगे.

दिसंबर 2018 तक 84 लाख घरों में बिजली आपूर्ति की जाएगी

यही नहीं अब बकाया बिल भरने के लिए सर्वदा योजना के तहत 10 हज़ार से अधिक बकाया राशि उपभोक्ता को किश्तों में देने की सुविधा मिल सकेगी. साथ ही शहरी और ग्रामीण उपभोक्ताओं का सौ फीसदी सरचार्ज माफ कर दिया गया है. लघु मध्यम उद्योगों का 50 फीसदी सरचार्ज माफ कर सबको राहत दी गयी है. वही दिसंबर 2018 तक योगी सरकार प्रदेश के एक करोड़ 84 लाख घरों में बिजली पहुंचाने और 68 लाख घरों में मीटरिंग का काम पूरा कर लेगी.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments