Home > ख़बरें > राम मंदिर पर मोदी सरकार का बड़ा फैसला, भारत की राजनीति में मची खलबली, सपा की बत्ती गुल

राम मंदिर पर मोदी सरकार का बड़ा फैसला, भारत की राजनीति में मची खलबली, सपा की बत्ती गुल

ram-temple-modi-bjp

भदोही : उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के अंतिम चरण के लिए आज मतदान किया जा रहा है. 11 मार्च को नतीजे आएंगे कि यूपी का सिंहासन किसके नसीब में आएगा. हालांकि पिछले सभी चरणों में वोटरों के रुझान को देखते हुए और पीएम मोदी के रोड शो में लाखों की संख्या में उमड़े जन-सैलाब को देखते हुए बीजेपी भारी मतों से अपनी जीत के लिए आश्वस्त हो गयी है. बीजेपी यूपी में पिछले कई वर्षों से राम मंदिर बनाने का दावा करती आयी है और अब इसे लेकर बीजेपी ने बड़ा ऐलान कर दिया हैं.


अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनाने का ऐलान

बीजेपी नेता योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को अभयनपुर में ऐलान कर दिया कि राज्य में बीजेपी की सरकार आते ही अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण कराया जाएगा. सरकार बनते ही इस सिलसिले में काम शुरू कर दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि बीजेपी जो एक बार जो वादा करती है, उसे जरूर पूरा करती है.

जानकारों के मुताबिक़ यदि ऐसा होता है तो इसका फायदा बीजेपी को अगले लोकसभा चुनाव में पूरे देश में होगा. जानकारों के मुताबिक़ बीजेपी के दावे को खोखला नहीं कहा जा सकता क्योंकि राम मंदिर से पहले ही अयोध्या में राम और रामायण के म्यूजियम बनाने का काम शुरू हो चुका है और इसे बनवाने के लिए भूमि भी आवंटित कर दी गयी है. वहीँ बीजेपी नेता डॉक्टर सुब्रमण्यम स्वामी भी अपने स्तर पर कानूनी रूप से राम मंदिर बनवाने में पूरी ताकत से लगे हुए हैं.

तुष्टिकरण की राजनीति पर प्रहार

योगी आदित्यनाथ ने अखिलेश सरकार पर विकास के नाम पर यूपी की जनता को गुमराह करने के आरोप भी लगाए. उन्होंने कहा कि पिछले 5 सालों में अखिलेश सरकार ने तुष्टिकरण की राजनीति की है. उन्होंने कहा कि अखिलेश सरकार ने तो त्योहारों पर भी भेदभाव किये हैं. योगी आदित्यनाथ ने अखिलेश पर हमला बोलते हुए कहा कि अखिलेश सरकार ने नवरात्र, दीपावली, दुर्गापूजा पर तो डीजे पर भी प्रतिबंध लगवा दिया जबकि ईद की नमाज सड़कों पर पढ़वाई.


उन्होंने कहा कि विकास और राष्ट्रवाद तो बीजेपी की प्रमुखता है. बीजेपी सरकार बनते ही राज्य में तेजी से विकास कार्य किये जाएंगे. उन्होंने पीएम मोदी की तारीफ़ करते हुए कहा कि केवल भारत ही नहीं बल्कि दुनियाभर के नेता मोदी जी को अपना आदर्श मानते हैं.

सपा के घोटालों की जांच होगी

इसके बाद अखिलेश सरकार पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए उन्होंने ऐलान कर दिया कि अखिलेश सरकार में सड़कों के निर्माण में 17000 करोड़ के घोटाले हुए हैं और बीजेपी सरकार बनाते ही इसकी जांच शुरू कर देगी और दोषियों को सख्त सजा दी जायेगी. योगी आदित्यनाथ ने अखिलेश पर जबरदस्त हमला बोलते हुए कहा कि जिस प्रकार हिन्दू समाज के लोग अपने बच्चों का नाम कंस या रावण नहीं रखते, ठीक उसी प्रकार से आने वाले वक़्त में कोई बाप अपने बेटे का नाम अखिलेश नहीं रखेगा.

कुलमिलाकर योगी आदित्यनाथ और बीजेपी के अन्य नेताओं के विश्वास को देखकर साफ़ लगने लगा है कि बीजेपी को यकीन है कि वो ही चुनाव जीत कर यूपी में सरकार बनाने जा रही है और बीजेपी ने सरकार आने के बाद किये जाने वाले कामों की लिस्ट अभी से बनानी शुरू कर दी है.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments