Home > ख़बरें > सीएम योगी ने खोला अपना वो राज जिसे सुनकर आंखों में आएंगे आंसू, लेकिन सीना हो जाएगा चौड़ा !

सीएम योगी ने खोला अपना वो राज जिसे सुनकर आंखों में आएंगे आंसू, लेकिन सीना हो जाएगा चौड़ा !

yogi-aditynath-ramdev-modi

लखनऊ : बाबा रामदेव के योग महोत्सव में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी शामिल हुए. योग महोत्सव में लोगों को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने योग से जुडी कई बातें बतायीं. अपने संबोधन में योगी कुछ ऐसी बातें भी कह गए, जिसने उनकी जिंदगी के कई सच जनता के सामने आये. ऐसे सच जिन्हें सुनकर किसी की भी आँखों में आंसू छलक आएँगे लेकिन गर्व से सीना चौड़ा भी हो जाएगा कि यूपी को इतना महान मुख्यमंत्री मिला है.


योगी के संबोधन की कुछ ख़ास बातें –

संबोधन देते हुए योगी ने कहा कि योग महोत्सव में आना उनका सौभाग्य है. सीएम योगी बोले कि लोग योगी को भीख नहीं देते, लेकिन प्रधानमंत्री और जनता ने मुझे पूरा यूपी ही सौंप दिया. उन्होंने बताया कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने अचानक उन्हें बताया कि कल उन्हें सीएम बनना है. जब उन्हें ये बात पता चली उस वक़्त उनके पास केवल एक ही जोड़ी कपड़े थे.

उन्होंने कहा कि मेरे जैसे योगी के बारे मे लोग तरह-तरह की बाते कर रहे हैं. उन्होंने पीएम मोदी का जिक्र करते हुए कहा कि उन्होंने पीएम मोदी से सकारत्मकता सीखी. इसके बाद योगी ने ऊतर प्रदेश के भविष्य को लेकर भी कई बड़ी बात कहीं. उन्होंने लोगों को भरोसा दिलाया कि वो यूपी के हिट के लिए बड़े-बड़े फैसले लेने से भी नहीं हिचकिचाएंगे. इसके साथ ही यूपी की समस्याओं के बारे में बताते हुए योगी बोले, कि वो यूपी की भी बीमारियों को अच्छी तरह से जानते है और वो उनका इलाज करेंगे.

प्रदेश का भविष्य उज्जवल हो सके इसके लिए उन्होंने सही दिशा में कदम उठाने शुरू भी कर दिए हैं. उन्होंने कहा कि प्रदेश से नकारात्मकता को ख़त्म करना उनका मूल उद्देश्य है. योग और मातृभूमि के बारे में योगी ने कहा कि जननी और जन्मभूमि का स्थान तो स्वर्ग से भी बढ़कर है. यदि हम जननी और जन्मभूमि से जुड़े रहेंगे तो कोई हमें रोक नहीं सकता.


योग पर बोले योगी !

उन्होंने पिछली सपा सरकार पर हमला करते हुए कहा कि पहले नेता संकीर्ण सोच के साथ काम करते थे. योगी ने योग दिवस के बारे में बात करते हुए कहा कि 21 जून को हर भारतीय का सर गर्व से ऊंचा हो जाता है लेकिन कुछ लोगों का योग में नहीं बल्कि भोग में विश्वास है. उन्होंने कहा कि स्वामी रामदेव ने योग को जन-जन तक पहुचाया, इसके साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को योग को सारी दुनिया में पहुचाने का श्रेय भी दिया.

पिछली सरकारों पर हमला करते हुए योगी बोले कि 2014 से पहले देश में योग की बात सांप्रदायिकता थी. अब वो योग को जन-जन तक पहुंचाने का काम करेंगे. उन्होंने स्पष्ट किया कि योग किसी जाति ,लिंग और उम्र का मोहताज नहीं. योग से बहुत बड़ी क्रांति आ सकती है. योग से हर समस्या का समाधान किया जा सकता है. योगी ने कहा कि सूर्य नमस्कार और नमाज की मुद्राएं एक जैसी होती हैं.

कुल मिलाकर योग महोत्सव में योगी ने ना केवल अपने जीवन से जुडी कुछ सच्चाइयों से लोगों को अवगत करवाया बल्कि अपना आगे का अजेंडा भी स्पष्ट किया और साथ ही पिछली सरकारों की नाकामियों के बारे में बताते हुए ये भी बताया कि वो उन समस्याओं से कैसे निपटेंगे.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments