Home > ख़बरें > गुस्से में आये योगी आदित्यनाथ ने सुनाया ऐतिहासिक सरकारी फरमान, खुश होकर बोले मोदी- शाबाश

गुस्से में आये योगी आदित्यनाथ ने सुनाया ऐतिहासिक सरकारी फरमान, खुश होकर बोले मोदी- शाबाश

yogi-adityanath-bans-pan-masala

लखनऊ : यूपी के नए-नवेले मुख्यमंत्री पूरे जोशो-खरोश से प्रदेश में फैली अंधेरगर्दी को ख़त्म करने में जुट गए हैं. वो एक के बाद एक धाकड़ फैसले करके सबको चौंकाते जा रहे हैं. इसी क्रम में आज उन्होंने ऐसा फरमान सुना दिया है, जिसे सुन कई सरकारी अधिकारियों की हवाइयां उडी हुई हैं.

सरकारी दफ्तरों में पान मसाला-गुटका बैन !

दरअसल आज सचिवालय एनेक्सी में पंहुचते ही योगी ने कुछ ऐसा देखा जिसे देख कर उनका क्रोध सातवे आसमान पर पहुच गया. योगी ने वहां जगह-जगह फैली हुई पान और गुटखे की पीक देखी, जिसे देखते ही उनका माथा ठनक गया और उन्होंने फ़ौरन सरकारी दफ्तरों में पान, पान मसाला और गुटखा खाने पर प्रतिबन्ध लगा दिया.

उनके इस फैसले की देशभर में तारीफ़ की जा रही है. लोग कह रहे हैं कि राज्य में स्वच्छता कैसे फैलेगी जब सरकारी अधिकारी अपने दफ्तरों में ही गन्दगी फैलाते रहेंगे. दरअसल यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव का दफ्तर सचिवालय एनेक्सी में हुआ करता था. योगी आदित्यनाथ का दफ्तर उसके ठीक सामने लोकभवन की बिल्डिंग में होगा.

पीएम मोदी की तरह योगी भी हैं सफाई पसंद !

ये बिल्डिंग अभी हाल ही में बन कर तैयार हुई है. सचिवालय एनेक्सी में चीफ सेक्रेट्री और होम सेक्रेट्री के अलावा प्रशासन के कई अन्य महत्वपूर्ण दफ्तर भी हैं. ऐसी बिल्डिंग जहाँ इतने बड़े-बड़े सरकारी अधिकारियों के दफ्तर हों वहां इतनी गदंगी? ये सब योगी से सहन नहीं हुआ और उन्होंने पान-गुटखा खाने वाले अधिकारियों को जमकर डाट लगाई और साथ ही इस पर पाबंदी भी लगा दी.

आपको बता दें कि सफाई पसंद योगी ने अभी हाल ही में लोकभवन के ऑडिटोरियम में सभी सीनियर अधिकारियों के साथ मीटिंग में उन्हें साफ-सफाई रखने के लिए शपथ भी दिलाई थी. इस शपथ में ये शर्त भी रखी गयी थी कि स्वच्छता की ये शपथ लेने वाला हर अधिकारी 100 अन्य लोगों को भी इसकी शपथ दिलाएगा और हर हफ्ते दो घंटे सफाई के लिए श्रम दान भी करेगा.

ऐसा नहीं है कि योगी सीएम बनने के बाद सफाई पसंद हो गए हैं बल्कि वो हमेशा से स्वच्छता को पसंद करते आये हैं. वहीँ पीएम मोदी भी बेहद सफाई पसंद हैं, पीएम मोदी ने भी 2014 लोकसभा चुनाव जीतने के बाद बनारस में अपनी पहली जनसभा में भाषण के दौरान बनारस के लोगों से गंदगी नहीं करने और पान खाकर सड़क पर नहीं थूकने का वादा लिया था.

यानी योगी पूरी तरह से पीएम मोदी के नक़्शे-कदम पर चलते हुए दिखाई दे रहे हैं. ऐसे में यूपी के लोगों में उम्मीद जागने लगी है कि योगी के राज में यूपी का विकास भी गुजरात की ही तरह होगा और जल्द ही यूपी भी मुम्बई, दिल्ली, बंगलुरु की तरह से समृद्ध राज्य बन जाएगा.

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments