Home > ख़बरें > यूपी से आयी बड़ी खबर ने सियासत में मचाई जोरदार खलबली, हैरान रह गए पीएम मोदी भी !

यूपी से आयी बड़ी खबर ने सियासत में मचाई जोरदार खलबली, हैरान रह गए पीएम मोदी भी !

narendra-modi-up

लखनऊ : यूपी विधानसभा में बीजेपी ने ऐसा शानदार प्रदर्शन किया जिसकी गूँज सिर्फ देश में ही नहीं बल्कि विदेशों तक में सुनाई दी. प्रचंड बहुमत से बीजेपी की जीत को देखकर विरोधी भी सन्न रह गए, बसपा सुप्रीमों मायावती को तो यकीन ही नहीं हुआ कि कई मुस्लिम बहुल इलाकों में भी बीजेपी ने जीत हासिल की और उन्होंने तो ईवीएम पर ही सवाल खड़े कर दिए.


बीजेपी के कई वादों जैसे कि तीन तलाक को ख़त्म करना और किसानों की कर्जमाफी को इस ऐतिहासिक जीत की वजह माना गया. लेकिन अब बीजेपी पर इन वादों को पूरा करने के लिए भारी दबाव पड़ने लगा है. इसे लेकर दो बड़ी ख़बरों ने बीजेपी में हलचल मचा दी है.

मुस्लिम बहनों की भाई मोदी से अपील !

सबसे पहली खबर आ रही है सहारनपुर से, पीएम मोदी के तीन तलाक के बयान से खुश होकर बीजेपी को वोट देने वाली आतिया साबरी ने बाकायदा पीएम मोदी को चेतावनी दे डाली है. उन्होंने कहा है कि उन्होंने बीजेपी को केवल तीन तलाक को ख़त्म करने के मुद्दे पर ही वोट दिया है, इसलिए पीएम मोदी को अब ये कुप्रथा ख़त्म करनी ही पड़ेगी.

गौरतलब है कि 2012 में आतिया की शादी हुई थी और उनकी दो बेटियां हैं. उनके मुताबिक़ लगातार दो बेटियों के जन्म के कारण उनके पति और ससुराल वाले उनसे नाराज थे और उन्हें घर से निकालना चाहते थे. पहले तो उनके ससुराल वालों ने उन्हें जहर खिलाकर मारने की कोशिश की, लेकिन उसमे असफल रहने पर पिछले साल उनके पति ने एक कागज पर तीन बार तलाक लिखकर उनसे तलाक ले लिया.


आतिया के मुताबिक़ पीएम मोदी से उम्मीदें रखकर उन्होंने और उनके पूरे परिवार ने बीजेपी के पक्ष में मतदान किया. उन्होंने सबूत के तौर पर VVPAT से निकली पर्ची को दिखाते हुए पीएम मोदी से तीन तलाक को जल्द से जल्द ख़त्म करने की अपील की.

किसानों की कर्जमाफी के लिए दबाव !

दूसरी खबर राष्ट्रीय किसान मंच की ओर से आयी है, जहाँ मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष शेखर दीक्षित ने पीएम मोदी से किसानों की कर्जमाफी का उनका वादा पूरा करने की मांग करते हुए कहा कि पीएम मोदी की जिम्मेदारी बनती है कि वो प्रदेश में बीजेपी सरकार के गठन के बाद होने वाली पहली बैठक में ही अपने इस वादे को पूरा कराएं. उन्होंने कहा कि यदि पीएम मोदी की ये बात एक जुमला साबित हुई तो किसान उन्हें कभी माफ़ नहीं करेंगे.

कुल मिलाकर देखा जाए तो यूपी सरकार के बनने से पहले ही पीएम मोदी और बीजेपी पर उनके वादों को पूरा करने का दबाव आना शुरू हो चुका है. मुस्लिम महिलाओं और किसानों के वोटों से कई सीटों पर बहुमत तक पहुची बीजेपी को अब उनकी आशाओं पर खरा उतरने के लिए कमर कस के काम करने होंगे.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments