Home > ख़बरें > ब्रेकिंग- पीएम मोदी को लेकर डोनाल्ड ट्रंप ने किया बड़ा ऐलान, फटी रह गयीं चीन-पाकिस्तान की आँखें

ब्रेकिंग- पीएम मोदी को लेकर डोनाल्ड ट्रंप ने किया बड़ा ऐलान, फटी रह गयीं चीन-पाकिस्तान की आँखें

Narendra-Modi-trump-jinping-meet

नई दिल्ली : पीएम मोदी की इमेज ही कुछ ऐसी है, उनके काम करने का तरीका, उनकी कूटनीति की सारी दुनिया मुरीद है. पाकिस्तान को छोड़कर, सभी आज भारत से दोस्ती करना चाहते हैं. ये बात तो किसी से छिपी नहीं है कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी पीएम मोदी को अपना अच्छा दोस्त मानते हैं और उनसे खासे प्रभावित हैं. ट्रंप ने पीएम मोदी को लेकर एक बड़ा ऐलान किया है, जिसकी चर्चा दुनियाभर में की जा रही है.


भारत नहीं आएंगे ट्रंप, फिर भी पीएम मोदी से करेंगे मुलाकात

शुक्रवार को व्हाइट हाउस ने ऐलान किया कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप नवंबर में एशिया का दौरा करेंगे. अपने इस दौरे में अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप 4 देशों में जाएंगे, जिनमे चीन भी शामिल है. हालांकि उनके इस दौरे में भारत का नाम शामिल नहीं है, यानी वो भारत नहीं आएंगे. इसके बावजूद पीएम मोदी से वो मुलाक़ात जरूर करेंगे.

दरअसल चीन और भारत के बीच हाल ही में उठे विवाद के बाद यदि राष्ट्रपति ट्रंप चीन जाते और भारत नहीं तो दुनिया में एक अलग सन्देश जाता. इसीलिए ट्रंप ने पीएम मोदी से अलग से मिलने का प्लान बना लिया. मनिला में होने वाली आसियान समिट से इतर वह पीएम मोदी से मुलाकात करेंगे.


चीन के साथ-साथ सारी दुनिया को ट्रंप का स्पष्ट सन्देश

मनिला में पीएम मोदी भी जाएंगे हालांकि अभी तक भारत सरकार की और से इसकी औपचारिका घोषणा नहीं हुई है. मगर ये तय है कि पीएम मोदी से डोनाल्ड ट्रंप जरूर मिलेंगे और साफ़ कर देंगे कि अमेरिका और भारत की दोस्ती अटूट है, कोई इसके बीच नहीं आ सकता. मनिला में दोनों नेताओं की मुलाकात, दोनों के बीच तीसरी मुलाकात होगी.

बता दें कि इससे पहले पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच वाशिंगटन और जर्मनी में मुलाकात हो चुकी है. अमेरिका भारत के एक बड़े रक्षा सहयोगी के रूप में सामने आया है. भारत और अमेरिका की दोस्ती ट्रंप के आने के बाद से एक नए मुकाम पर पहुंच गयी है. चीन के बढ़ते खतरे को देखते हुए अमेरिका के लिए ये जरूरी भी है कि वो भारत के साथ नजदीकी बढाए.

भारत ना आते हुए भी पीएम मोदी से मुलाक़ात का ये फैसला कूटनीति के लिहाज से एक बड़ा फैसला माना जा रहा है. दुनिया को साफ़ सन्देश है कि भारत कितना महत्वपूर्ण है कि अमेरिकी राष्ट्रपति भारत ना आते हुए भी अपने दोस्त मोदी से मिलने के लिए वक़्त निकाल ही लेंगे.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments