Home > ख़बरें > आसमान से बरसी मिसाइलें, साथियों समेत पाकिस्तान के सबसे खूंखार आतंकी की बिछ गयी लाशें

आसमान से बरसी मिसाइलें, साथियों समेत पाकिस्तान के सबसे खूंखार आतंकी की बिछ गयी लाशें

usa-attack-drone

नई दिल्ली (13 फरवरी) : पाकिस्तान की नापाक हरकतों के खिलाफ भारत और अमेरिका, दोनों ही देश एक्शन में हैं. जहाँ एक ओर भारत की सेना एलओसी पर पाक सेना को मुहतोड़ जवाब दे रही है और उसकी सैन्य चौकियों को लगातार ध्वस्त करती जा रही है. वहीँ अमेरिकी सेना ने तो पाकिस्तानी आतंकियों को पाकिस्तान में घुसकर मारना शुरू कर दिया है. दुनिया के सबसे ताकतवर देश ने पाकिस्तान तालिबान के सबसे खतरनाक आतंकवादी को मौत की नींद सुला दिया है.


मारा गया पाक तालिबान का सबसे खूंखार नेता

ये बात अब किसी से छिपी नहीं है कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई आतंकवादियों को संरक्षण देती है. दरअसल आईएसआई ही सभी आतंकी संगठनों को चलाती है, हाफ़िज़ व् अन्य आतंकी आका तो केवल नाम के लीडर हैं. ये आतंकी एक तरह से आईएसआई का मुखौटा हैं. इनके पीछे छिपकर आईएसआई आतंकियों के जरिये भारत और अफगानिस्तान में प्रॉक्सी वॉर यानी छद्म युद्ध चलाती है.

हालांकि पाकिस्तान ने चेतावनी दी थी कि कोई भी उसकी सीमा में घुसने की हिम्मत ना करे, मगर दुनिया के सबसे ताकतवर देश को रोकने की ना तो उसमे ताकत है और ना ही हिम्मत. अमेरिकी सेना ने पाकिस्तान में छिपे आतंकियों को ठोकना शुरू कर दिया है. खबर है कि अमेरिकी सेना ने ड्रोन हमला करके पाकिस्तान तालिबान के उपनेता खालिद महसूद को मार दिया है.

पाकिस्तान में घुसकर किया ड्रोन हमला

ताजा जानकारी के मुताबिक़ खालिद महसूद जिसे सजना नाम से भी जाना जाता था, पाकिस्तान के नॉर्थ वजीरीस्तान में मारा गया है. यह इलाका पाकिस्तान सीमा के करीब स्थित है. पाकिस्तानी सुरक्षा अधिकारियों ने बताया कि महसूद की मौत पिछले सप्ताह हुई है.

टीटीपी प्रवक्ता मोहम्मद खुरासानी ने कहा, ‘हम इस बात की पुष्टि करते हैं कि टीटीपी का डेप्युटी हेड खालिद महसूद ड्रोन हमले में मारा गया है.’ प्रवक्ता ने बताया कि पाकिस्तानी तालिबान मुखिया मुल्ला फजलुल्लाह ने मुफ्ती नूर वली वली को नया डेप्युटी बनाया है.


उसने पाकिस्तानी पंजाब के फैसलाबाद शहर के मदरसे में पढ़ाई की है. हाल ही में उसने बैतुल्लाह महसूद की तारीफ करते हुए एक किताब लिखी है. महसूद ने ही पाकिस्तान तालिबान की स्थापना की थी.

पाकिस्तान के खिलाफ सख्त अमेरिकी सेना

साफ़ जाहिर है कि अमेरिकी सेना ने पाक आतंकियों को ठोकने का निश्चय किया हुआ है और पाकिस्तान की चेतावनी के बावजूद अमेरिकी सेना ना केवल उसकी सीमा के अंदर घुस रही है, बल्कि उसके आतंकी ठिकानों पर मिसाइलों से हमले भी कर रही है.

बता दें कि पिछले महीने अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में बम धमाके में 100 लोगों के मारे जाने के बाद अमेरिका ने सख्त कार्रवाई की वॉर्निंग दी थी. अमेरिका ने कहा था, तालिबान ने काबुल में हमला कर 100 बेकसूर लोगों की जान ले ली. हम दुनिया से अपील करते हैं कि वो हमारा साथ दे, तालिबान की जहां भी पनाहगाह मौजूद हैं। उन्हें अमेरिका खत्म करेगा.

अमेरिका ने चेतावनी देते हुए कहा था कि इन आतंकियों की जहां भी पनाहगाहें मौजूद हैं, उन्हें खत्म किया जाएगा. अमेरिका ने हाल ही में पाकिस्तान में ड्रोन हमले किए हैं. माना जा रहा है कि अमेरिका अब पाकिस्तान में इस तरह के हमले ज्यादा करेगा.


यदि आप भी जनता को जागरूक करने में अपना योगदान देना चाहते हैं तो इसे फेसबुक पर शेयर जरूर करें. जितना ज्यादा शेयर होगी, जनता उतनी ही ज्यादा जागरूक होगी. आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं.


सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल

हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें

फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments

2016 DD Bharti |