Home > ख़बरें > सीएम योगी आदित्यनाथ ने सीएम हाउस में किया गृह प्रवेश, देखिये कौन बना योगी का पहला मेहमान ?

सीएम योगी आदित्यनाथ ने सीएम हाउस में किया गृह प्रवेश, देखिये कौन बना योगी का पहला मेहमान ?

yogi_ramdev

नई दिल्ली : नवरात्र के पावन मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने सरकारी आवास 5 कालिदास मार्ग में गृह प्रवेश किया. पद की शपथ लेने के बाद से वो एक ववीआईपी गेस्ट हाउस में रह रहे थे और वहीँ से अपना कार्यभार संभाल रहे थे. योगी के मुख्यमंत्री बनते ही सबसे पहले सीएम के सरकारी आवास का शुद्धिकरण किया गया और आज वो उसमे रहने चले गए.


बाबा रामदेव बने पहले मेहमान !

आपको बता दें कि योगी ने सीएम हाउस में प्रवेश शुभ मुहूर्त और नक्षत्रों को ध्यान में रखते हुए किया. सीएम हाउस में उनके शिफ्ट होते ही सबसे पहले स्वामी रामदेव योगी से मिलने पहुचे. दोनों के बीच काफी देर तक बातचीत चली. रिपोर्ट्स के मुताबिक़ ये एक शिष्टाचार मुलाकात थी जिसमे स्वाम रामदेव ने योगी को सीएम बनने के लिए बधाई दी और साथ ही उम्मीद जताई कि वो प्रदेश को विकास की नई ऊंचाइयों पर ले जाएंगे.

गौरतलब है कि सीएम हाउस में नवरात्र के मौके पर पूजा की गयी जिसमे गोरखनाथ मंदिर के पुजारियों के साथ-साथ खुद योगी ने भाग लिया. सीएम हाउस से चमड़े से बनी सभी चीजों को हटा कर लकड़ी का फर्नीचर और तख्त रखा गया है. सबसे ख़ास बात ये रही कि इस पूजा में गोरखपुर से आई गाय भी शामिल हुई.


सन्यासियों की तरह रहेंगे योगी !

गौरतलब है कि योगी नवरात्र के 9 दिन तक व्रत रहते हैं इसलिए पूजा और सीएम हाउस में प्रवेश के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ अपने मंत्रियों और विधायकों के साथ फलाहार करेंगे. योगी के साथ करीब-करीब 150 लोग फलाहार के इस कार्यक्रम में शिरकत करेंगे. इसी के साथ खबर ये भी आ रही है कि योगी अष्टमी मनाने के लिए गोरखपुर जा सकते हैं.

सीएम हाउस में योगी से पहले पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव रहते थे. बताया जाता है कि अखिलेश के वक़्त में सीएम हाउस में महंगी क्रॉकरी, बर्तन और फर्नीचर मंगवाए गए थे लेकिन योगी के सीएम बनते ही सारा माहौल सात्विक हो गया. महंगे सोफों को हटाकर जमीद पर बैठने की व्यवस्था की गई है. बेडरूम से महँगे डबल बेड और ऐसी को हटाकर लकड़ी के तख्त लगाए गए हैं.

विदेशी क्रॉकरी व् बर्तनों को हटाकर तांबे और कांसे के बर्तनों की व्यवस्था की गयी है. यानी सीएम हाउस का हाल भी कुछ मठ जैसा हो गया है. जैसे मठ में योगी सन्यासियों की तरह रहते थे, ठीक वैसे ही सीएम हाउस में भी वो सन्यासियों की तरह ही रहेंगे और अपने कड़े फैसलों द्वारा प्रदेश को विकास की नयी-नयी ऊंचाइयों पर ले जाएंगे.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments