Home > ख़बरें > यूपी निकाय चुनाव में जीत के बाद राम मंदिर को लेकर बीजेपी का बड़ा ऐलान, मुस्लिम संगठन हक्के-बक्के

यूपी निकाय चुनाव में जीत के बाद राम मंदिर को लेकर बीजेपी का बड़ा ऐलान, मुस्लिम संगठन हक्के-बक्के

ram-temple-ayodhya

नई दिल्ली : यूपी निकाय चुनाव में प्रचंड जीत से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ समेत सभी बीजेपी नेता गदगद हैं. बीजेपी की जीत के बाद अब अयोध्या में बाबरी मस्जिद विध्वंस की बरसी से कुछ ही दिन पहले राम मंदिर मुद्दा गर्म होता दिखाई दे रहा है. बीजेपी ने तो जनता से वादा किया ही था कि वो ट्रिपल तलाक ख़त्म करेंगे और राम मंदिर जरूर बनाएंगे. इनमे से एक वादा तो पूरा हो चुका है और राम मंदिर के वादे को लेकर अब बीजेपी के वरिष्ठ नेता ने बड़ा ऐलान कर दिया है, जिससे जनता में ख़ुशी की लहर दौड़ गयी है.


राम मंदिर में मनाएंगे अगली दिवाली

बीजेपी के वरिष्ठ नेता और सांसद डॉक्टर सुब्रमण्यन स्वामी ने दावा किया है कि अयोध्या में जल्द ही राम मंदिर का निर्माण शुरू होगा और यह भक्तों के लिए अगली दिवाली तक खुल भी जाएगा. स्वामी ‘रामराज्य’ पर एक भाषण दे रहे थे, उसी दौरान उन्होंने दावा करते हुए कहा कि, ‘हम आनेवाली दिवाली राम मंदिर में मनाएंगे.’

बता दें कि कुछ ही दिन बाद बाबरी मस्जिद विध्वंस की बरसी भी है. अपने भाषण में स्वामी ने कहा कि, ‘यह संभव है कि अयोध्या में अगले साल अक्टूबर तक राम मंदिर लगभग बनकर तैयार हो जाए. क्योंकि सब कुछ तैयार है और निर्माण कार्य के लिए सारा सामान पहले ही बना लिया गया है. इनको सिर्फ आपस में स्वामी नारायण मंदिर की तरह जोड़ने की जरूरत है.’

सुन्नी वक्फ बोर्ड के पास नहीं बची कोई दलील

स्वामी ने रामजन्मभूमि बाबरी मस्जिद मामले की 5 दिसंबर को होने वाली सुनवाई से पहले कहा, ‘इलाहाबाद हाईकोर्ट पहले ही मामले में काफी गहराई तक गौर कर चुका है और सुन्नी वक्फ बोर्ड के पास इसके खिलाफ दलील देने को कुछ भी बचा नहीं है.’


उन्होंने कहा, ‘मैंने एक अतिरिक्त दलील दी है कि उस स्थान पर प्रार्थना करना मेरा और हिंदू समुदाय का मूलभूत अधिकार है. मुस्लिमों को वो अधिकार नहीं है, उनकी रूचि केवल संपत्ति में है, यह एक सामान्य बात है.’ बीजेपी नेता स्वामी ने दावा किया कि राम मंदिर निर्माण के लिए देश में एक नया कानून बनाने की कोई जरूरत नहीं है.

अगले लोकसभा चुनाव में होगा बड़ा फायदा

उन्होंने दावा किया कि ‘तत्कालीन नरसिंह राव सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में दायर एक हलफनामे में कहा था कि यदि यह स्थापित हो जाता है कि उस स्थान पर एक मंदिर था तो जमीन मंदिर के निर्माण के लिए दे दी जाएगी. वो अब साबित हो गया है.’

यानी यदि 5 दिसंबर में होने वाली सुनवाई में इसे लेकर फैसला हो जाता है तो मंदिर निर्माण तेजी के साथ हो जाएगा. वीएचपी कार्यकर्ताओं व् अन्य राम भक्तों ने रात-दिन राम मंदिर में इस्तमाल होने वाली निर्माण सामग्री ना केवल जमा कर ली है बल्कि पत्थर तराशने का काम भी किया जा चुका है. बीजेपी यदि 2019 से पहले अपना ये वादा भी पूरा कर लेती है, तो अगले लोकसभा चुनाव में प्रचंड जीत हासिल करना आसान हो जाएगा.


पीएम नरेंद्र मोदी से जुडी सभी खबरें व्हाट्सएप पर पाने के लिए 783 818 6121 पर Start लिख कर भेजें.

यदि आप भी जनता को जागरूक करने में अपना योगदान देना चाहते हैं तो इसे फेसबुक पर शेयर जरूर करें. जितना ज्यादा शेयर होगी, जनता उतनी ही ज्यादा जागरूक होगी. आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं.


सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें

फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments