Home > ख़बरें > यूपी में सपा कार्यकर्ताओं का एक और कारनामा, उड़ा दिए अखिलेश यादव के होश

यूपी में सपा कार्यकर्ताओं का एक और कारनामा, उड़ा दिए अखिलेश यादव के होश

akhilesh-yadav-bjp-supporters

लखनऊ : यूपी चुनाव में वैसे तो ऐसे कई प्रकरण हुए जिनके बारे में किसी ने कल्पना तक नहीं की थी. पहले चाचा-भतीजे की लड़ाई और उसके बाद अखिलेश ने अपने पिता मुलायम को भी पार्टी अध्यक्ष पद से हटा कर खुद को अध्यक्ष घोषित कर लिया. लेकिन अब यूपी से एक ऐसी खबर आ रही है जो समाजवादी पार्टी के लिए बड़ा झटका है.


समाजवादी पार्टी के ही कुछ कार्यकर्ताओं ने अब बीजेपी और पीएम मोदी के पक्ष में नारे लगाने शुरू कर दिए हैं. यूपी में कुछ लोगों ने नारे लगाने शुरू कर दिए कि “नहीं सहेंगे डिंपल भाभी से छेड़छाड़, अबकी बार मोदी सरकार”. उनसे बात करने पर उन्होंने बताया कि वो खुद सपा के कार्यकर्ता हैं और वो इस तरह से गुंडागर्दी और छेड़छाड़ से बेहद शर्मिन्दा हैं इसलिए वो मोदी सरकार के पक्ष में नारे लगा रहे हैं.

दरअसल समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता अपनी गुंडागर्दी के लिए मशहूर हैं. इसी मुद्दे को लेकर पीएम मोदी भी अखिलेश यादव को घेरते रहे हैं. लेकिन सभी हदें तो तब पार हो गयीं जब कुछ सपा कार्यकर्ताओं ने इलाहबाद में एक जनसभा के दौरान अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव के साथ भी छेड़छाड़ और अभद्र व्यवहार कर दिया.


डिंपल की इलाहाबाद में जनसभा के दौरान सपा के युवा कार्यकर्ता आपे से बाहर हो गए थे और उन्होंने काफी हंगामा और हुल्लड़बाजी कर डाली. इसे देख डिंपल यादव काफी नाराज हो गई और उन्‍होंने कहा, “आप लोग चिल्‍लाते हो, मुझे डर लगता है, इसलिए प्‍लीज शांत… शांत…”. इतना कहने पर भी जब सपा कार्यकर्ताओं ने हंगामा बंद नहीं किया तो उन्होंने कहा, “कल अखिलेश भैया आ रहे हैं… तब… बस तुम्‍हारा ही नाम बताने वाली हूं. अच्‍छा कमाल है… मतलब हां… कहां से ट्रेनिंग पाई है. अनुशासन में नहीं है आप, बहुत बुरी बात है”

अभद्रता और हंगामे का ये मामला अखिलेश यादव के पास तक पहुंच गया, जिसके बाद जब एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान उनसे इस बारे में पूछा गया तो अखिलेश ने कहा कि, “देवरों को डांट दिया तो क्‍या हुआ”. हालांकि सपा के कुछ कार्यकर्ता अखिलेश के इस बयान से संतुष्ट नहीं हैं. उनके मुताबिक़ अखिलेश को ऐसे लोगों को पार्टी से निकाल देना चाहिए था क्योंकि इससे अखिलेश की छवि भी खराब हो रही है.

वहीँ सोशल मीडिया पर भी लोगों ने इस बारे में अपनी प्रतिकिर्याएं देनी शुरू कर दी है. यूपी की लचर क़ानून व्यवस्था पर प्रश्न खड़े करते हुए लोगों ने कहा कि जब यूपी मुख्यमंत्री की पत्नी डिंपल यादव तक के साथ छेड़छाड़ हो सकती है वो भी भरी सभा में, तो आम महिला यूपी में कैसे सुरक्षित रह सकती हैं? वहीँ कई लोगों ने कहा कि जब घर के मुखिया मुलायम बलात्कार जैसे संगीन अपराध पर खुद ही कहते हैं कि लड़कों से गलती हो जाती है तो घर की बेटी के साथ लड़के ऐसे ही व्यवहार करेंगे ये बात तो डिंपल को पता होनी चाहिए. यूपी में कई लोगों का कहना है कि भाभी जी बस कुछ ही दिनों की बात और है, उसके बाद बीजेपी की सरकार में आप को डर नहीं लगेगा.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments