Home > ख़बरें > अभी-अभी : पाकिस्तान पर सऊदी अरब के धमाके से दुनियाभर में हड़कंप, पाक मुस्लिम रोये खून के आंसू

अभी-अभी : पाकिस्तान पर सऊदी अरब के धमाके से दुनियाभर में हड़कंप, पाक मुस्लिम रोये खून के आंसू

saudi-defence-minister-pakistan-slave

नई दिल्‍ली : दुनियाभर में पाकिस्तान की बेज़्ज़ती होने का सिलसिला थमने का नाम ही नहीं ले रहा है. एक तरफ पाकिस्तान के पीएम नवाज़ शरीफ खुद काले धन और पनामा पेपर्स जैसे मामले में खतरे में हैं. वहीँ अभी पाकिस्तान को दुनियाभर में हार से ज़लालत झेलनी पड़ी, जब वो भारत से कुलभूषण मामले में ICJ ने पाक पर फांसी न देने की रोक लगा दी थी. ये तो कुछ नहीं है इस बार जो पाकिस्तान की इतनी घनघोर बेज़्ज़ती हुई है, कि पाक में रहने वाले अब किसी को मुँह दिखाने के लायक नहीं रह पाएंगे.

पाकिस्तान और वहां के सारे लोग अरब के गुलाम हैं ?

अभी हाल ही में वाशिंगटन में अमेरिकी थिंक टैंक की चर्चा के दौरान पाकिस्तान का जमकर मज़ाक उड़ा था, जब पाक अधिकारियों ने कहा कि उनके देश में एक भी आतंकवादी संगठन नहीं है, इसके बाद वहां बैठे सभी विदेशी अधिकारी ज़ोर ज़ोर से हसने लगे थे. अभी अभी सऊदी ख़बरों के मुताबिक सऊदी अरब के रक्षा मंत्री और प्रिंस “मोहम्‍मद बिन सुलेमान” ने पाकिस्तान का बहुत बड़ा कड़वा सच सुना दिया है. प्रिंस सुलेमान ने कहा है कि पाकिस्तान और वहां के सारे लोग अरब के गुलाम हैं.उन्होंने कहा कि असल में मोहम्‍मद के असली वंशज उनके देशवासी हैं ना कि पाकिस्तानी. वे पाकिस्तान को इस्लामिक देश भी नहीं मानते. यही नहीं पाकिस्तान ही नहीं, बांग्लादेश के नागरिक भी मुस्लिम नहीं हैं.

असल मायने में पाकिस्तान और बांग्लादेश के लोग मुस्लिम ही नहीं है ?

इसके बाद सऊदी अरब के रक्षा मंत्री प्रिंस सुलेमान यही नहीं रुके, उन्होंने कहा कि पाकिस्तान और बांग्लादेश के लोग मुस्लिम नहीं बल्कि ये वो लोग हैं जो हिंदू धर्म छोड़कर मुस्लिम धर्म को अपनाएं है,  इसलिए ये सच्चे मुस्लिम नहीं हैं. ख़बरों के मुताबिक उन्होंने पाकिस्तान के लोगों को “कनवर्टेड मुस्लिम” और अरब देश के गुलाम तक कह के पाकिस्तान की इज्जत मटियामेट कर दी.

प्रिंस सुलेमान भारत पाकिस्‍तान और बांग्‍लादेश के मुसलमानों को अल हिंदी-मुस्‍कीन कहते हैं. इसका मतलब है कि वह दोयम दर्जे के मुस्लिम हैं. अरब में यह सोचना सिर्फ प्रिंस का ही नहीं बल्कि वहां की सारी जनता ये बात मानती है.तभी अरब में पाकिस्तानियों को नौकरी में सबसे नीचे वाली पोस्ट दी जाती है. टॉप पोस्ट पर सिर्फ अरब मुस्लिम रहते हैं.पाकिस्तान के लिए सऊदी प्रिंस के यह बयान वास्‍तव में ही काफी तकलीफ देने वाले होंगे.

पीएम नवाज़ बिना किसी बुलावे के क़तर और अरब में समझौता करवाने चले गए थे

ऐसा कहकर सऊदी अरब के रक्षा मंत्री प्रिंस सुलेमान ने पाकिस्‍तान को आइना दिखा दिया है. पाकिस्तान अपने आपको भले ही इस्लामिक देश बताता रहे लेकिन दुनिया भर में इस्लामिक देशों में पाकिस्तान की क्या जगह है ये सऊदी के प्रिंस ने दिखा दिया है.ये हाल तब है जब पाक पीएम नवाज़ बिना किसी बुलावे के क़तर और सऊदी अरब में मध्यस्थता करवाने चले गए थे.

नवाज़ शरीफ को अरब में भाषण देने का मौका इसीलिए नहीं दिया गया था

यही नहीं इसे पहले भी अमेरिका-सऊदी बिजनेस सम्‍मेलन के दौरान पाकिस्तान के पीएम नवाज़ शरीफ ने घंटों अपने भाषण की तैयारी करी, लेकिन उन्हें सऊदी अरब में बोलने का मौका ही नहीं दिया गया. वहीँ पाक के लाख चाहने के बाद भी अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने नवाज़ से हाथ तक नहीं मिलाया और अभी पाक में चीनी नागरिकों की हत्या की वजह से चीन के राष्ट्रपति ने भी हाथ नहीं मिलाया.

रक्षा विशेषज्ञ अनिल कौल का मानना हैं कि सऊदी प्रिंस के इस तरह के बयान ने पाकिस्‍तान को उसकी हकीकत दुनिया भर को दिखा दी है. हालांकि उन्‍होंने कहा कि पाकिस्‍तान के लोग अपने को अरबी बताते हैं लेकिन अरब उन्हें कुछ भी नहीं मानते हैं.

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments