Home > ख़बरें > अभी-अभी : मोदी के साथ पुतिन ने भी बोला पाकिस्तान पर हमला, एक ही दिन में उतार दी सारी हेकड़ी

अभी-अभी : मोदी के साथ पुतिन ने भी बोला पाकिस्तान पर हमला, एक ही दिन में उतार दी सारी हेकड़ी

putin-modi-nawaj

नई दिल्ली : पीएम मोदी इन दिनों रूस की यात्रा पर हैं. रूस के साथ भारत के कई बेहद अहम समझैते हुए हैं, साथ ही S-400 मिसाइल सिस्टम की डील भी हुई है. वहीँ पिछले दिनों पाकिस्तान रूस के साथ अपने संबंधों को लेकर शेखी बघारने में व्यस्त था. पाकिस्तानी मीडिया ने कहा था कि रूस भारत को छोड़कर पाकिस्तान के साथ बेहतर सम्बन्ध स्थापित कर रहा है. लेकिन आज रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने खुद ऐसी बात कह दी है, जिसे सुनकर पाकिस्तान सरकार के मुँह पर जोरदार तमाचा पड़ा है, वहीँ पाक मीडिया का भी रो-रो कर बुरा हाल हो गया है.

भारत के साथ विश्वास का रिश्ता, पाकिस्तान के साथ करीबी सैन्य संबंध नहीं

दरअसल रूस के राष्ट्रपति व्लादीमिर पुतिन ने कहा है कि भारत के साथ रूस का रिश्ता विश्वास पर आधारित है और कई संवेदशील क्षेत्रों में भारत जैसा उसका कोई सहयोगी है ही नहीं. भारत को अपने ‘सबसे करीबी दोस्तों’ में से एक बताते हुए पुतिन ने कहा कि पाकिस्तान व् अन्य देशों के साथ रूस के संबंधों का भारत के साथ दोस्ती पर कोई असर नहीं होगा.

पाकिस्तान के साथ रूस के सैन्य संबंधों के बारे में पुतिन ने यहां तक कह दिया कि पाकिस्तान के साथ रूस के करीबी सैन्य संबंध हैं ही नहीं. पुतिन के इस बयान के बाद से पाकिस्तान में हड़कंप मच गया है. पाक मीडिया इसे नवाज सरकार की नाकामी बता रही है और पीएम मोदी की तारीफों के गुण गा रही है.

भारत के साथ अटूट सम्बन्ध

दुनियाभर के पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए पुतिन बोले, ‘भारत के अलावा पूरी दुनिया में कोई ऐसा देश नहीं है जिसके साथ मिसाइल जैसे संवेदनशील क्षेत्रों में रूस का इतना ‘गहरा सहयोग’ हो.’ पुतिन ने आतंकवाद पर टिपण्णी करते हुए भी कहा कि जहां से भी आतंकवाद का खतरा आएगा, वह स्वीकार्य नहीं होगा और रूस आतंकवाद से लड़ाई में भारत को पूरा समर्थन करेगा.’

पाकिस्तान के साथ रूस के संबंधों को लेकर पूछे गए प्रश्न के जवाब में पुतिन ने कहा कि ये सोचना हास्यास्पद है कि भारत अन्य सहयोगी देशों के साथ अपने संबंधों को केवल इसलिए सीमित कर ले क्योंकि रूस के साथ उसके घनिष्ठ सम्बन्ध हैं. पुतिन ने स्पष्ट किया कि पाकिस्तान के साथ रूस के गहरे सैन्य संबंध नहीं हैं. इसके साथ ही उन्होंने आश्वासन दिया कि पाकिस्तान के साथ रूस के जो भी थोड़े-बहुत रिश्ते हैं, उनका असर भारत और रूस के बीच होने वाले व्यापार पर नहीं पड़ेगा.

भारत के साथ अपने अटूट रक्षा संबंधों के बारे में बताते हुए पुतिन ने कहा कि भारत 100 करोड़ से ज्यादा की आबादी वाला एक बहुत बड़ा देश है. रूस भी बहुत बड़ा देश है. भारत और रूस दोनों के ही बीच द्विपक्षीय हितों के कई मुद्दे हैं. रूस भारत के सभी हितों का पूरा सम्मान करता है. क्या रूस पाकिस्तान पर कश्मीर में आतंकवाद रोकने के लिए दबाव डालेगा, इस सवाल के जवाब में पुतिन ने कहा कि रूस आंतकवाद के खिलाफ लड़ाई में हमेशा भारत का समर्थन करेगा.

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments