Home > ख़बरें > कांग्रेस को लेकर हुआ एक और चौकाने वाला खुलासा, हैरत में पड़ जाएंगे आप

कांग्रेस को लेकर हुआ एक और चौकाने वाला खुलासा, हैरत में पड़ जाएंगे आप

robort-vadra-congress-president

नई दिल्ली : लगातार नाकाम होने के कारण कांग्रेस अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी संभालने से राहुल गांधी बचते नज़र आ रहे हैं. लेकिन इसी बीच परिवार के दामाद रॉबर्ट वाड्रा ने पार्टी अध्यक्ष पद अपना दावा ठोंक दिया है. सूत्रों के मुताबिक़ कांग्रेस के अंदर अब चर्चा हो रही है कि सोनिया गांधी के बाद रॉबर्ट वाड्रा पार्टी का अगला अध्यक्ष बनना चाहते हैं। हालांकि अभी तक ये साफ नहीं है कि क्या उनके दावे को सोनिया या राहुल का भी समर्थन हासिल है। इस मुद्दे पर प्रियंका गांधी का रुख भी अभी स्पष्ट नहीं है.


राजनीति में सक्रिय दामाद जी

फिलहाल वाड्रा राजनीति को लेकर काफी सक्रिय दिखाई दे रहे हैं, पिछले कुछ दिनों में दामाद जी ने मोदी सरकार को लेकर फेसबुक पर कई पोस्ट डालीं हैं. सोमवार को अपनी एक पोस्ट में उन्होंने नोटबंदी को लेकर मोदी सरकार पर हमला बोल दिया. उन्होंने कहा कि बैंकों और सरकार के बीच तालमेल की कमी है.

बीजेपी का पलटवार

रॉबर्ट वाड्रा के इन हमलों पर बीजेपी ने भी पलटवार कर दिया है. केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू ने ट्वीट करके कहा कि वैसे तो रॉबर्ट वाड्रा राजनीति में आने के लिए उतावले हो रहे हैं, लेकिन कांग्रेस पार्टी की आवाज वो पहले ही बन गए हैं.

बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने भी उन पर चुटकी लेते हुए एक ट्वीट कर दिया, उन्होंने कहा कि राहुल गांधी बाहर हैं तो लगता है रॉबर्ट वाड्रा ने पार्टी के कार्यवाहक अध्यक्ष का पद संभाल लिया है.

राहुल की गैरहाजिरी में संभालते है कमान

अब पार्टी में सवाल उठने लग गए हैं कि रॉबर्ट वाड्रा अक्सर तभी क्यों सक्रिय हो जाते हैं जब राहुल गांधी गैरमौजूद होते हैं. इस वक़्त भी राहुल विदेश यात्रा पर हैं और रॉबर्ट वाड्रा के बयान आने शुरू हो गए हैं. उनके इन्ही बयानों को कहीं न कहीं राहुल की जगह लेने की कोशिश माना जा रहा है.


पार्टी ज्वाइन करने के लिए तैयार

लोकसभा चुनाव के वक्त रायबरेली के एक कार्यक्रम में तो उन्होंने कह भी दिया था कि पार्टी यदि उन्हें कोई जिम्मेदारी देती है तो उसे निभाने में उन्हें खुशी होगी. जिसके बाद कांग्रेस पार्टी को बाकायदा एक बयान जारी करके इस बारे में सफाई देनी पड़ गयी थी. इस बात की भी चर्चा जोरों पर है कि कहीं ना कहीं रॉबर्ट वाड्रा को लगता है कि राहुल गांधी के शादी ना करने की स्थिति में पार्टी के वारिस उनके और प्रियंका के बेटे-बेटी ही होंगे. इसी के चलते दामाद जी अपने बेटे रेहान को कई दफा अमेठी और रायबरेली की सैर पर भी भेज चुके हैं.

रॉबर्ट वाड्रा या रॉबर्ट गांधी?

हालांकि अभी तक ये बात स्पष्ट नहीं है कि यदि वो पार्टी अध्यक्ष बन जाते हैं तब भी क्या वो वाड्रा ही रहेंगे या गांधी सरनेम रख लेंगे? उनके बच्चों के नाम भी वाड्रा रहेंगे या वो भी गांधी बन जाएंगे जैसे इंदिरा गांधी ने फ़िरोज़ खान से शादी की और फ़िरोज़ खान “फ़िरोज़ गाँधी हो गए”?

अब आपकी बारी

यदि दामाद जी पीएम पद की दौड़ में शामिल हो जाते हैं अगली बार, तो क्या आप उन्हें वोट देंगे? अपनी राय आप कमेंट द्वारा शेयर कर सकते हैं.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments