Home > ख़बरें > सुरक्षा बलों को सरकार का एक हफ्ते का मोदी-मेटम, कश्मीर में लानी होगी शान्ति

सुरक्षा बलों को सरकार का एक हफ्ते का मोदी-मेटम, कश्मीर में लानी होगी शान्ति

army in kashmir

नई दिल्ली। घाटी मे पिछले २ महीनों से फैली हिंसा थमने का नाम ही नहीं ले रही है। पिछले २ महीनों से कश्मीर के स्कूल तथा कॉलेज भी बंद हैं जिससे बच्चों की पढाई का भी काफी नुक्सान हो रहा है। मोदी सरकार अब सख्त रुख अपना रही है। आज गृहमंत्री राजनाथ सिंह नें सुरक्षाबलों को कड़े निर्देश देते हुए कहा है की वो 7 दिनों के अंदर कश्मीर मे शान्ति बहाल करें। गृहमंत्री नें सेना को हिंसा फैलाने वालों के खिलाफ सख्ती से पेच आने के लिए कहा है। गौरतलब है की रविवार को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल तथा सेना के बड़े अधिकारियों के साथ गृहमंत्री की बैठक हुई थीं जिसमें उन्होंने सेना को सख्त रुख अपनाने को कहा।

हिज्बुल मुजाहिदीन कमांडर बुरहानी वानी के मारे जाने के बाद से ही कश्मीर सुलग रहा है। सुरक्षाबलों पे पथराव तथा राष्ट्रीय संपत्ति की आगजनी जैसी घटनाए भी बंद नहीं हो रही। जिसके कारण सामान्य जन जीवन अस्त व्यस्त है। घाटी में हो रही हिंसा से कारोबार भी ठप्प है। घाटी मे इस समय सेब के लिए पीक सीजन है लेकिन हिंसा के कारण सेब व्यापारियों को काफी नुक्सान उठाना पड़ रहा है। हिंसा के कारण ट्रकों की आवाजाही ना के बराबर है जिसके कारण सेब की फसल बर्बाद हो रही है। और सबसे मुख्य बात ये है की वो व्यापारी भी कश्मीरी मुस्लिम ही हैं। अपने आप को मुसलमानों का मसीह कहने वाले पकिस्तान और कश्मीरी अलगाववादियों के कारण कश्मीर के सामान्य मुसलमान सबसे ज्यादा त्रस्त हैं।

गौरतलब है की सरकार नें अलगाववादियों से बात करने की कोशिश भी की थीं पिछले दिनों मगर उन्होंने सरकार से बात करने के लिए इनकार कर दिया था। अब बहुत हो चुका, एक ओर तो सरकार नें अलगाववादियों को दी जा रही सभी सरकारी सुविधाएं को बंद करने का निश्चय कर लिया है और दूसरी ओर अब हिंसा फैलाई तो उनके खिलाफ सख्ती बरतने के आदेश भी दे दिए हैं।

अब आपकी बारी

मोदी सरकार के लिए जा रहे इस फैसले के बारे मे आपके क्या विचार हैं? अपने विचार हमें कमेंट द्वारा बतायें। कमेंट बॉक्स इस पास के अंत मे दिया गया है।

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments