Home > ख़बरें > पीएम मोदी की मुहिम को मिला राजस्थान हाईकोर्ट का साथ, देश की राजनीति में मची ज़ोरदार खलबली

पीएम मोदी की मुहिम को मिला राजस्थान हाईकोर्ट का साथ, देश की राजनीति में मची ज़ोरदार खलबली

राजस्थान : अभी हाल ही में मोदी सरकार ने मवेशियों की खरीद-फरोख्त पर प्रतिबन्ध लगाया था. जिसके अनुसार पशु क्रूरता निरोधक अधिनियम के तहत सख्त ‘पशु क्रूरता निरोधक (पशुधन बाजार नियमन) नियम, 2017’ को अधिसूचित किया है. जिस नियम के विरोध में कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं ने बीच सड़क गाय के बछड़े को काट कर पार्टी कर ली. और वही दूसरी और वामपंथी छात्र संगठन एसएफआई ने और आईआईटी मद्रास के सत्तर से अस्सी छात्रों ने गौ मांस की पार्टी रक्खी थी. साथ ही मद्रास के हाई कोर्ट ने भी मोदी सरकार के इस फैसले पर रोक लगा दी थी.

जबकि अब राजस्थान हाईकोर्ट ने मोदी सरकार के पक्ष में खड़े होकर ऐसा ज़बरदस्त आदेश दिए हैं जिससे वामपंथी संगठनों के होश उड़ जायेंगे.

राजस्थान हाईकोर्ट : गोहत्या पर हो उम्रकैद, गाय बने राष्ट्रीय पशु

जी हाँ ख़बरों के मुताबिक अभी अभी राजस्थान हाई कोर्ट ने मोदी सरकार से आग्रह किया है कि गाय को जल्द से जल्द राष्ट्री पशु घोषित कर दिया जाय. राजस्थान के कोर्ट ने यह भी कहा है कि मोदी सरकार कानून में बदलाव करे और सख्त कानून बनाये जिसके तहत गोहत्या के मामले में उम्रकैद की सजा दी जाय. अभी तक गोहत्या में सिर्फ तीन साल की सजा का ही प्रावधान है जिससे लोगों में डर नहीं बन रहा है. जज महेश शर्मा ने यह फैसला सुनाया है जब पिछले साल अगस्त के महीने में राज्य की राजधानी जयपुर से मात्र 35 किमी दूर हिंगोनिया गौशाला से 500 गायों के मरने की खबर सामने आयी थी.

हर वेद में गाय को पवित्र माना गया है.

राजस्थान हाई कोर्ट के जज महेश शर्मा ने आगे कहा है कि गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित करने के लिए अगर कोई शख्स पीआईएल दाखिल करता है तो हाई कोर्ट उसका स्वागत करेगी और उसे राजस्थान हाई कोर्ट सकारात्कता के साथ सुनेगा. जज महेश शर्मा ने आगे उदहारण देते हुए कहा कि जिस तरह से उत्तराखंड में गंगा को सजीव मानव का दर्जा दिया गया है उसी तरह गाय तो एक जीवित पशु है जिसके दूध से लेकर हर तरह के प्रोडक्ट्स लोगों के लिए अमृत सामान हैं. हर वेद में गाय को पवित्र माना गया है ऐसे में गाय को अब कानूनी तौर पर राष्ट्रिय पशु बनाना ही होगा.

राजस्थान की कोर्ट का ये आदेश तब आया है जब पशु बाजार में मवेशियों की बिक्री पर मोदी सरकार ने रोक लगा दी है. जिसका विरोध कर्नाटक के सीएम से लेकर सीएम माता बनर्जी भी कर रही है उनका कहना है कि हम क्या खाएं ये हमारी मन मर्ज़ी है . इससे हमारे मुस्लमान भाइयों की भावनाएं आहत हो रही हैं. ऐसा ही विरोध प्रदर्शन आईआईटी मद्रास में भी हुआ. वहां पर बीफ फेस्‍ट के आयोजन के बाद एक छात्र सूरज की कुछ छात्रों ने जम कर पिटाई कर दी. सूरज को इस प्रकार पीटा गया कि जिसके बाद सूरज के गाल में फ्रैक्चर और आँख में गहरा जख्म हो गया है. यह सूरज वही छात्र है जिसने पुरे कॉलेज कैंपस के छात्रों को गौ मांस की पार्टी दी थी.

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments