Home > ख़बरें > गुजरात चुनाव से पहले राहुल गाँधी के बारे में हुआ सनसनीखेज खुलासा, सियासी गलियारों में हाहाकार

गुजरात चुनाव से पहले राहुल गाँधी के बारे में हुआ सनसनीखेज खुलासा, सियासी गलियारों में हाहाकार

rahul-gandhi-land-grab

अमेठी : दशकों से गरीबी हटाने के नाम पर चुनाव जीते आ रहे गाँधी परिवार ने अमेठी का क्या हाल बना कर छोड़ा है, ये देखकर आपके होश उड़ जाएंगे. विकास तो बहुत दूर, उलटा अमेठी के लोगों की जमीन हड़पने से भी संकोच नहीं किया इन फर्जी गांधियों और उनके ठगबंधन ने. खुलासा हुआ है कि राजीव गांधी चैरिटेबल ट्रस्ट के नाम पर राहुल गाँधी ने अमेठी के गरीब किसानों की जमीन तक हड़प ली है.


राहुल गाँधी ने हड़पी अमेठी में किसानों की जमीन

कांग्रेस किस हद तक नीचता पर उतर सकती है, ये देख आपका दिमाग भन्ना जाएगा. दरअसल अमेठी के किसानों ने फैक्ट्री लगवाने के लिये राज्य सरकार को अपनी जमीन दी थी. उन्हें लगा कि वो हर बार गाँधी परिवार को वोट देते हैं तो शायद ये वहां विकास करेंगे. मगर उन्हें क्या पता था कि ये फर्जी गाँधी उनकी जमीन तक खा जाएंगे.

अमेठी के किसानों के मुताबिक़, उनसे जमीन लेते वक़्त उन्हें आश्वस्त किया गया था कि इस जमीन पर सिर्फ फैक्ट्री चलेगी और अमेठी के लोगों को रोजगार मिलेगा. उसके बाद यहाँ “सम्राट साइकिल” नाम से एक छोटी सी फैक्ट्री शुरू भी की गयी. मगर कुछ ही वक़्त बाद इस फैक्ट्री को बंद कर दिया गया और राहुल गांधी की अगुवाई वाले राजीव गांधी फाउंडेशन ने जमीन को हड़प लिया.

सोनिया का बेटा और दामाद दोनों ही जमीन चोर?

मुख्यमंत्री योगी ने अमित शाह और स्मृति की मौजूदगी में आयोजित समारोह में ऐलान किया कि ‘सम्राट साइकिल के नाम पर राजीव गांधी चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा जमीन हड़पने की जो साजिश हो रही है, उसे हम कभी कामयाब नहीं होने देंगे. ये पुराने संस्कार हैं, कहीं पर दामाद जमीन हड़पे और कहीं पर पुत्र ही जमीन हड़पने का कार्य करे. यह उत्तर प्रदेश में तो नहीं चल पाएगा.’

इस मामले के दोषियों को सख्त सजा दी जायेगी. सीएम योगी का स्पष्ट इशारा कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद राबर्ट वाड्रा और पुत्र राहुल गांधी की तरफ था. सीएम योगी ने सख्त लहजे में कहा कि किसानों की जमीन पर या तो उद्योग लगेगा, या फिर वह किसानों को वापस की जाएगी. इसको हम किसी फाउंडेशन या किसी परिवार की बपौती नहीं बनने देंगे.


राजीव गाँधी के नाम पर अरबों का गबन

योगी गाँधी परिवार के गाल पर तमाचा लगाते हुए कहा कि, ‘कांग्रेस आखिर 55-60 वर्षों तक इस देश में क्या करती रही. आखिर यह फाउंडेशन (ट्रस्ट) किस काम में लगा हुआ है. फाउंडेशन पर सरकार सैंकड़ों हजारों करोड़ रुपये खर्च करती रही, यह पैसा जाता कहां था?’

गुजरात में राजनीति के लिए जनता के सामने नौटंकी कर रहे राहुल गाँधी ने आज तक अमेठी में कुछ विकास तो किया नहीं, उलटा वहां की जमीन ही हड़प ली. आखिर किस मुँह से वो वोट मांगने चले भी जाते हैं, इन लोगों को तो शर्म तक नहीं आती.

राहुल गाँधी ने पार की बेशर्मी सभी हदें

किसानों की भलाई करने का झूठ बोलने वाले राहुल गांधी ने अमेठी में अपनी अगुवाई वाले राजीव गांधी ट्रस्ट द्वारा जब्त की गयी काश्तकारों की जमीन अब तक वापस नहीं की है. सबसे ज्यादा हैरानी की बात तो ये है कि यूपी की योगी सरकार ने इस बात के लिए आर्डर तक दिया हुआ है कि राहुल गाँधी द्वारा हड़पी गयी ये जमीन उत्तर प्रदेश सरकार को वापस की जाए, राहुल का कब्जा किसानों की जमीन से हटाया जाए.

लेकिन इससे प्रभावित किसान कह रहे हैं कि आज तक किसानों को राहत का भाषण देने वाले राहुल ने खुद किसानों की जब्त की गई जमीन नहीं लौटाई है. बेहद हैरानी की बात है कि किसानों की जमीन हड़पने वाले राहुल गाँधी, गुजरात में किसानों की भलाई का ढोंग कर रहे हैं. अमेठी की हालत बाद से बदतर करने वाले, राहुल गाँधी मोदी के विकास पर सवाल उठा रहे हैं. इन कोंग्रेसियों ने तो मानो शर्म तक बेच खायी है.


यदि आप भी जनता को जागरूक करने में अपना योगदान देना चाहते हैं तो इसे फेसबुक पर शेयर जरूर करें. जितना ज्यादा शेयर होगी, जनता उतनी ही ज्यादा जागरूक होगी. आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं.

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें

फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments