Home > ख़बरें > अभी-अभी – पीओके में पाकिस्तान ने करी तानाशाही कार्यवाही, कश्मीरी मुस्लिमों के भी उड़े होश !!!

अभी-अभी – पीओके में पाकिस्तान ने करी तानाशाही कार्यवाही, कश्मीरी मुस्लिमों के भी उड़े होश !!!

नई दिल्ली : पकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर पीओके में पाक फ़ौज की बर्बरता हद से ज़्यादा आगे निकल चुकी है. पीओके के लोगों का कहना है कि जबरन पाक फ़ौज उनके बीवी बच्चों को उठा का ले जाती है और शोषण करती है. सालों से पीओके में पाकिस्तान वहां के लोगों पर अत्याचार कर रहा है. लेकिन मानवाधिकारों के कान पर जूँ तक नहीं रेंगती. इस बीच पीओके पर ऐसा खुलासा हुआ जिससे पाकिस्तान अच्छे से जल-भुन गया है.


पाकिस्तान देश के लिए काफी वक़्त से कुछ भी सही नहीं हो रहा है. एक तरफ अमेरिका ने हज़ारो करोड़ों की फंडिंग बंद करवा दी है और आतंकियों को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पाकिस्तान को आतंकियों का स्वर्ग बताया है तो वही खुद नवाज़ शरीफ करोड़ों के घोटाले में पीएम की कुर्सी से गिरा दिए गए हैं. इसके बाद अब पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में पाक्सितान के खिलाफ अवाम जाग उठी है और उन्होंने पाक फ़ौज के खिलाफ अपनी आवाज़ बुलंद कर ली है.

पाकिस्तान ने जनता का गला घोंट दिया

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पाकिस्तान की मौजूदा लंगड़ी लूली सरकार ने पाक अधिकृत कश्मीर (POK) के सबसे बड़े और प्रसिद्ध उर्दू दैनिक अखबार को बंद करके जनता का गला घोटने का आदेश दिया है. इस अखबार का सबसे बड़ा दोष था कि इसने पीओके में एक जनमत संग्रह करवाकर वहां के लोगों से पूछा था कि क्या आप पाकिस्तान हुकुमत के अंतर्गत रहना चाहते हैं? जिसके जवाब में 73 फीसदी से ज़्यादा लोगों ने कहा कि वे पाकिस्तान के अत्याचारों से प्रताड़ित हैं और उसके अवैध कब्जे से आजादी चाहते हैं.


दैनिक उर्दू अखबार का सील करा दिया दफ्तर

बस इस जनमत संग्रह की आवाज़ लोगों तक पहुंचने लगी. जिससे पाकिस्तान को मिर्ची लग गयी. अंतरार्ष्ट्रीय स्तर पर बेज़्ज़ती होने के कारण तिलमिलाए पाकिस्तान ने तानाशाही अंदाज़ में कड़ी कार्यवाही करते हुए दैनिक उर्दू अखबार को बंद करवा दिया और दफ्तर को सील करवा दिया गया. दरअसल इस जनमत के बाद उग्रवादी कट्टरपंथी ताकतों, पाकिस्तान सेना और स्थानीय प्रशासन में हंगामा शुरू हो गया था. फिर से पोल न खुल जाए इसलिए जनता की आवाज़ दबा दी गयी.

बहरा हुआ मानवाधिकार आयोग

ऐसे वक़्त में अंतराष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग जिनका रोहिंग्या मुस्लिम के प्रति प्रेम उमड़ रहा है उन्हें पीओके में क्या हो रहा है इसके प्रति अपना दोगला व्यवहार कभी दिखता ही नहीं है. आपको बता दें पाक सेना सरे आम लोगों को पीओके में मार रही है लोगों के मौलिक अधिकार उनसे छीन लिए गए हैं. जो आवाज़ उठता है उसे या तो मार दिया जाता है या वो लापता हो जाता है.

पाक फ़ौज ने पीओके में अनेक आतंकवादी ट्रेनिंग सेंटर खोल रखे हैं. यही नहीं पाक की BAT फ़ौज में शामिल ही उन आतंकवादियों को किया जाता है जो कट्टरता की हदें पार कर चुके हो. यही फ़ौज पीओके में भी अपना आतंक मासूम बच्चों और औरतों पर बरपाते हैं. मासूम बच्चों को जिहादी आतंकी बनाया जाता है. अभी तक जिसने भी पाकिस्तान के खिलाफ आवाज़ उठायी उसका सरेआम कत्लेआम कर दिया गया है. कई पीओके के नेता लापता हो गए हैं इन्होने पाकिस्तान के खिलाफ आवाज़ उठायी थी.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments