Home > ख़बरें > योगी ने दिए आदेश तो यूपी एसटीएफ ने छेड़ी आर-पार की लड़ाई, देशभर के अपराधियों में हड़कंप !

योगी ने दिए आदेश तो यूपी एसटीएफ ने छेड़ी आर-पार की लड़ाई, देशभर के अपराधियों में हड़कंप !

up-stf-petrol-pump-scam

नई दिल्ली : यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पद की शपथ लेते ही प्रदेश में क़ानून व्यवस्था दुसरुस्त करने का संकल्प लिया था और इसके लिए प्रशासन को सख्त निर्देश भी जारी किये थे. योगी ने अपराधियों को सख्त चेतावनी भी दी थी कि या तो वो आपराधिक गतिविधियां ख़त्म करके सुधर जाएँ वरना यूपी छोड़ कर चले जाएँ. अब खबर आ रही है कि केवल उत्तर प्रदेश ही नहीं बल्कि योगी की पुलिस तो अन्य राज्यों में बैठे अपराधियों तक को नहीं बक्श रही है.

पुणे, ठाणे में छापेमारी, दो गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश के पेट्रोल पंप स्कैम में यूपी एसटीएफ को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. यूपी एसटीएफ को पता चला कि इस स्कैम के तार अन्य राज्यों तक भी फैले हैं, जिसके बाद बिना देर किये जानकारियों के आधार पर यूपी एसटीएफ ने इस स्कैम से जुड़े दो लोगों को पुणे और ठाणे में बीती रात छापे मार कर गिरफ्तार कर लिया. इनमे से एक शख्स पेट्रोल चोरी करने के लिए चिप बनाने और सॉफ्टवेयर इंस्टॉलेशन का काम करता था, जबकि दूसरा रिमोट असेंबल करने और सप्लाई करने का काम करता था.

यूपी एसटीएफ की टीम ने इन दोनों के पास से कई चिप और पेट्रोल पंप के कई इलेक्ट्रॉनिक पार्ट बरामद किये हैं. सबसे अहम् बात जो खुलकर सामने आयी है, वो ये है कि ये सारी धांधली पेट्रोल पंप मालिकों के साथ मिलकर संगठित रूप से की जा रही थी. लखनऊ में शिकायत मिलने के बाद पेट्रोल पंप पर छापेमारी के दौरान पेट्रोल पंपों में ऐसे चिप लगे हुए पाए गए थे, जिनसे 10 फीसदी तक कम पेट्रोल ग्राहकों की गाड़ी में डालता था. छानबीन से पता चला कि रिमोट कंट्रोल और चिप के जरिए इस पूरे कारनामे को अंजाम दिया जा रहा था.

सालों से हो रही थी अरबों की लूट

दरअसल अभी हाल ही में यूपी में पेट्रोल पंप स्कैम सामने आया था, जिसमे पेट्रोल पंप की मशीन में एक चिप फिट करके रिमोट की सहायता से पेट्रोल चोरी करके ग्राहकों को चूना लगाया जा रहा था. अरबों रुपयों की लूट हर साल पिछले कई सालों से की जा रही थी. जिसके बाद इस पूरे स्कैम का पर्दाफ़ाश करने के आदेश जारी किये गए थे.

यूपी एसटीएफ के एसएसपी अमित पाठक ने बताया कि उनके द्वारा की गई पहले की कार्रवाई के बाद उन्हें ये जानकारी मिली की ये जाल पूरे देशभर में फैला हुआ है, जिसके बाद ये छापेमारी की गयी. एसटीएफ को पता चला है कि ये सॉफ्टवेयर इन लोगों ने कई और लोगों को भी दिए हैं. पकडे गए लोगों से यूपी और कई अन्य राज्यों के लिंक मिले हैं जिन पर ऐक्शन लिया जा रहा है.

यानी ये बात साफ़ है कि अब देशभर के पेट्रोल पम्पों पर की जा रही धांधली को योगी की पुलिस रोकेगी. पकडे गए लोगों को हिरासत में लेकर उनसे आगे की पूछताछ की जायेगी और उनसे मिली जानकारी से अन्य लोगों को भी हिरासत में लिया जाएगा. वहीँ जनता यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ से काफी खुश है, जनता के मुताबिक़ सपा सरकार के कई नेता भी इस सब में मिले हुए पाए जाएंगे क्योंकि नेताओं से सांठ-गाठ के बिना अरबों रुपयों की लूट की ही नहीं जा सकती. ऐसे में नाम सामने आने पर नेताओं पर भी गाज गिर सकती है.

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments