Home > ख़बरें > खुलासा : ममता के बंगाल से बदले जा रहे थे केजरीवाल की दिल्ली के नेताओं के नोट

खुलासा : ममता के बंगाल से बदले जा रहे थे केजरीवाल की दिल्ली के नेताओं के नोट

parasmal-lodha-delhi-politicians-black-money

नई दिल्ली : ममता के बंगाल से कालेधन की धांधली के कारोबार में लगे हवाला कारोबारी पारसमल लोढा ने ईडी के सामने चौकाने वाले खुलासे किये हैं। इन खुलासों का सम्बन्ध दिल्ली की आम आदमी पार्टी से भी कहा जा रहा है। सूत्रों के मुताबिक़ लोढ़ा ने कबूल किया है कि उसने दिल्ली के कुछ नेताओं के पुराने नोट बदले हैं। दिल्ली के अलावा उसने दक्षिण भारत के कुछ नेताओं के पुराने नोट बदलने की बात भी कबूली है।

एक्सिस बैंक में हो रहे गोरखधंधे में भी आम आदमी पार्टी

इससे पहले एक्सिस बैंक में हो रहे कालेधन के गोरखधंधे में भी आम आदमी पार्टी का नाम आ चुका है। खबर आयी थी कि एक्सिस बैंक के जरिये वही कंपनियां अपना कालाधन सफ़ेद करवा रहीं थीं, जिन्होंने आम आदमी पार्टी को चन्दा भी दिया था। इन खुलासों के बाद से केजरीवाल की बौखलाहट इतनी बढ़ गयी थी कि उन्होंने मंच से भाजपा को गालियां बकना भी शुरू कर दिया था, उन्होंने भाजपा के लिए कहा था कि ‘बीजेपी वाले तो अपने बाप के भी नहीं हैं, यदि इन्हें मौका मिले तो शाम तक अपने बाप को भी बेचकर खा जाएं।’

कई नेताओं से सम्पर्क

करोड़ों के पुराने नोटों को बदलने के मामले में गिरफ्तार किये गए पारसमल लोढा से ईडी ने लंबी पूछताछ की। पूछताछ के दौरान लोढ़ा ने अब तक रोहित टंडन, शेखर रेड्डी और तमिलनाडु के सात कारोबारियों समेत कई नेताओं से सम्पर्क होने की बात क़बूल की है।

विदेश भागने की फिराक में लगे पारसमल लोढा को पिछले बुधवार को ईडी ने मुंबई एयरपोर्ट से गिरफ्तार कर लिया था। ईडी ने उसे अगले दिन ही दिल्ली की साकेत कोर्ट में पेश किया और उससे पूछताछ के लिए रिमांड मांगी थी। पूछताछ में पारसमल लोढा ने बताया कि अब तक वो कुल 11 करोड़ रूपये के पुराने नोटों को नए नोटों मे बदल चुका है। ये नई करेंसी पारसमल को बैंक और हवाला कारोबार में शामिल दूसरे लोगों से मिलती थी।

दाऊद के गुर्गों से भी सम्पर्क

पूछताछ में पारसमल ने ईडी को बताया कि वो पुराने नोटों को 30 प्रतिशत कमीशन पर बदलता था। विदेशी हवाला कारोबारियों से भी उसके संबंध हैं। वो पुरानी करेंसी की बड़ी खेप को नयी करेंसी से बदलवाने के लिये दुबई भी जाने वाला था।

अंडरवर्ल्ड के सबसे बड़े डॉन दाऊद के गुर्गों से भी पारसमल लोढा का सम्पर्क रहा है। खबरों के मुताबिक़ कई साल पहले दाऊद के गैंग की मदद उसने पियरलेस नाम की कम्पनी को जबरदस्ती खरीद लिया था। पूछताछ के बाद ईडी पारसमल लोढा को कई अन्य जगहों पर भी लेकर जाने वाली है, जिससे कालेधन के गोरखधंधे में लगे कई और हवाला आपरेटर्स और दलालों की गिरफ़्तारी भी की जायेगी।

अब आपकी बारी

क्या इस मामले में आम आदमी पार्टी के नेता भी शामिल हो सकते हैं? अपनी राय आप कमेंट द्वारा शेयर कर सकते हैं।

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments