Home > ख़बरें > कश्मीर में हुआ बेहद सनसनीखेज खुलासा, ख़ुफ़िया एजेंसियों के साथ साथ पीएम मोदी के भी उड़े होश

कश्मीर में हुआ बेहद सनसनीखेज खुलासा, ख़ुफ़िया एजेंसियों के साथ साथ पीएम मोदी के भी उड़े होश

नई दिल्ली : कश्मीर में आतंकवाद को बढ़ावा देने के लिए पाकिस्तान का चेहरा पूरी तरह अब बेनकाब हो गया है. दरसल अभी कश्मीरी व्यवसायी जहूर अहमद वटाली की गिरफ्तारी के बाद राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को बेहद पुख्ता सबूत मिले हैं जिसने पाकिस्तान के बहुत बड़े राज़ पर से पर्दा उठा दिया है.


जहूर वटाली की गिरफ़्तारी से हुए बड़े खुलासे

अभी-अभी एएनआई न्यूज़ एजेंसी के मुताबिक बहुत बड़े खुलासे का पर्दाफाश हुआ है. एनआईए जाँच एजेंसी को जम्मू-कश्मीर में सक्रिय अलगाववादी संगठन हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के नेताओं को पाकिस्तान से आतंकी फंडिंग के मामले में कई ज़बरदस्त सबूत मिले हैं. जिसमें खुलासा हुआ है कि जहूर अहमद वटाली के पास पैसा दुबई, पाकिस्तान और भारत में मौजूद पाकिस्तानी उच्चायोग के ज़रिये ही आता था.

यही नहीं पाकिस्तान से मिलने वाली टेरर फंडिंग में हुर्रियत के नेता सैयद अली शाह गिलानी के बेटे नसीम गिलानी भी बुरी तरह फंस गए हैं. एनआईए के सूत्रों ने बताया कि पाकिस्तान और दुबई से टेरर फंडिंग के नाम पर नसीम गिलानी को भी रकम मिला करती थी.

इसके बाद भारत में ही मौजूद पाकिस्तानी उच्चायोग जो पैसा जहूर वटाली के पास जाता था वही पैसा ज़हूर वाटली अलगाववादियों और हुर्रियत के नेताओं को भेजा जाता था और फिर वो पैसा स्कूली छात्रों छात्रों को पत्थरबाज़ी के लिए उकसाने, आतंकवादियों को हथियार और खाने पीने कपडे लत्ते का सारा पैसा पाकिस्तान का ही होता है.


5 डायरियों ने खोला राज़ 

ज़हूर वटाली की गिरफ़्तारी के बाद से पता चला है कि उसने अपने कई बिजनस का इस्तेमाल पाकिस्तान से फंड हासिल करने के लिए फ्रंट के तौर पर किया. वाटली अपने बैंक खातों से बेहिसाब पैसा की हेरहेरी के सबूत मिले हैं. सूत्रों के मुताबिक, वटाली की गिरफ्तारी की बड़ी वजह बनी उसकी 5 डायरियां, जिससे एनआईए अफसरों को ‘जानकारियों का खजाना’ हाथ लगा है. इस मामले में अब और तेज़ी से गिरफ्तारी शुरू हो जाएगी

ऐसे में अब जब ज़हूर वटाली कि गिरफताई हो चुकी है तो उसे अभी 10 दिन की रिमांड पर भेज दिया गया है. आपको बता दें एनआईए ने इस मामले में अलगाववादी नेता शब्बीर शाह को पहले ही अरेस्ट किया हुआ है साथ ही गिलानी के दामाद को भी गिरफ्तार किया हुआ है. ऐसी ही अब हर एक अलगाववादी को अरेस्ट किया जायेगा.

शुक्रवार को सुबह दिल्ली की एक अदालत ने जहूर को 10 दिन के लिए एनआईए की रिमांड पर भेज दिया. बता दें कि बीते कुछ दिनों से एनआईए की ओर से हुर्रियत नेताओं के दिल्ली से लेकर श्रीनगर तक के ठिकानों पर छापेमारी की गई है..


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments