Home > ख़बरें > मोदी और ट्रम्प के गुस्से से पाकिस्तान की पतलून गीली, भारत को मिली बड़ी कूटनीतिक जीत

मोदी और ट्रम्प के गुस्से से पाकिस्तान की पतलून गीली, भारत को मिली बड़ी कूटनीतिक जीत

hafiz-under-house-arrest

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लगन और देशभक्ति पर सवाल उठाने वालों का मुह आज बंद हो गया है. कुछ ही दिन पहले ट्रम्प और मोदी की फ़ोन पर बातचीत हुई थी जिसमे दोनों ने आतंक के खिलाफ मिलकर लड़ने की बात कही थी. उसी सिलसिले में अब पाकिस्तान से भारत के लिए सबसे बड़ी खुशखबरी आयी है.


हाफिज सईद पाकिस्तान में कैद

जमात-उद-दावा के सरगना और मुंबई हमले के मास्टर माइंड हाफिज सईद को पाकिस्तान ने उसके लाहौर के घर में कैद कर दिया है. पाकिस्तानी मीडिया ने इस खबर की पुष्टि की है. इसके साथ ही एक और बड़ी खबर ये भी आ रही है कि अब पाकिस्तान सरकार हाफिज के संगठन जमात-उद-दावा पर प्रतिबंध भी लगाने वाली है.

पाकिस्तानी न्यूज एजेंसी के मुताबिक हाफिज को लाहौर के चौबुर्जी स्थित उसके घर में नजरबंद करके रखा गया है. रिपोर्ट के मुताबिक ऐसे ही आतंकियों को पालने के कारण प्रधानमंत्री मोदी ने पाकिस्तान को पूरी दुनिया से अलग-थलग करने की मुहिम चलाई हुई है. अमेरिका के नए राष्ट्रपति भी आतंक के खिलाफ बेहद सख्त हैं, इसी के चलते उन्होंने 7 देशों से मुस्लिमों के अमेरिका आने पर प्रतिबन्ध भी लगा दिया है.


पाकिस्तान की पतलून गीली

जानकारों के मुताबिक़ अमेरिका का रुख ऐसे आतंकी संगठनों पर काफी कड़ा है. इससे पहले कि हालात और भी ज्यादा बिगड़ जाएँ और अमेरिका इन आतंकियों को ख़त्म करने के लिए पाकिस्तान पर ही हमला कर दे, ऐसी स्थिति से बचने के लिए पाकिस्तानी सरकार इन संगठनों पर प्रतिबंध लगाने पर विचार कर रही है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पंजाब गृह विभाग के आदेश पर हाफिज को नजरबंद कर दिया गया है. इससे पहले पाकिस्तान के गृहमंत्री चौधरी निसार अली खान ने भी कहा था कि पाकिस्तानी जांच एजेंसियां 2011 से ही जमात-उद-दावा की गतिविधियों पर नजर रख रही हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक चौधरी निसार अली खान ने अपने बयान में इस बात का भी जिक्र किया कि जमात-उद-दावा यूएन के प्रतिबंधित संगठन में शामिल है, जिसके कारण भी ये माना जा रहा है कि पाक सरकार ने हाफिज के खिलाफ कार्रवाई का मन बना लिया है.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments