Home > ख़बरें > गुस्से में आये सेना के जवानों का माथा ठनका, कर दिया बड़ा कांड, पाकिस्तान में मची चीख-पुकार

गुस्से में आये सेना के जवानों का माथा ठनका, कर दिया बड़ा कांड, पाकिस्तान में मची चीख-पुकार

indian-army-loc-firing

इस्लामाबाद : पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है, सीमापार से ना तो आतंकियों की घुसपैठ बंद हुई है और ना ही सीजफायर का उल्लंघन. सीजफायर का उल्लंघन तो अब आये दिन की बात हो गयी है. पाकिस्तान बिना किसी उकसावे के जब मन आता है, तब गोलीबारी करने लगता है. खबर है कि इस तरह से बार-बार हो रही गोलीबारी से भारतीय सेना को इतना गुस्सा आ गया कि उसने पाक सेना पर एक बार जो बारूद बरसाना शुरू किया तो फिर रुकने का नाम नहीं लिया और पाक चौंकियों को तबाह करने समेत पाक सैनिकों की लाशों के ढेर लगा दिए. (सबूत के तौर पर डेक्कन हेराल्ड का ट्वीट इस पोस्ट के अंत में देख सकते हैं)


भारतीय गोलीबारी से पाक में हड़कंप

आलम ये हो गया कि एलओसी पर भारतीय सैनिकों द्वारा कथित गोलीबारी की निंदा व् विरोध जताने के लिए शुक्रवार को पाकिस्तान को भारतीय उच्चायुक्त गौतम बम्बावाले को समन भेजना पड़ा है, जिसमे कई पाकिस्तानी सैनिकों समेत छह पाक नागरिक भी मारे गए और 26 अन्य बुरी तरह घायल हो गए.

द एक्सप्रेस ट्रिब्यून में छपी खबर के मुताबिक़ अपने सैनिकों और नागरिकों की मौत का विरोध जताते हुए पाक विदेश कार्यालय ने उन्हें शिकायत पत्र सौंपा और तत्काल रूप से सीमा पार से फायरिंग रोकने के लिए कहा. पाकिस्तान ने नागरिकों पर फायरिंग करने को अंतर्राष्ट्रीय कानूनों का उल्लंघन बताया और भारत को युद्धविराम समझौते का पालन करने के लिए कहा.

img1


भारतीय सेना के सामने पाकिस्तान का रोना चालू

लोकल मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़ भारतीय सेना ने पाकिस्तान पर जमकर बारूद बरसाया, गोलियों और गोलों की ऐसी भीषण मार देखकर पाक सैनिक भयभीत हो गए. भीषण गोलीबारी के चलते चरवाह और हरपाल सेक्टर में कार्य सीमा के पास 6 पाक नागरिक भी मारे गए और 26 अन्य बुरी तरह से घायल हो गए.

हालांकि भारतीय सेना के मुताबिक़ पाक सेना ने पहले सीजफायर का उल्लंघन किया था और आतंकियों की घुसपैठ कराने की कोशिश की थी. बता दें कि हाल ही में पाक सेना की गोलीबारी में एक बीएसएफ जवान शहीद भी हो गया था, जिसके बाद भारतीय जवानों का माथा ठनक गया और पाकिस्तान में हाहाकार मच गया.

इससे पहले 14 सितम्बर को भी पाकिस्तान ने इस्लामाबाद में भारत के उप उच्चायुक्त जे.पी. सिंह को समन भेजा था. उस वक़्त भी पाकिस्तान की तरफ से जारी एक आधिकारिक बयान में कहा गया था कि, “संयम बरतने की अपील के बावजूद, भारतीय सेना लगातार फायरिंग कर रही है. 2017 की शुरुआत से अब तक, भारतीय सेना ने एलओसी और कार्य सीमा पर 700 से ज्यादा बार भीषण फायरिंग की है, जिसके परिणामस्वरूप 32 नागरिकों की मौत हो चुकी है और 382 अन्य घायल हो गए हैं.

tweet2


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments