Home > ख़बरें > कश्मीर में सीआरपीएफ जवानों से बदसलूकी का मिला जवाब, सेना की कार्रवाई देख थर-थर कांपे पत्थरबाज !

कश्मीर में सीआरपीएफ जवानों से बदसलूकी का मिला जवाब, सेना की कार्रवाई देख थर-थर कांपे पत्थरबाज !

stone-pelters-army

कश्मीर : अभी हाल ही में सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमे कश्मीर के कुछ युवक भारतीय जवानों के साथ मारपीट कर रहे हैं और उन्हें गालियां भी दे रहे हैं. लेकिन अब कश्मीर से एक और बेहद हैरान कर देने वाली खबर सामने आ रही है.

पत्थरबाजों को गाड़ी में बांध ले गई आर्मी !

दरअसल कश्मीर में स्थानीय युवकों द्वारा चुनावी ड्यूटी में लगे सीआरपीएफ जवानों की पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद उमर अब्दुल्ला ने कुछ ऐसी तस्वीरें और विडियो ट्विटर पर शेयर किए हैं, जिन्हे देख पूरे देश में खलबली मच गयी है. इस वीडियो और तस्वीरों में दिख रहा है कि सेना की जीप के बोनट पर एक कश्मीरी पत्थरबाज को बांधा गया है.

इन तस्वीरों के साथ उमर ने लिखा है कि इस युवक को सेना की जीप पर इसलिये बांधा गया है ताकि उन पर पत्थर न फेंके जाएं. यानी यदि पत्थरबाज सेना की जीप पर पत्थर मारेंगे तो उनके अपने ही आदमी को वो लगेंगे. उमर ने लिखा कि ये बेहद खौफनाक है. अपने अगले ट्वीट में उम्र ने 15 सेकंड की एक विडियो क्लिप भी शेयर की. इसके साथ उमर ने लिखा कि उनके पास इसका विडियो भी है जिसमे एक चेतावनी सुनी जा सकती है कि कश्मीर के पत्थरबाजों का यही अंजाम होगा. उमर ने इस मामले में जांच की मांग की है.

उमर ने की जांच की मांग !

दरअसल उमर ने जो वीडियो शेयर किया है उसमे दिख रहा है कि सेना की जीप के बोनट पर एक आदमी को बांधा गया है और जीप से लाउडस्पीकर पर चेतावनी दी जा रही है कि पत्थर फेकने वालों का यही हाल होगा. इस जीप के पीछे सेना का एक ट्रक भी दिख रहा है.

हालांकि अभी तक इस वीडियो की प्रामाणिकता की पुष्टि नहीं हो पाई है, इसलिए उमर के आरोपों में कितनी सच्चाई है इस बात का अनुमान नहीं लगाया जा सकता. उमर के ट्वीट के बाद सेना ने कहा है कि वो इस घटना पर जांच कर रही है.

सोशल मीडिया पर भड़के लोग !

हालांकि उमर के ट्वीट के बाद लोगों ने ट्वीट करके उमर से पूछा कि उन्होंने वो वीडियो क्यों नहीं शेयर किया जिसमे पत्थरबाज सेना के जवानों पर पत्थर फेंक रहे हैं. कई लोगों ने उमर की निंदा करते हुए उन्हें देशद्रोही तक करार दिया. वहीँ कई अन्य लोगों ने उमर को पत्थरबाजों का सरगना तक कह डाला.

इसके जवाब में उमर ने ट्वीट किया कि पत्थरबाजों की हरकतों से सेना की इस हरकत को जायज नहीं ठहराया जा सकता. उमर ने लिखा कि क्या हमें सेना से पत्थरबाजों जैसे व्यवहार की उम्मीद रखनी चाहिए? हालांकि लोगों ने उन्हें रिप्लाई देते हुए कहा कि सेना ने जो किया वो ठीक ही किया और पत्थर फेंकने वालों को तो सीधे गोली ही मार देनी चाहिए.

इसके बाद उमर ने अपने अगले ट्वीट में लिखा कि वो सीआरपीएफ जवानों की पिटाई के विडियो से उपजे गुस्से को समझ सकते हैं. उन्हें भी इस बात पर गुस्सा आ रहा है कि क्या जीप से बंधे कश्मीरी युवक का ये विडियो कश्मीरी लोगों के बीच वैसा ही गुस्सा नहीं पैदा करेगा.

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments