Home > ख़बरें > कांग्रेस सोती रह गयी और मोदी सरकार ने ख़त्म कर दी दशकों से चली आ रही ये परंपरा, राष्ट्रपति ने भी ठोकी पीठ

कांग्रेस सोती रह गयी और मोदी सरकार ने ख़त्म कर दी दशकों से चली आ रही ये परंपरा, राष्ट्रपति ने भी ठोकी पीठ

नई दिल्ली : पीएम मोदी ने सत्ता सँभालते ही एक बड़ा फैसला किया और सालों से चली आ रही VVIP वाले कल्चर को ख़त्म किया. सभी बड़े मंत्रियों, अधिकारियों की गाड़ी पर लाल, पीली और नीले बत्तियां हटाने का फैसला लिया था. जिससे जनता के प्रतिनिधि को जनता के सेवक की तरह महसूस हो न कि किसी खास सेलिब्रिटी के जैसे. तो वहीँ इस बार फिर पीएम मोदी ने राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, राज्यपाल को लेकर बड़ा फैसला सुना दिया है और दशकों से चली आ रही परंपरा का अंत कर दिया है.


मोदी सरकार ने किया दशकों से चली आ रही परंपरा का अंत

अभी मिल रही ताज़ा खबर के मुताबिक पीएम मोदी ने जो फैसला लिया है उसके अनुसार सभी vip गाड़ियों पर अब नंबर प्लेट लगेगी और उनका रजिस्ट्रेशन भी होगा. इस फैसले के बाद से अब आम नागरिकों की तरह राष्ट्रपति, उप-राष्ट्रपति, राज्यपाल, प्रधानमंत्री समेत अन्य संवैधानिक अधिकारी भी अपनी-अपनी गाड़ियों पर नंबर प्लेट लगवाएंगे. इससे पहले कई दशकों से चली आ रही परंपरा के अनुसार राष्ट्रपति व अन्य संवैधानिक अधिकारियों की गाड़ी की नंबर प्लेट की जगह सिर्फ अशोक स्तम्भ लगा हुआ होता था.

नीचे एक तस्वीर दी गयी है इसमें आपको भी फर्क नजर आ जायेगा. दरअसल इसमें एक फोटो मोदी सरकार से पहले की है जिसमें राष्ट्रपति प्रधानमंत्री की गाड़ियों पर नंबर प्लेट कि जगह अशोक स्तम्भ लगा हुआ है. वहीं दूसरी फोटो में आप देख सकते हैं खुद पीएम की गाड़ी पर भी नंबर प्लेट लगी हुई है.

गौरतलब है की पीएम मोदी जी की गाड़ी पर नंबर प्लेट पहले से ही लगी हुई है. इससे पहले मोदी जी ने लाल,पीली और नीली बत्ती के इस्तेमाल को खत्म कर दिया था. अब उनका ये कदम और एक इतिहास रचने जा रहा है.


मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक भारतीय परिवहन मंत्रालय के अनुसार सभी कारों पर रजिस्ट्रेशन नंबर होना आवश्यक है और उच्च संवैधानिक पद पर बैठे लोगों की कार पर भी रजिस्ट्रेशन नंबर आवश्यक होगा, जिसमें देश के राष्ट्रपति भी शामिल हैं.मंत्रालय ने पत्र लिखकर इसकी जानकारी दी है. केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्रालय ने मोटर व्हीकल एक्ट 1988 में किए गए संशोधनों के चलते ऐसे निर्देश दिए हैं.

ऐसा ही एक बड़ा फैसला नीदरलैंड के प्रधानमंत्री ने भी लिया था जिसने दुनिया भर के देशों को चौंका दिया था. नीदरलैंड में प्रदुषण बहुत ही खतरनाक स्तर तक पहुंच गया था, जिसके बाद प्रधानमंत्री, सभी मंत्री और अन्यअधिकार अब साइकिल चलकर आम नागरिकों की तरह अपने कार्यालय पहुंचते हैं.

जबकि अन्य बड़े दिग्गज देश आज भी VVIP वाली मानसिकता में जी रहे हैं, वे 15 से 20 गाड़ियों के काफिले में चलते हैं. ऐसे में भारत में नंबर प्लेट लगाने वाले फैसले की पूरी देश में तारीफ हो रही हैं और सभी इसे हंसी ख़ुशी अपना भी रहे हैं.


पीएम नरेंद्र मोदी से जुडी सभी खबरें व्हाट्सएप पर पाने के लिए 783 818 6121 पर Start लिख कर भेजें.

यदि आप भी जनता को जागरूक करने में अपना योगदान देना चाहते हैं तो इसे फेसबुक पर शेयर जरूर करें. जितना ज्यादा शेयर होगी, जनता उतनी ही ज्यादा जागरूक होगी. आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं.


सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें

फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments