Home > ख़बरें > भारत को इस्लामिक स्टेट बनाने की बड़ी साजिश का खुलासा, खुफिया एजेंसियों समेत मोदी भी सन्न

भारत को इस्लामिक स्टेट बनाने की बड़ी साजिश का खुलासा, खुफिया एजेंसियों समेत मोदी भी सन्न

love-jihad-pfi-kerala

नई दिल्ली : देश में किस तरह से देश द्रोहियों की साजिश चल रही है, इसका बड़ा भांडाफोड़ हुआ है. एनआईए जांच में पता चला है कि बड़े पैमाने पर पिछले काफी वक़्त से कुछ इस्लामिक संगठन देश में साजिशन देश द्रोही गतिविधियों में शामिल हैं. जिस तरह से म्यांमार के रोहिंग्या इलाके को इस्लामिक स्टेट बनाने के लिए वहां के बुद्धिस्ट और हिन्दुओं का रोहिंग्या मुस्लिमों द्वारा कत्लेआम किया जा रहा है, ठीक उसी की तर्ज पर केरल को भी इस्लामिक स्टेट बनाने के लिए बड़े पैमाने पर साजिशें की जाने की बात सामने आयी है.


केरल को इस्लामिक स्टेट बनाने की साजिश

साजिश के तहत अन्य धर्मों की युवतियों को लव जिहाद के जरिये धर्म परिवर्तन कराये जाने के पुख्ता सबूत एनआईए को मिल गए हैं. हाल ही में इस्लाम में धर्मपरिवर्तन करने वाली दो महिलाओं ने एनआईए को लव जिहाद और धर्म परिवर्तन की आपबीती सुनाई है. इन महिलाओं ने खुलासा किया है कि इस्लामिक जिहादियों द्वारा प्रलोभन देकर उनका धर्म परिवर्तन करा दिया गया.

दरअसल ये जिहाद आतंकियों की तरह मार-काट नहीं मचाते बल्कि देश को अंदर से तोड़ने के मिशन पर काम कर रहे हैं. ये देखने में बिलकुल आम लोगों की तरह शरीफ दिखाई देते हैं, मगर देश विरोधी गतिविधियों में चुपचाप शामिल रहते हैं. एनआईए की जांच में खुलासा हुआ है कि केरल में बेहद सुनियोजित तरीके से लव जिहाद को अंजाम दिया जा रहा है.

प्रलोभन देकर, बहका कर चल रहा है लव जिहाद

केरल के कासरगोड निवासी अथिरा, जिनका धर्म परिवर्तन करा कर आएशा बना दिया गया और लाक्कड निवासी एक अन्य महिला ने पिछले सप्ताह एनआईए को बताया कि उनको बहकाकर उनका धर्म परिवर्तन कराया गया. एनआईए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया है कि उन्होंने इन दोनों महिलाओं से बात की है, जिन्होंने बताया कि उनको प्रलोभन देकर धर्म परिवर्तन कराया गया.

अथिरा ने फिर से हिन्दू धर्म अपना लिया है, उन्होंने पूछताछ में बताया कि वह आतंकी समर्थक इस्लामिक उपदेशक और वांटेड जाकिर नाइक के प्रभाव में आ गई थी. अथिरा ने बताया कि उसके मुस्लिम दोस्तों ने भी उसे बहकाया था. इसके अलावा दूसरी महिला ने बताया कि वह एक मुसलमान के साथ भाग गई थी. शादी के लिए उसका धर्म परिवर्तन कराया गया.

केरल सरकार समेत देश के कई बड़े नेता साजिश में शामिल

लव जिहाद के इन साजिशों के पीछे एनआईए को पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) और सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (SDPI) के शामिल होने के सबूत मिले हैं. अब समझिये कि किस तरह से देश को तोड़ने का खेल बड़े पैमाने पर चल रहा है, जिसमे देश के धुरंधर नेता भी शामिल हैं. आतंकी गतिविधि चलाने वाली पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के कार्यक्रम में हाल ही में देश के पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी तक शामिल हुए थे.


वहीँ केरल सरकार नहीं चाहती कि एनआईए लव जिहाद की जांच करे. जांच में रोड अटकाने की पूरी-पूरी कोशिशें की जा रही हैं. देश के कई वामपंथी संगठन भी देश को तोड़ने की साजिशों में लिप्त हैं. पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया की महिला विंग “नेशनल वोमेन्स फ्रंट” भी लव जिहाद में शामिल है.

दर्जनों महिलाओं का हो चुका है धर्म परिवर्तन

साल 2009 में केरल में नेशनल वोमेन्स फ्रंट की स्थापना मुस्लिम महिलाओं के उत्थान के लिए हुई थी, लेकिन बाद में यह अपनी विचारधारा थोपने के साथ ही गैर मुस्लिम महिलाओं के धर्मांतरण में जुट गई. इस संगठन पर अपनी तमाम शाखाओं के जरिए हदिया और अथिरा जैसी महिलाओं के धर्मांतरण कराने का आरोप है.

जांच में ये भी सामने आया है कि लव जिहाद के केरल में एक-दो नहीं बल्कि दर्जनों केस हैं, जिन्हे राज्य की वामपंथी सरकार छिपाने की कोशिश कर रही है. इन साजिशों के खिलाफ आवाज बुलंद करने वाले हिन्दू संगठन के लोगों का केरल में सरेआम कत्लेआम किया जा रहा है. एनआईए को अब तक कम से कम 23 मामले लव जिहाद से जुड़े हुए मिले हैं, जिनमे गैर मुस्लिम महिलाओं का जबरन धर्मांतरण कराया गया.

बंगाल और जम्मू-कश्मीर को भी इस्लामिक स्टेट बनाने की साजिश

देश को कई हिस्सों में तोड़ने की साजिशें हो रही हैं और पिछले कई सालों से चल रही हैं. गनीमत है कि मोदी प्रधानमंत्री बन गए और ये मामले खुलकर सामने आ रहे हैं, वरना कांग्रेस की सांठ-गाँठ से इन वामपंथियों और इस्लामिक संगठनों ने देश को तोड़ने की पूरी तैयारियां की हुई थी.

योजना ये थी कि एक ओर केरल में लव जिहाद के जरिये तेजी से मुस्लिम आबादी बढ़ाई जायेगी और केरल को मुस्लिम बहुल आबादी वाला राज्य बनाया जाएगा. वहीँ बंगाल में अवैध बांग्लादेशियों द्वारा लव जिहाद व् दंगे-फसाद करवा कर उसे भी इस्लामिक स्टेट बनाया जाएगा. साथ ही जम्मू में अवैध रोहिंग्या घुसपैठियों को बसा कर जनसंख्या संतुलन बिगाड़ दिया जाएगा और लद्दाख में भी लव जिहाद के केस सामने आने शुरू हो गए हैं. पूरे जम्मू-कश्मीर को इस्लामिक स्टेट बनाने की बड़े पैमाने पर साजिशें चल रही हैं.

एनआईए ने अपनी जांच में पाया कि साल 2014 में चार गैर मुस्लिम महिलाओं का इस्लाम में धर्म परिवर्तन करा कर उन्हें आतंकी संगठन आईएस में शामिल होने के लिए अफगानिस्तान भेज दिया गया था. पॉपुलर फ्रंट ऑफ़ इंडिया के खिलाफ इतने सबूत मिल चुके हैं कि भारत सरकार इस संगठन को बैन करने जा रही है.


यदि आप भी जनता को जागरूक करने में अपना योगदान देना चाहते हैं तो इसे फेसबुक पर शेयर जरूर करें. जितना ज्यादा शेयर होगी, जनता उतनी ही ज्यादा जागरूक होगी. आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं.

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें

फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments