Home > ख़बरें > पकड़ा गया भगवा वस्त्र पहने मुस्लिम शख्स, हुआ ऐसी भयानक साजिश का पर्दाफ़ाश, हैरान रह गयी पुलिस

पकड़ा गया भगवा वस्त्र पहने मुस्लिम शख्स, हुआ ऐसी भयानक साजिश का पर्दाफ़ाश, हैरान रह गयी पुलिस


इलाहाबाद : उत्तरप्रदेश के इलाहाबाद के प्रतापगढ़ से ऐसी चौकाने वाली खबर सामने आ रही है जो कि आपके रौंगटे खड़े कर देगी. यही नहीं इस शख्स ने तो एसटीएफ की टीम के भी काफी वक़्त से नाक में दम कर रक्खा था. लेकिन अन्ततः एसटीएफ(स्पेशल टास्क फाॅर्स) की टीम को बड़ी कामयाबी मिली है. सीएम योगी ने कुछ दिन पहले ही उन अपराधियों को चेतावनी दी थी कि भगवा को बदनाम करने वाले अब बचेंगे नहीं, भगवे की आड़ में अपराध फ़ैलाने वालो के लिए एक ही जगह बनी है वो है जेल.

यूपी एसटीएफ टीम ने एक बार फिर बड़ी सूझ बूझ से एक कुख्यात एवम बहुत ही शातिर अपराधी हत्यारे को गिरफ्तार किया है. इसे बहुत चालाक हम इसलिए कह रहे हैं क्यूंकि जब भी ये कसी साज़िश को अंजाम देने निकलता था तो पूरा भगवा चोला पहनकर, साधु के वेश में गले में रुद्राक्ष की माला पहने, हाथों में कलावा बांधकर निकलता था. इस हत्यारे अपराधी और भगवा के खिलाफ गन्दी साज़िश रचने वाले का नाम है अली शेर. वैसे तो ये मुस्लिम है पर फिर भी यह भगवा वस्त्र पहनने से कोई परहेज़ नहीं करता था. पुलिस के बयान में इसने बताया कि भगवा कपडे पहनने पर कोई कभी भी शक नहीं करता था.

प्रतापगढ़ एसपी शगुन गौतम ने मीडिया से बात करते वक़्त बताया कि इसका असली नाम अली शेर है, पर ये सबको अपना नाम सोनू बताता था. ये एक बेहद चालाक कॉन्ट्रैक्ट किलर है. जब भी साज़िश के बाद गवाहों से अपराधी का हुलिया पूछा जाता तो सब कहते थे कि भगवाधारी , रुद्राक्ष माला और कलावा बांधे शख्स था. जिससे पुलिस भी दंग जाती थी. इसके बाद पुलिस ने इस पर पंद्रह हज़ार रुपयों का इनाम रखा था.


क्या है पूरा मामला

लालगंज तहसील में जलेशरगंज के वकील धनंजय मिश्रा रामपुर बावली से अपनी बेटी को परीक्षा दिलाकर वापस लौट रहे थे. भगवा वस्त्र पहने अली शेर के साथ और 4 बाइक बदमाशों ने बाइक को वकील की गाडी के आगे लगा दी और फिर गाड़ी रुकने के बाद अंधाधुंध गोलियां बरसा दी. गाड़ी में वकील की बेटी भी मजूद थी, उसने कितनी मिन्नतें मांगी पर, उन लोगो ने एक न सुनी और वह वहाँ से चले गए. बेटी अंशिका ने पुलिस को बताया की गोली मारने वाले ने भगवा रंग का गमछा सिर पर बांध रखा था और उसने कलाई पर कलावा भी बाँध रक्खा था.

अब ये पुलिस के शिकंजे में है पुलिस इसके और साथी गिरोह और इसका कितना बड़ा नेटवर्क है सब पूछताछ कर रही है. 28 साल के अली शेर पर लूट, हत्या, अपहरण, मारपीट, धमकी, जानलेवा हमले व आर्म्स एक्ट के पंद्रह से ज़्यादा मुकदमे दर्ज हो चुके हैं.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments