Home > ख़बरें > गर्मी की परवाह किये बिना बड़ी संख्या में मुस्लिम पहुंचे अयोध्या, राम मंदिर को लेकर किया बड़ा ऐलान !

गर्मी की परवाह किये बिना बड़ी संख्या में मुस्लिम पहुंचे अयोध्या, राम मंदिर को लेकर किया बड़ा ऐलान !

ram-temple-yogi

अयोध्या : 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी ने देश की जनता से अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनवाने का वादा किया था. यूपी में योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद से लोगों की उम्मीदें और बढ़ गयी हैं क्योंकि योगी खुद भी राम मंदिर बनवाने के पक्ष में हमेशा रहे हैं. गुरूवार की शाम धर्मनगरी अयोध्या में ऐसा नज़ारा देखने को मिला जिसने देशभर के लोगों को चौंका दिया. नज़ारा ही इतना अदभुत था कि लोगों को एक बार तो अपनी आँखों पर यकीन ही नहीं हुआ.

मुस्‍लिमों ने पहुंचाई 3000 ईंटें !

दरअसल गुरूवार की शाम को 6 बजे के करीब अलग अलग मुस्लिम समाज के लोग भारी संख्या में एक जुलूस लेकर अयोध्या की सड़कों पर “मुसलमानों हक और ईमान के साथ आओ, श्रीराम मंदिर का निर्माण कराओ” के नारे के साथ निकल पड़े. देखते ही देखते जय श्री राम , जय श्री राम के नारों से पूरी अयोध्यानगरी गुंजने लगी. श्रीराम मंदिर निर्माण मुस्लिम कारसेवक मंच के अध्यक्ष आजम खान के नेतृत्व में मुस्लिम समुदाय के लोग सड़क पर निकल आये और जल्द से जल्द मंदिर बनाये जाने की अपील करने लगे.

केवल इतना ही नहीं बल्कि जय श्री राम के नारे लगाने के साथ-साथ ये लोग एक बड़ा ट्रक भी साथ लेकर आये जिसमे 3000 ईटें भरी हुई थी. आजम खान ने बताया कि हम सब लखनऊ से आ रहे हैं और हम मंदिर परिसर में मौजूद रामलला के दर्शन करने जा रहे हैं. इससे पहले मंच के कारसेवक ईटों से भरे ट्रक को लेकर पूरे अयोध्या में घूमे और जोर-जोर से “जय श्री राम” के नारे भी लगाए. मंदिर निर्माण के लिए इतनी अधिक संख्या में मुस्लिम कारसेवकों का जुनून देख कर अयोध्यावासी दंग रह गए.

इतनी बड़ी संख्या में मुस्लिम जुलूस देख कर पुलिसबल के हाथ-पैर भी फूलने लग गए. उन्होंने कारसेवक मंच के लोगों को मंदिर में प्रवेश नहीं करने दिया और कहा कि दर्शन करने का वक़्त समाप्त हो गया है. मंच के अध्यक्ष आजम खान ने बताया कि वो सभी मुस्लिम लोग एक विशाल और भव्य राम मंदिर निर्माण में मदद करना चाहते हैं, जिसके लिए ईंट देकर मंदिर बनाने में अपना सहयोग देने आये हैं.

अध्यक्ष आजम खान ने इशारों-इशारों में हाशिम अंसारी पर निशाना साधते हुए कहा कि लोग आराम से एसी कमरों में बैठे हुए हैं और रामलला टेंट में हैं. उन्होंने आगे कहा कि राम मंदिर वही बनेगा जहाँ भगवान राम का जन्म हुआ था और जहाँ वे अभी विराजमान हैं.

फिलहाल कारसेवक मंच के लोग विश्व हिन्दू परिषद् के संपर्क में हैं उन्होंने ट्रक नया घाट बांध तिराहे की चौकी पर खड़ा कर दिया है और कहा कि विश्व हिन्दू परिषद् जहाँ कहेगा वहाँ ये ईटें जमा करवा दी जाएँगी. बाद में प्रशासन के अधिकारियों के समझाने पर सभी कारसेवक वहां से चले गये.

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments