Home > ख़बरें > 21 साल बाद पीएम मोदी करने जा रहे हैं ये शानदार काम, मनमोहन सिंह, राहुल गाँधी भी रह गए दंग

21 साल बाद पीएम मोदी करने जा रहे हैं ये शानदार काम, मनमोहन सिंह, राहुल गाँधी भी रह गए दंग

modi-wef-2017

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत प्रतिदिन नए मुकाम हासिल कर रहा है. जब से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की बागडोर संभाली है, पूरी दुुनिया में भारत की प्रतिष्ठा लगातार बढ़ रही है. पीएम मोदी ने भारत को अग्रिम पंक्ति के देशों में लाकर खड़ा कर दिया है. हाल ही में विश्व आर्थिक मंच (WEF) के एक सर्वे में प्रधानमंत्री मोदी की अगुआई वाली मोदी सरकार को दुनिया की तीसरी सबसे भरोसेमंद सरकार बताया गया था और अब पीएम मोदी वो काम करने जा रहे हैं, जो पिछले 21 वर्षों में देश के किसी अन्य प्रधानमंत्री ने नहीं किया.


विश्व आर्थिक मंच में शामिल होंगे मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) के सालाना शिखर सम्मेलन में भाग लेने जा रहे हैं. सर्दियों में बर्फ की चादर से ढकी स्विट्जरलैंड की आल्पस पहाड़ियों के बीच छोटे से खूबसूरत शहर दावोस में अगले महीने होने वाली इस वार्षिक सम्मेलन में दुनिया भर के राजनेता, कंपनी जगत की दिग्गज हस्तियां, नीति निर्माता और सामाजिक सांस्कृतिक क्षेत्र के गणमान्य लोग भाग लेते हैं. बताया जा रहा है कि मोदी विशेष पूर्ण सत्र को संबोधित भी करेंगे.

इसमें भाग लेने जा रहे नरेंद्र मोदी, 1997 के बाद इस सम्मेलन में जाने वाले देश के पहले प्रधानमंत्री होंगे. बता दें कि साल 1997 में तत्कालीन प्रधानमंत्री एच डी देवगौड़ा इसमें शामिल हुए थे, उसके बाद से भारत के किसी भी अन्य पीएम ने इसमें भाग नहीं लिया.


मोदी के कई दिग्गज मंत्री भी होंगे शामिल

भारत की ओर से कुछ वरिष्ठ मंत्री व् अन्य अधिकारी भी इसमें शिरकत कर सकते हैं. इनमें वित्त मंत्री अरूण जेटली, वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु, रेल मंत्री पीयूष गोयल, परिवहन मंत्री नितिन गडकरी और पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान के शामिल होने की संभावना है. इसके अलावा नीति आयोग के मुख्य कार्यपालक अधिकारी अमिताभ कांत तथा औद्योगिक नीति एवं संवर्द्धन विभाग (डीआईपीपी) सचिव रमेश अभिषेक के भी वहां जा सकते हैं.

बैठक में 3 हजार से भी अधिक वैश्विक नेताओं, राष्ट्र प्रमुखों, सीईओ, कलाकरों और नागरिक समाज के लोगों के भाग लेने की संभावना है. यह बैठक 26 जनवरी को संपन्न होगी.

बता दें कि विश्व आर्थिक फोरम स्विट्ज़रलैंड में स्थित एक गैर-लाभकारी संस्था है, जिसका मुख्यालय जिनेवा में है. स्विस अधिकारियों द्वारा इसे एक निजी-सार्वजनिक सहयोग के लिए एक अंतर्राष्ट्रीय संस्था के रूप में मान्यता प्राप्त हुई है. इसका मिशन विश्व के व्यवसाय, राजनीति, शैक्षिक और अन्य क्षेत्रों में अग्रणी लोगों को एक साथ ला कर वैशविक, क्षेत्रीय और औद्योगिक दिशा तय करना है.


पीएम नरेंद्र मोदी से जुडी सभी खबरें व्हाट्सएप पर पाने के लिए 783 818 6121 पर Start लिख कर भेजें.

यदि आप भी जनता को जागरूक करने में अपना योगदान देना चाहते हैं तो इसे फेसबुक पर शेयर जरूर करें. जितना ज्यादा शेयर होगी, जनता उतनी ही ज्यादा जागरूक होगी. आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं.


सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें

फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments