Home > ख़बरें > यूपी में 6 दिन थाने में बिठाये रखा नाबालिग बच्ची को, सीएम योगी तक पहुंच गयी खबर, उसके बाद…

यूपी में 6 दिन थाने में बिठाये रखा नाबालिग बच्ची को, सीएम योगी तक पहुंच गयी खबर, उसके बाद…

yogi-up-police

लखनऊ : यूपी में सीएम आदित्यनाथ प्रदेश में न्याय व्यवस्था सुधारने व् क़ानून के राल को स्थापित करने के लिए बेहद गंभीर हैं. सीएम योगी ने भी अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हुए हैं कि यदि उन्हें किसी भी तरह की लापरवाही की शिकायत मिली तो अच्छा नहीं होगा. लेकिन अभी भी राज्य के कुछ पुलिस अधिकारी पुराने ढर्रे पर चलते हुए जनता को अपने पाँव की जूती ही समझ रहे हैं हालांकि योगी ऐसे पुलिस वालों की अक्ल ठिकाने लगाने के काम में लगे हुए हैं.


नाबालिग लड़की को 6 दिनों तक थाने में बैठाए रखा !

खबर है कि यूपी के मुरादाबाद की कटघर थाना पुलिस ने एक नाबालिक लड़की को पिछले 6 दिन से थाने में बिठाया हुआ था, जोकि पूरी तरह से गैर-कानूनी है. लड़की की मां का आरोप है कि पुलिस ने जांच का बहाना लगा कर उसकी 15 वर्षीय लड़की को पिछले 6 दिनों से थाने में बैठा रखा है.

मीडिया में खबर उछलने पर यह मामला सीएम योगी आदित्यनाथ के संज्ञान में आया. सूत्रों के मुताबिक़ सीएम योगी को पता चले इससे पहले ही उच्च पुलिस अधिकारी हरकत में आ गए और मुरादाबाद के एसएसपी मनोज तिवारी ने उक्त थाने के एसआई आदेश कुमार को फ़ौरन लाइन हाजिर कर दिया.

पुलिस जांच और मेडिकल का बहाना गढ़ रही है पुलिस !

परिजनों का आरोप है कि पुलिस जांच और मेडिकल का बहाना लगा कर लड़की को उन्हें सौपने से इनकार कर रही है. लड़की की सुपर्दगी के लिए परिजन पिछले कई दिनों से थाने के चक्कर लगा रहे थे लेकिन पुलिस ने हर बार उन्हें ताल दिया, जिसके बाद थक-हार कर गुस्से में आये परिजन आज शाम से थाने पर ही डटे रहे और जमकर हंगामा किया.

खबर के बाहर आते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया और आला पुलिस अधिकारियों ने बताया कि मामले की जांच शुरू की जा चुकी है. उन्होंने बताया कि दोषियों को किसी भी हाल में बक्शा नहीं जाएगा.


मुरादाबाद के कटघर थाना क्षेत्र के गोविंद नगर में रहने वाली महिला ने 7 अप्रैल को कटघर पुलिस को लिखित शिकायत दीं थी कि नौवीं में पढ़ने वाली उसकी 15 साल की नाबालिग बेटी को एक दूसरे मुहल्ले का रहने वाला 30 वर्षीय युवक राजू बहला-फुसलाकर भगा ले गया है. शिकायत करने के कुछ दिनों के बाद पुलिस से उन्हें लड़की की बरामदगी की सूचना मिली.

लड़की को लेने जब उसके परिजन थाने पहुंचे तो पुलिसवाले उन्हें मेडिकल और पुलिस जांच की बात कह कर टालते रहे. लड़की की माँ के मुताबिक़ आरोपी युवक पहले से शादीशुदा है और उसके तीन बच्चे भी है. कायदे से कोर्ट के आदेशानुसार पुलिस को लड़की के बरामद होते ही 24 घंटे के अंदर-अंदर उसे कोर्ट में पेश करना चाहिए था लेकिन इस मामले में पुलिस ने कोर्ट के आदेशों की धज्जियां उड़ाते हुए पूरे 6 दिनों तक उसे थाने में ही बिठाये रखा.

पुलिस ने ना तो उसे कोर्ट में पेश किया और ना ही उसकी कस्टडी के लिए कोर्ट से परमीशन ली. पूरा मामला सीएम योगी के संज्ञान में आ चुका है, जिसके बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है. ख़बरों के मुताबिक़ योगी खुद इस मामले को देख सकते हैं, जिसके बाद दोषी पुलिस वालों पर गाज गिरना तय है.

वहीँ सीओ कटघर चक्रपाड़ी त्रिपाठी ने बताया कि उन्हें भी मामले की जानकारी मिल चुकी है और लड़की को चाइल्ड लाइन भेज दिया गया है. उन्होंने कहा कि पूरी ईमानदारी से जांच करके मामले की तह तक जाया जाएगा और दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की जायेगी.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments