Home > ख़बरें > पाकिस्तान के साथ मिलकर इस कांग्रेसी नेता ने किया ऐसा देशद्रोह, मोदी समेत हैरान रह गयी भारतीय सेना

पाकिस्तान के साथ मिलकर इस कांग्रेसी नेता ने किया ऐसा देशद्रोह, मोदी समेत हैरान रह गयी भारतीय सेना

pakistan

नई दिल्ली : हमारे देश के नेताओं में आज देशभक्त कम सिर्फ सत्ताभक्त रह गए हैं. इस वक़्त भारत के जवान अपनी जान दांव पर लगाकर आतंकवादियों से मुठभेड़ कर रहे हैं. आतंकवाद समर्थक पाकिस्तान हर वक़्त आतंकवादी भेजने में लगा रहता है. ऐसे में कोई नेता पाकिस्तान में जा कर पाकिस्तान की तारीफ और भारत की बुराई कैसे कर सकता है? इससे पहले जब चीन के साथ डोकलाम विवाद चल रहा था तब भी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल की परिवार समेत चीन राजदूतों के साथ तसवीरें सामने आयी थी जिसके बाद तगड़ा बवाल मचा था. तो वहीँ अब कांग्रेस के मणिशंकर अय्यर 2019 के चुनाव आने से पहले एक बार फिर पाकिस्तान पहुंच गए हैं.


2019 चुनाव से पहले फिर पहुंचे मणिशंकर पाकिस्तान

अभी मिल रही बड़ी खबर के मुताबिक जहाँ राहुल गाँधी आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत पर हमला बोल रहे हैं, उनपर शहीदों का अपमान करने का आरोप लगा रहे हैं. वहीँ पीछे से उनके ही नेता मणिशंकर अय्यर एक बार फिर पाकिस्तान के पैरों में गिर पड़े हैं.कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर इन दिनों पाकिस्तान के दौरे पर हैं. करांची पहुंचते ही मणिशंकर के दिल में पाकिस्तान के प्रति प्रेम उमड़ पड़ा है.

पाकिस्तान में मुझे भारत से ज़्यादा प्यार मिलता है

पाकिस्तान में मणिशंकर भारत के विरोध में एक से एक बढ़कर एक बयान दिए. उन्होंने कहा कि वह पाकिस्तान से इसलिए प्यार करते हैं, क्योंकि वे भारत से प्यार करते हैं. अय्यर ‘कराची लिटरेचर फेस्टिवल’ में हिस्सा लेने के लिए पाकिस्तान के दौरे पर हैं. लिटरेचर फेस्टिवल को संबोधित करते हुए उन्होंने पाकिस्‍तान की नीतियों पर खुशी जाहिर की जबकि भारतीय नीति को लेकर दुख जताया. उन्होंने कहा पाकिस्तान में मुझे भारत से ज़्यादा प्यार मिलता है. सही बात है वहां तो हाफिज सईद को भी सम्मान मिलता है वो भी पीएम मोदी और भारत के खिलाफ ज़हर उगलता है.

भारत करे पड़ोसी देशों से प्यार

मणिशंकर अय्यर ने कहा, ‘भारत और पाकिस्‍तान के बीच के मुद्दों को सुलझाने के लिए सिर्फ एक ही रास्‍ता है, और वह बातचीत का रास्ता. मुझे बहुत गर्व है कि पाकिस्‍तान ने इस नीति को स्‍वीकार कर लिया है, लेकिन दुखी भी हूं कि इसे भारतीय नीति के तौर पर नहीं अपनाया गया. उन्होंने कहा कि लगातार बातचीत से बड़ी से बड़ी समस्या का समाधान हो जाता है. अय्यर ने कहा ” भारत को भी अपने पड़ोसियों से प्यार करना चाहिए.”

मतलब आखिरकार एक इंसान इतना नीचे कैसे गिर सकता है कि वो ऐसे माहौल में भी पाकिस्तान में जाकर भारत की बुराई कर दे, जब पाकिस्तान आतंकवादी भेज रहा है, आतंकी हमले करा रहा है, हमारे जवान शहीद हो रहे हैं. उसके बाद से ये नेता कहते हैं कि भारत बातचीत करे, पड़ोसियों से प्यार करे. देश तो छड़िये अपनी आत्मा तक बेच चुके हैं ऐसे नेता.

पीएम मोदी को हटाइये

आपको याद दिला दें इससे पहले भी साल 2015 में उन्होंने पाकिस्तान के पक्ष में बयान दिया था. एक पाकिस्तानी चैनल को दिए अपने इंटरव्यू में मणिशंकर अय्यर ने कहा था कि यदि भारत और पाकिस्तान के बीच वार्ता बहाल करनी है तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को हटाना पड़ेगा. मतलब सत्ता के लिए इतना छटपटा रही है कांग्रेस कि वो भारत के दुश्मन को भी गले लगाने से पीछे नहीं हटेगी. सत्ता के भूखे भेड़िये बन चुके हैं हमारे देश के ये पाकिस्तान के जनप्रतिनिधि नेता. जो खाते तो भारत का हैं लेकिन गाते पाकिस्तान का हैं.


जब पाकिस्तान के टीवी एंकर ने पूछा कि दोनों देशों के बीच गतिरोध दूर करने के लिए क्या किया जाए तो अय्यर ने जवाब दिया, ‘पहली और सबसे बड़ी चीज है कि मोदी को हटाया जाए. केवल तभी वार्ता आगे बढ़ सकती है. हमें और चार साल इंतजार करना होगा. वे (पैनल में शामिल लोग) भले ही आशावादी हैं कि जब मोदी साहब (सत्ता में) हैं, तब हम आगे बढ़ सकते हैं, लेकिन मैं ऐसा नहीं सोचता.’’

सत्ता में वापस लाइए

उन्होंने आगे कहा, ‘‘हमें (कांग्रेस को) सत्ता में वापस लाइए और उन्हें हटाइए. (संबंध बेहतर बनाने के लिए) और कोई रास्ता नहीं है. हम उन्हें हटा देंगे लेकिन तबतक आपको (पाकिस्तान को) इंतजार करना होगा.’’

इससे पहले पिछले साल दिसंबर में गुजरात चुनाव के दौरान मणिशंकर अय्यर ने प्रधानमंत्री मोदी के लिए अपशब्दों का प्रयोग किया था. उन्होंने पीएम मोदी को नीच जाति का कहकर सम्बोधित कर दिया था. जिसके बाद कांग्रेस को बड़ी फजीहत झेलनी पड़ी थी.

तो वहीँ अब कांग्रेस ने ‘डैमेज कण्ट्रोल’ करते हुए पार्टी कि छवि को बचने के लिए मणिशंकर अय्यर के बयान से किनारा कर लिया है. कांग्रेस पार्टी सचिव और पूर्व सांसद हनुमंत राव इस मुद्दे पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को खत लिखेंगे. हनुमंत राव राहुल से मणिशंकर अय्यर को पार्टी से निकालने की मांग करेंगे.

मुंह बंद रखें अय्यर

कांग्रेस नेता हनुमंत राव भड़क गए हैं हनुमंत राव ने मंगलवार को कहा कि मणिशंकर अय्यर को पार्टी ने सबकुछ दिया, लेकिन उन्होंने हमेशा अपने बयानों से पार्टी को नुकसान हीं पहुंचाया है. अय्यर अगर कांग्रेस पार्टी का भला चाहते हैं तो मेरी सलाह है कि वे अपना मुंह बंद रखें. उनके बयानों से पार्टी को भारी नुकसान उठाना पड़ता है.

मतलब अभी भी कांग्रेस को अपनी पार्टी, चुनाव और सत्ता की चिंता है. कहीं भी ये बयान नहीं आ रहा है कि ये देश विरोधी हरकत है. इससे भारत देश का अपमान हुआ है. कासी से कड़ी सजा दी जाय. वो भी उस पाकिस्तान में जिसकी आज पूरी दुनिया में कोई इज़्ज़त नहीं रह गयी है.


यदि आप भी जनता को जागरूक करने में अपना योगदान देना चाहते हैं तो इसे फेसबुक पर शेयर जरूर करें. जितना ज्यादा शेयर होगी, जनता उतनी ही ज्यादा जागरूक होगी. आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं.


सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल

हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें

फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments

2016 DD Bharti |