Home > ख़बरें > अलगाववादियों पर मंडराया संकट तो इस कोंग्रेसी नेता ने किया कुछ ऐसा, जिसे देख आगबबूला हो उठेंगे आप

अलगाववादियों पर मंडराया संकट तो इस कोंग्रेसी नेता ने किया कुछ ऐसा, जिसे देख आगबबूला हो उठेंगे आप

gilani-manishankar-aiyar

नई दिल्ली : हाल ही में इंडिया टुडे के स्टिंग ऑपरेशन में अलगाववादी नेता ये कबूल करता पकड़ा गया कि पाकिस्तानी आतंकी कश्मीरी अलगाववादियों को पैसे भिजवाते हैं ताकि कश्मीर में अराजकता फैलाई जा सके. इसके बाद मोदी सरकार की ओर से अलगाववादियों की एनआईए जांच शुरू हो गयी और अब अलगाववादियों का खेल लगभग ख़त्म माना जा रहा है. गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी हाल में ही कहा है कि वो कश्मीर समस्या का हमेशा के लिए एक हल तलाश रहे हैं.

अलगाववादियों के बचाव में उतरा कोंग्रेसी नेता

लेकिन पूरे मामले में एक ट्विस्ट आ गया है. गिलानी को जैसे ही लगा कि खमीर में उसका खेल अब ख़त्म हो चुका है, वैसे ही कश्मीर को देश के लिए एक समस्या बनाने वाले कोंग्रेसी अलगाववादियों की डूबती हुई नैय्या को बचाने के लिए सामने आ गए हैं. नीचता की सभी हदें पार करते हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस का वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर कश्मीर में अलगाववादी नेताओं से मिलने पहुंच गया है.

बता दें कि केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साफ़ कर दिया है कि हिंसा करने वालों के साथ कोई बातचीत नहीं होगी. घाटी में पत्थरबाज़ी की घटनाओं के बीच सोशल मीडिया पर भी बैन लगाया गया है. बीबीसी को दिए एक इंटरव्यू में कांग्रेस के इस दलाल नेता ने अलगाववादियों के खिलाफ की जा रही कार्रवाई का विरोध करते हुए मोदी सरकार को उनसे बातचीत करने की सलाह दी है.

पाकिस्तान से पैसे लेकर कश्मीर में दंगा मचाने वाले अलगाववादियों का पक्ष लेते हुए मणिशंकर अय्यर नाम के इस दोगले नेता ने कहा कि गिलानी से बात नहीं करेंगे तो क्या आतंकी ज़ाकिर मूसा के साथ बात करेंगे. इसने कहा कि भारत कश्मीरियों को अपने कब्जे में नहीं ले सकता जब तक कश्मीरियों को अपने साथ ना जोड़े. वैसे कश्मीरी तो पहले से भारत के साथ ही हैं लेकिन यहाँ कश्मीरियों से इस दलाल नेता का मतलब कश्मीरी अलगाववादियों से था.

मणिशंकर अय्यर ने कहा कि. “मोदी सरकार यहां फ़ौज लाकर कश्मीरियों को दबा नहीं सकती. मैं मोदी सरकार और राजनाथ सिंह पर यकीन नहीं रखता. राजनाथ सिंह कुछ नहीं कर सकते हैं क्योंकि बीजेपी मोदी जी की तानाशाही में दबी हुई है.” कोंग्रेसी नेता के मुताबिक़ पीएम मोदी कश्मीर समस्या को हल नहीं कर पाएंगे और दो साल बाद बीजेपी की सरकार पलट जायेगी और कांग्रेस जीतेगी, तब कांग्रेस इसे हल करेगी.

आये दिन भारत के सैनिकों के सर काट ले जाने वाले पाकिस्तान पर जब सेना कार्रवाई नहीं कर रही थी, तब तो ये पीएम मोदी को गरिया रहा था, लेकिन जैसे ही सेना ने जवाब देना शुरू किया तो इस गिरे हुए नेता ने एक कदम और आगे बढ़ाते हुए पाकिस्तान का पक्ष लेना शुरू कर दिया और कश्मीर मसले पर पीएम मोदी को पाकिस्तान से बातचीत करने की सलाह दे डाली.

मणिशंकर अय्यर ने कहा कि बीजेपी और आरएसएस भारत को हिन्दू राष्ट्र बनाने में लगे हुए हैं. पत्थरबाज को जीप के आगे बाँधने वाले मेजर गोगोई को सेना द्वारा सम्मानित किये जाने से सकपाये इस नेता ने काह कि मोदी सरकार कश्मीरियों को धमकियों से दबाना चाहती है, ये बिलकुल ग़लत सोच है. इस सोच को बदलना बहुत ज़रूरी है.

वहीँ कश्मीर में बीजेपी-पीडीपी सरकार पर उंगलियां उठाते हुए इसने कहा कि यहां सरकार महबूबा मुफ़्ती के नेतृत्व में नहीं चल रही है बल्कि यहाँ के मुख्यमंत्री तो नरेंद्र मोदी हैं. बीजेपी इस सरकार को चला रही है. बीजेपी पिछले दरवाज़े से पहुंच गई और अब सिंहासन पर बैठ गई.

मणिशंकर अय्यर ने कहा कि वो चाहता है कि पत्थरबाजों को बंदूक़ से जवाब नहीं दिया जाना चाहिए वरना कल को वो पत्थर छोड़ कर हाथों में बंदूक़ उठाने लगेंगे. कुल मिलाकर देखा जाए तो पाकिस्तानी पैसे से दंगा फैलाने वाले अलगाववादियों के पक्ष में इस नेता ने खूब बयानबाजी की. चाँद पत्थरबाजों को इसने कश्मीरी जनता का नाम दे दिया और उन हजारों कश्मीरियों के बारे में भूल गया जो आज भी भारत को ही अपना देश मानते हैं. मजे की बात तो ये है कि इसे लगता है 2019 का चुनाव कांग्रेस जीतेगी और कश्मीर में पीएम मोदी के सब किये-कराये पर पानी फेर देगी.

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments