Home > ख़बरें > इनकम टैक्स विभाग का सीएम ममता बनर्जी को ज़ोरदार झटका, बुरी फंसी इस बार बचना है मुश्किल

इनकम टैक्स विभाग का सीएम ममता बनर्जी को ज़ोरदार झटका, बुरी फंसी इस बार बचना है मुश्किल

नयी दिल्ली : हमारे देश में चुनाव के वक़्त बेतहाशा पैसा पानी की तरह बहाया जाता है और इस सब पैसे का कोई ब्यौरा भी नहीं दिया जाता है. अभी मोदी सरकार ने उन सभी राजनितिक पार्टियों को ज़ोरदार झटका दिया था जब उन्होंने 2000 से ऊपर की चंदे पर कैश लेने पर ही पाबन्दी लगा दी थी. पीएम मोदी के नोटबंदी के फैसले के बाद अनेकों धन कुबेरों के पास रक्खा हुआ करोड़ों रुपया एक रात में रद्दी कागज़ में बदल गया. अब ताज़ा खबर के मुताबिक आयकर विभाग से बंगाल की सीएम ममता बनर्जी को बड़ा झटका लगा है.

शारदा चिटफंड कंपनी घोटाला व नारद स्टिंग ऑपरेशन जैसे आरोप लगने के बाद ममता सरकार की मुश्किलें एक बार फिर बढ़ने वाली हैं. इस बार इनकम टैक्स विभाग ने ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस को 2014 के आम चुनाव के दौरान खर्च किये गये 24 करोड़ रुपये का हिसाब-किताब का ब्यौरा मांग लिया है. हिसाब किताब में गड़बड़ी के कारण आयकर विभाग ने “कारण बताओ” नोटिस जारी कर दिया है.

क्या है करोड़ों रुपयों कि हेराफेरी का पूरा मामला

तृणमूल कांग्रेस ने आयकर विभाग को जो हिसाब किताब की रिपोर्ट सौंपी थी उसमें आयकर विभाग को काफी त्रुटियां मिली हैं. गौरतलब है कि आयकर विभाग ने तृणमूल कांग्रेस द्वारा खर्च किये गये लगभग 24 करोड़ रुपयों का हिसाब नहीं मिल रहा है. इसके बाद बंगाल की भाजपा पार्टी ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की अगुवाई वाली तृणमूल कांग्र्रेस को भ्रष्ट और घोटालेबाज़ करार दिया है. टीएमसी पार्टी को इस नोटिस का जवाब 20 अप्रैल तक आयकर विभाग को देना था लेकिन छह जून तक उसने जवाब नहीं दिया.

झंडे बाँटने में ही दो करोड़ खर्च कर दिए

खबर के मुताबिक तृणमूल कांग्रेस ने 2014 के चुनाव में अंधाधुंध पैसे उड़ाए, ये पैसे हेलीकॉप्टर के किराए, राजनीतिक रैली करने, पार्टी के झंडे बांटने इत्यादि में खर्च किए हैं. इस पर आयकर विभाग ने सवाल खड़ा किया है कि इन खर्चों को “अघोषित खर्च” क्यों न माना जाए? यही नहीं आयकर विभाग के नोटिस के अनुसार टीएमसी ने 2013 और 2014 के बीच 3.39 करोड़ रुपये विज्ञापन और कैंपेन पर खर्च किए जिसकी जानकारी नहीं दी गई है. सिर्फ झंडे बाँटने पर ही दो करोड़ रुपये खर्च कर दिए थे.

इसे पहले प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने नारद स्टिंग केस में भी तृणमूल कांग्रेस के मंत्री सुब्रतो मुखर्जी समेत 13 नेताओं के खिलाफ काला धन सफेद करने का केस दर्ज किया है. सीबीआई ने टीएमसी के सांसद तापस पॉल समेत कई अन्य नेताओं को रोज वैली घोटाले में भी गिरफ्तार किया हुआ है.

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments