Home > ख़बरें > भारत पाक मैच से पहले, लालू प्रसाद यादव पर चला मुसीबतों का हथौड़ा, इस बार कटेगा पत्ता

भारत पाक मैच से पहले, लालू प्रसाद यादव पर चला मुसीबतों का हथौड़ा, इस बार कटेगा पत्ता

पटना : अभी सीबीआई ने लालू प्रसाद यादव से चारा घोटाले में घंटों पूछताछ करी थी,वही उनपर मिटटी घोटाले का भी आरोप लग गया है, उनकी बेटी मीसा भारती पर 8000 करोड़ के मामले में उनका सीए गिरफ्तार हो गया. लगता है दुश्मन मारण जाप करने के बाद भी लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज़ प्रताप यादव का कुछ भला होते नहीं दिख रहा है. इस जाप में उन्हें कहा गया कि पुराने वाहन पर न चलें, इस पर उन्होंने 37 लाख की नयी फोर्ड गाड़ी खरीद ली है. लेकिन इस बार बीपीसीएल ने तेज़ प्रताप यादव के लिए एक बड़ी मुश्किल में फंस गए हैं जिससे इस बार बच पाना बहुत मुश्किल लग रहा है.


बीपीसीएल ने छीना तेजप्रताव यादव के हाथ से पेट्रोल पंप

अभी अभी आ रही खबर के अनुसार लालू के बेटे तेज प्रताप यादव के पेट्रोल पंप का लाइसेंस भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) ने रद्द कर दिया है. इस महीने तेज प्रताप को गलत तरीके से लाइसेंस लेने के आरोपों के बाद नोटिस जारी किया गया था .दरअसल पेट्रोल पंप का लाइसेंस उन्होंने हासिल किस तरह किया इसका जवाब बीपीसीएल ने 31 मई को नोटिस देकर पूछा था. जिसका उन्होने कुछ अगड़म बगड़म जवाब दिया जो कि संतोषजनक नहीं था.जबकि इसके लिए उन्हें 15 दिन का वक़्त भी दिया गया था.

फर्जी कागजात और सांठ-गाँठ से अपने नाम करवा लिया पेट्रोल पंप

दरअसल पटना के व्यस्त इलाकों में से एक बेउर जेल के पास तेज प्रताप यादव को पेट्रोल पंप आबंटित किया गया था. इसपर बिहार भाजपा के बड़े नेता सुशील कुमार मोदी ने आरोप लगाया था कि 2011 में पटना में पेट्रोल पंप का लाइसेंस लेने के लिए तेज प्रताप यादव ने फर्जी कागजात दिखाए थे. साथ ही मोदी ने यह भी आरोप लगाया था कि उन्होंने तेल कपंनी के एक अधिकारी से सांठ-गांठ कर गैरकानूनी तरीके से पेट्रोल पंप का लाइसेंस हासिल किया है.


सुशील कुमार मोदी ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि पहले तो तेज प्रताप के पास जमीन ही नहीं थी. किसी और की ज़मीन को अपने नाम पर दिखा कर पेट्रोल पंप का आवंटन ले लिया. किसी ने हमसे ये शिकायत करी तो हमने ये मुद्दा उठाया. हमें खुशी है कि भारत पेट्रोलियम ने इसको रद्द करने का आदेश दिया है.

वहीं बिहार के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा कि हम कानूनी पचड़े में नहीं पड़ेंगे. यह सब राजनीतिक साजिश है, लेकिन इनकी इस साजिश से हमारी पार्टी मजबूत होगी.

जिसके बाद मीडया में काफी बवाल खड़ा हो गया जिसके बाद बीपीसीएल ने तेजप्रताप यादव का पेट्रोलपंप का लाइसेंस रद्द कर दिया, हालाँकि उन अफसरों पर कार्यवाही अभी हुई या नहीं जिन्होंने गैरकानूनी तरीक से तेज प्रताप यादव को पेट्रोल पंप आबंटित किया, ये नहीं पता चल सका है.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments