Home > ख़बरें > पाक ने कूलभूषण को दी मौत की सजा तो खौला व्यापारियों का खून, जिनपिंग बोले,अब पाक का बंटाधार

पाक ने कूलभूषण को दी मौत की सजा तो खौला व्यापारियों का खून, जिनपिंग बोले,अब पाक का बंटाधार

india-pak-trade-modi-nawaz

नई दिल्ली : पाकिस्तान ने भले ही भारतीय नौ सेना के पूर्व अधिकारी कूलभूषण जाधव को मौत की सजा सुना दी, लेकिन अब उसे अपना ही दांव बुरी तरह से भारी पड़ गया है. भारत के एक कदम से पाकिस्तान के भूखे मरने की नौबत आ गयी है. ये खबर अपने आप में इतनी अहम् है कि इसके सामने आते ही पाक मीडिया में हड़कंप मच गया है.

व्यापारिक वर्ग की पाकिस्तानी को चेतावनी !

दरअसल भारत के व्यापारियों ने पाकिस्तान के साथ भी वही सलूक करने की ठान ली है, जो दिवाली के मौके पर उन्होंने चीन के साथ किया था. गौरतलब है कि चीन द्वारा पाकिस्तानी आतंकियों का साथ दिए जाने के चलते पिछले साल दिवाली पर व्यापारियों ने चीनी सामान का बहिष्कार कर दिया था. आम जनता ने भी चीनी सामान का बहिष्कार कर दिया था, जिसके कारण चीन को अरबों का नुक्सान हुआ था.

मंगलवार को व्यापारिक वर्ग की अगुवाई कर रहे अनिल मेहरा ने पाकिस्तान को चेतावनी दे दी कि यदि उसने कुलभूषण जाधव को फांसी दी तो भारतीय व्यापारी पाकिस्तान के साथ व्यापार पूरी तरफ से बंद कर देंगे. खराब रिश्तों के चलते दोनों देशों के बीच व्यापार कुछ ख़ास नहीं हो रहा है. रेल यातायात के साथ-साथ सड़क मार्ग से होने वाले व्यापार में भी भारी गिरावट देखी जा रही है.


संबंधों में तल्खी के कारण पाकिस्तान का भारी नुक्सान !

कुलभूषण जाधव को फांसी की सजा दिए जाने को लेकर भारत-पाक संबंधों में आयी तल्खी के कारण मंगलवार को केवल पांच ट्रक ही पाकिस्तान गए. हालांकि पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था का बड़ा हिस्सा भारत के साथ व्यापार पर ही टिका हुआ है, इसलिए खराब रिश्तों के बावजूद पाकिस्तान की ओर से 139 ट्रक भारत की सीमा में दाखिल हुए.

ख़बरों के मुताबिक़ व्यापारिक वर्ग की ओर से आयी चेतावनी से पाकिस्तान के हाथ-पाँव ढीले पड़ गए हैं. पाक मीडिया में चर्चा की जा रही है कि यदि भारतीय चीन के साथ व्यापार का बहिष्कार करके चीन को घुटनों पर ला सकते हैं, तो पाकिस्तान के साथ तो वो ऐसा बड़ी ख़ुशी से करेंगे और पाकिस्तान में भूखों मरने की नौबत आ जायेगी.

पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ने सुझाया विकल्प !

वहीँ भारत की ओर से दबाव के चलते पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ ने कुलभूषण जाधव को दी गई फांसी की सजा पर नरमी दिखाते हुए 60 दिन के अंदर-अंदर अपील करने का विकल्प सुझाया है. इस अपील के जरिये जाधव की जान बच सकती है. वहीँ व्यापारी वर्ग अपनी चेतावनी पर अड़े हुए हैं, उनके मुताबिक़ वो नुक्सान उठा लेंगे लेकिन यदि पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव को फांसी दी तो वो पाकिस्तान के साथ व्यापार करना बंद कर देंगे.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments