Home > ख़बरें > पीएम नरेंद्र मोदी से भिड़ गयीं ममता बनर्जी, दबंगई दिखाते हुए खुलेआम तोड़ डाला सरकारी फरमान

पीएम नरेंद्र मोदी से भिड़ गयीं ममता बनर्जी, दबंगई दिखाते हुए खुलेआम तोड़ डाला सरकारी फरमान

tipu-sultan-masjid-imam-modi

नई दिल्ली : प्रधानमन्त्री होने के बावजूद खुद को देश का प्रधानसेवक कहने वाले पीएम मोदी देश व् देशवासियों के भले के लिए काफी अहम् फैसले ले रहे हैं. पीएम मोदी का पूरा प्रयास रहा है की देश के लोगों का जीवन उन्नत हो और दशा में भी सुधार आये. लेकिन अफ़सोस की बात तो ये है कि पीएम मोदी के इस मिशन में बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पलीता लगा दिया है.

सीनाजोरी पर उतरी ममता !

अधिकतर नेता जो खुद को जनता का माईबाप समझते आये हैं और जनता को अपने पाँव की जूती, ऐसे वीवीआईपी कल्चर को खत्म करने के लिए पीएम मोदी ने नेताओं की गाड़ियों पर लाल और नीली बत्ती पर 1 मई से रोक लगा दी थी. इस रोक के पीछे आशय ये था कि जनता और नेताओं में कोई फर्क नहीं होना चाहिए. लाल और नीली बत्ती को खत्म किया जाना चाहिए.

लेकिन ममता बनर्जी के सर पर सत्ता का नशा ऐसा सवार हो चुका है, जो उतरने का नाम ही नहीं ले रहा है. पीएम मोदी के आदेश का उलंघन करते हुए कोलकाता की टीपू सुल्तान मस्जिद के शाही इमाम अभी भी अपनी गाड़ी पर लाल बत्ती लगाकर घूम रहे हैं. जब उनसे इस बारे में बात कि गयी तो, उन्होंने कहा कि उन्हें ममता बनर्जी ने ऐसा करने के लिए कहा है.

शाही इमाम ने बताया कि ममता बनर्जी ने उनसे कहा है कि आप लाल बत्ती जला के रखें, खूब जलाएं, हम हैं, आप लाल बत्ती लगा के घूमते रहें. आपकी जानकारी के लिए बता दें की ये वही इमाम है, जो आयेदिन फतवे भी जारी करता रहता है. नोटेबंदी के दौरान इसने पीएम मोदी के खिलाफ भी फतवा जारी किया था और ममता ने इसके खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया था.

महाभ्रष्ट हैं लेकिन लाल बत्ती जरूर चाहिए !

नए नियमों के मुताबिक, केवल पुलिस वैन, फायर ब्रिगेड और एंबुलेंस के अलावा कोई भी लाल बत्ती का इस्तेमाल नहीं कर सकता, यहाँ तक कि खुद प्रधानमंत्री भी इसका इस्तमाल नहीं कर रहे हैं लेकिन ममता के सर से सत्ता का नशा जाने का नाम नहीं ले रहा.

सारदा से लेकर नारदा और रोजवैली चिटफंड घोटाले तक में गले तक डूबी ममता सरकार तो मानो खुद को बंगाल का तानाशाह ही सझते हैं. घोटालों के चलते तृणमूल कांग्रेस के सांसद कुणाल घोष, श्रींजॉय बोस, सुदीप बांदोपाध्‍याय समेत राज्‍य सरकार में मंत्री रहे मदन मित्रा तक जेल कि हवा खा रहे हैं. यहाँ तक कि ममता खुद जेल जा सकती हैं लेकिन लाल बत्ती जरूर लगाएंगी. खुद तो लगाएंगी ही, साथ में इमाम भी लगाएंगे जबकि वो कोई सरकारी नेता भी नहीं है.

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments