Home > ख़बरें > ट्रम्प ने धारण किया रौंद्र रूप, अमेरिकी सेना के अबतक के सबसे बड़े हमले से पाकिस्तान में चीख-पुकार !

ट्रम्प ने धारण किया रौंद्र रूप, अमेरिकी सेना के अबतक के सबसे बड़े हमले से पाकिस्तान में चीख-पुकार !

usa-moab

नई दिल्ली : अभी-अभी आयी एक बेहद अहम् खबर भारत के लिए बेहद सुकून भरी है. दरअसल इस्लामिक स्टेट यानी आईएसआईएस आतंकियों का खुरासान मॉड्यूल जिसके जरिये आईएस भारत समेत एशिया के बड़े हिस्से पर अपना कब्ज़ा जमाने के ख़्वाब देख रहा था. उसी खुरासान मॉड्यूल का मुख्यालय अमेरिका द्वारा किये गए हमले में पूरी तरह से नष्ट हो गया है. वहीँ इस खबर से पाक मीडिया में हड़कंप मच गया है.

अमेरिका ने किया भीषण हमला !

दरअसल कल अमेरिका ने अफगानिस्तान के नंगरहार में खूंखार आतंकी संगठन आईएस के खिलाफ सबसे बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए उसके ठिकानों पर MOAB (मदर ऑफ ऑल बॉम्ब) यानी ‘सबसे बड़ा गैर-परमाणु बम’ गिरा दिया. ख़बरों के मुताबिक़ अमेरिका के इस भीषण हमले में भारत पर कब्जा करने का ख़्वाब देख रहे आईएस के खुरासान मॉड्यूल का भी नामोनिशान मिट गया है.

इस खबर के सामने आते ही जहाँ एक ओर भारतीय सुरक्षा एजेंसियों ने राहत की सांस ली, वहीँ पाक मीडिया में तो जबरदस्त हड़कंप मच गया. दरअसल अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प पहले भी पाकिस्तान को चेतावनी दे चुके हैं कि वो आतंकियों को अपनी जमीन का इस्तमाल ना करने दे वरना अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहे. अब अफगानिस्तान में आतंकी ठिकानों पर हमले के कारण पाक मीडिया का कहना है कि अमेरिका आतंकियों पर हमला करने के नाम पर पाकिस्तान पर भी ऐसी कार्रवाई कर सकता है.


भारतीय युवक भी ले रहे थे ट्रेनिंग !

अमेरिका के इस भीषण हमले में सैकड़ों आईएस आतंकियों समेत 20 भारतीय आतंकियों के मारे जाने की भी खबर है. ख़बरों के मुताबिक़ मारे गए खुरासान मॉडयूल के भारतीय आतंकी आईएस के गुप्त ठिकानों पर आतंकी ट्रेनिंग ले रहे थे. इनमे से ज्यादातर युवा दक्षिण भारत के रहने वाले थे. भारत के साथ-साथ बांग्लादेश और मालदीव के भी कुछ युवक वहां आतंकी ट्रेनिंग ले रहे थे.

गौरतलब है कि पिछले महीने ही यूपी एटीएस ने लखनऊ में सैफुल्ला नाम के एक आतंकी का एनकाउंटर कर दिया था. जिसके बाद इस केस से जुड़े कई अन्य लोगों को कानपुर से भी गिरफ्तार किया गया था. गिरफ्तार किये इन लोगों के पास से यूपी एटीएस को ऐसे खुफिया दस्तावेज मिले थे, जिनसे इनके आईएस के खुरासान मॉड्यूल से प्रभावित होने की पुष्टि हुई थी. बताते चलें कि भारत के कई नेताओं ने मारे गए आतंकियों के नाम पर भी राजनीति करनी शुरू कर दी थी और इसे बीजेपी की साजिश तक बता दिया था.

क्या है खुरासान मॉड्यूल !

दरअसल खुरासान अफगानिस्तान का पुराना नाम है. इसी नाम से आईएस के इस आतंकी मॉड्यूल को बनाया गया है, जिसका उद्देशय है भारत समेत एशिया के बड़े हिस्से पर अपना कब्ज़ा ज़माना. खुरासान मॉडयूल पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई का भी समर्थक माना जाता है.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments