Home > ख़बरें > केजरीवाल के हवाला लिंक का पर्दाफ़ाश, मंत्री जी के खिलाफ सीबीआई के पास पुख्ता सबूत?

केजरीवाल के हवाला लिंक का पर्दाफ़ाश, मंत्री जी के खिलाफ सीबीआई के पास पुख्ता सबूत?

kejriwal-satyendra-jain-hawala

नई दिल्ली : बंगाल में चल रहे गोरखधंधों के तार किस तरह से दिल्ली में केजरीवाल के करीबियों से जुड़े हुए हैं इस बात का पर्दाफ़ाश हो चुका है. हवाला का सारा खेल केवल ममता के बंगाल में ही नहीं चल रहा था, बल्कि उसके तार तो कई अन्य राज्यों से भी जुड़े हुए हैं.


कुछ ही वक़्त पहले आयकर विभाग ने जब कोलकाता में छापेमारी की तो वहां से बरामद हुए दस्तावेजों का केजरीवाल के करीबी सत्येंद्र जैन से कनेक्शन पाया गया. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के ये मंत्री साहब अब इनकम टैक्स के रडार पर आ गए हैं. इनकम टैक्स विभाग ने मंत्री जी को दो नोटिस भेज दिए हैं.

पहला नोटिस तो कोलकाता की छापेमारी में मिले दस्तावेजों के सिलसिले में भेजा गया है क्योंकि इनकम टैक्स विभाग उनके दिए गए जवाब से संतुष्ट नहीं था और दूसरा नोटिस उस वर्ष की उनकी आय के बारे में जानकारी देने के लिए भेजा गया है.

इसके अलावा मंत्री जी अपने हवाला कनेक्शन में भी फंसते नजर आ रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़ इनकम टैक्स विभाग के पास पुख्ता सबूत हैं कि सत्येंद्र के हवाला कारोबियों से सम्बन्ध है। रिपोर्ट्स के मुताबिक़ हवाला कारोबारी सीधे सत्येंद्र जैन से फोन पर बात करते थे। स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन को केजरीवाल का विश्वासपात्र माना जाता है. यदि उनके तार हवाला कारोबारियों से जुड़े हैं तो इस बात में संशय करने की कोई वजह नहीं रह जायेगी कि केजरीवाल के सम्बन्ध भी हवाला कारोबारियों से हो सकते हैं. ऐसे में जांच की सुई केजरीवाल की तरफ भी मुड़ जायेगी.


वहीं, कांग्रेस नेता शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा कि आरोप गंभीर हैं, सत्येंद्र जैन जैसा गंभीर छवि वाला नेता भी ऐसे आरोपों से घिरा है, ये आश्चर्यजनक है। केजरीवाल को अपने मंत्री से इस्तीफा लेना चाहिए। बीजेपी नेता आरपी सिंह के मुताबिक़ सत्येंद्र जैन अपने कालेधन को फ़र्ज़ी कंपनियों की मदद से रूट किया करते थे। इसलिए ये बात तो स्पष्ट है कि हवाला रैकेट चल रहा था।

क्या है पूरा मामला?

आपको बता दें कि 2010 से 2016 के बीच सत्येंद्र जैन और उनकी पत्नी के मालिकाना हक वाली चार कंपनियों ने 56 ऐसी कंपनियों के जरिए 16.39 करोड़ रुपये दूसरी जगह भिजवाये जो मात्र कागजी तौर पर मौजूद थीं, सारा काम गैरकानूनी ढंग से हुआ। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इनकम टैक्स विभाग के इन दस्तावेज़ों में हवाला कारोबारियों के दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन से सीधे संपर्क थे। केजरीवाल के ये होनहार मंत्री हवाला कारोबारियों के जरिये से करीब 17 करोड़ रुपये की उलटफेर के मामले में भी इनकम टैक्स विभाग की नजरों में हैं।

आपको याद होगा कि पिछले साल दिसंबर के महीने में सीबीआई ने दिल्ली के इन्ही मंत्री के ओएसडी (ऑफिसर ऑन स्पेशल ड्यूटी) निकुंज अग्रवाल के दिल्ली सचिवालय के ऑफिस पर छापेमारी की थी। सीबीआई की एक टीम ने अनूप मोहता के दफ्तर में भी छापा मारा था। अब धुंआ उठ रहा है तो आग भी कहीं ना कहीं तो लगी ही होगी, जानकारों के मुताबिक़ कालेधन के खिलाफ चल रही इस देशव्यापी मुहिम में कई बड़े नेता जल्द ही जेल जाने वाले हैं.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments