Home > ख़बरें > पीएम मोदी पर आयी इस रिपोर्ट को पढ़कर आपकी आँखें फटी रह जाएंगी, काम बोलता है जी !

पीएम मोदी पर आयी इस रिपोर्ट को पढ़कर आपकी आँखें फटी रह जाएंगी, काम बोलता है जी !

modi-rahul-sonia

नई दिल्‍ली : पीएम मोदी ने देश में कालेधन के खिलाफ बिगुल फूंका हुआ है. इसी के तहत देश में 500 और 1000 के नोटों को भी बंद किया गया. हालांकि विपक्षी नेताओं ने पीएम मोदी पर आरोप लगाते हुए पूछा था कि मोदी बताएं कि कितना कालाधन सामने आया है. अब कालेधन को लेकर जो खुलासा हुआ है उसने विपक्ष की जबान पर ताला लगा दिया है.


तीन साल की रिपोर्ट !

आयकर विभाग के मुताबिक़ पिछले तीन वित्‍त वर्ष और जनवरी 2017 तक देश में लगभग 2534 लोगों की जांच की गयी, जिसमे 45 हज़ार 622 करोड़ रुपए की अघोषित आय का खुलासा किया गया है. वित्त राज्यमंत्री संतोष गंगवार ने बताया कि पिछले तीन वर्षों में आयकर विभाग ने 2534 लोगों पर कार्यवाही की है, जिसमे 45 हज़ार 622 करोड़ रुपए की अघोषित आय पकड़ी गयी है और इसके साथ-साथ विभाग ने 3625 करोड़ रुपए की अवैध संपत्ति, नकदी और सोना इत्यादि को भी जब्त किया है.

वित्त राज्यमंत्री ने आगे बताया कि आयकर विभाग ने इनमे से 2432 मामलों में मुक़दमे भी दर्ज कराये हैं. आयकर अधिनियम के तहत अपराध के मामलों में विभाग के पास समझौते के लिए भी तकरीबन 4 हज़ार 260 आवेदन प्राप्त हुए. पिछले तीन वर्षों में 116 लोगों को अदालतों द्वारा दोषी भी ठहराया जा चुका है. टैक्स की चोरी रोकने के लिए भी मोदी सरकार ने कई कदम उठाये है.


कालेधन कुबेरों की पूरी सफाई !

अघोषित आय के अलावा देश में कालेधन का पता लगाने के लिए सुप्रीम कोर्ट की ओर से बनाये गयी एसआईटी ने आंकड़े जारी करते हुए बताया कि देश में अब तक 70 हज़ार करोड़ रुपये के काला धन का खुलासा हो चुका है. कालेधन की ये रकम कितनी ज्यादा है इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि ये रकम तो कई छोटे देशों की अर्थव्यवस्था से भी ज्यादा है.

इसके साथ-साथ ऐसे 18 लाख लोगों की भी पहचान की गयी है, जिनके बैंक खातों में जमा रकम पर विभाग को शक है. इन खातों में वैसे तो काफी वक़्त से कोई लेनदेन नहीं हो रहा था लेकिन नोटबंदी के दौरान एकदम से एक लाख या इससे भी ज्यादा के पुराने नोट जमा कराए गए थे.

कुल मिलाकर देखा जाए तो अब धीरे-धीर जो आंकड़े सामने आते जा रहे हैं, उनसे स्पष्ट है कि मोदी सरकार के आने से पहले देश में अरबों का कालाधन घूम रहा था. कालेधन कुबेर हज़ारों करोड़ों की अवैध संपत्ति पर कुंडली मारे बैठे थे ओर देश की आम जनता गरीबी में पिस रही थी. पीएम मोदी के एक्शन से साफ़ है कि जब तक भारत से कालेधन को पूरी तरह से ख़त्म करके कालाबाजारियों को वो सलाखों के पीछे नहीं भेज देते तब तक चैन से बैठने वाले नहीं हैं.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments