Home > ख़बरें > योगी के गढ़ में पीएम मोदी की बड़ी कार्रवाई, सरकारी अफसरों समेत नेताओं में मची भगदड़ !

योगी के गढ़ में पीएम मोदी की बड़ी कार्रवाई, सरकारी अफसरों समेत नेताओं में मची भगदड़ !

modi-yogi-mayawati

नोएडा : यूपी में सपा व् बसपा सरकार के वक़्त क्या काले कारनामे हो रहे थे, उनका कच्चा-चिट्ठा अब खुलने लगा है. सीएम योगी आदित्यनाथ भ्रष्टाचारियों को बक्शने के मूड में बिलकुल भी नहीं हैं. वहीँ मोदी सरकार ने भी भ्रष्टारियों को ढूंढ निकालने के लिए जांच एजेंसियों के हाथ खोल दिए हैं. अभी-अभी एक ऐसी खबर सामने आ रही है, जिसे देख सपा, बसपा समेत ‘कमाऊ’ सरकारी विभागों के अफसरों-कर्मचारियों में हड़कंप मच गया है.


कानपुर से नोएडा तक ताबड़तोड़ छापेमारी !

खबर है कि कानपुर से नोएडा तक इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की टीमें अलग-अलग विभागों के सरकारी अधिकारियों के ठिकानों पर ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही हैं. इन छापों में अब तक करोड़ों रुपये व् अवैध सम्पत्तियाँ बरामद की जा चुकी हैं. इसी कड़ी में आज इनकम टैक्स अधिकारियों ने मायावती सरकार के दौरान नोएडा अथॉरिटी के ओएसडी रहे यशपाल त्यागी के नोएडा समेत 4 ठिकानों पर छापेमारी की.

बहुत मौज उड़ाई, अब जाएंगे जेल !

इन छापेमारियों से प्रदेश में बिल्डर और नेताओं की सांठ-गाँठ का खुलासा हुआ है. खबर है कि मायावती के भाई आनंद के साथ यशपाल त्यागी की काफी नजदीकी थी. इन पर आरोप है कि इन्होने पद का दुरूपयोग करके ग्रेटर नोएडा और यमुना एक्सप्रेसवे के अलॉटमेंट्स में धांधली की थी.

इसी के साथ-साथ यशपाल पर ये भी आरोप है कि इन्होने 155 फार्म हाउसों और 300 कॉर्पोरेट ऑफिस के अलॉटमेंट में बिचौलिये की भूमिका निभायी और जमकर कमीशनखोरी की.

इससे पहले मंगलवार और बुधवार को भी इनकम टैक्स अधिकारियों ने कानपुर से लेकर नोएडा तक जो छापेमारी की, उसमे काफी मात्रा में कालाधन बरामद हुआ. खबर है कि इनकम टैक्स अधिकारियों ने इन छापेमारी में तकरीबन 11 करोड़ रुपये की नकदी बरामद की.


ट्रांसपोर्ट ऑफिस के अफसर का पर्दाफ़ाश !

मंगलवार को कानपुर में इनकम टैक्स अधिकारियों ने रीजनल ट्रांसपोर्ट ऑफिस के एक अफसर के तिलक नगर स्थित फ्लैट पर छापा मारा. सूत्रों के मुताबिक़ छापेमारी में इनकम टैक्स अधिकारियों ने 87 लाख रुपये के नए नोट बरामद किये.

खबर ये भी है कि नवंबर में नोटबंदी के दौरान इस अधिकारी ने लगभग 1 करोड़ रुपये के पुराने नोट गोरखधंधा करके बदलवाए थे. लखनऊ में उनके एक फ्लैट को भी इनकम टैक्स अधिकारियों ने सीज कर दिया है. इसके साथ ही इनकम टैक्स अधिकारियों के इनके कई अन्य फ्लैट्स के बारे में जानकारी भी मिली है. इस अधिकारी के पति भी कमर्शल टैक्स डिपार्टमेंट में बड़े अधिकारी हैं. यहां छापेमारी होने के साथ-साथ एक प्राइवेट ट्रैवल ऑपरेटर के ठिकानों पर भी इनकम टैक्स अधिकारियों ने छापे मारे.

अडिशनल कमिश्नर साहब को भी होंगे जेल के दर्शन !

कल इनकम टैक्स अधिकारियों ने लखनपुर में कमर्शल टैक्स के अडिशनल कमिश्नर (एसी) लेवल के अधिकारी केशवलाल के घर पर भी छापेमारी की. ख़बरों के मुताबिक़ छापेमारी के वक़्त ये अधिकारी अपने घर पर नहीं थे. कानपुर के अलावा उनके नोएडा स्थित दो फ्लैटों पर भी अधिकारियों ने छापेमारी की.

देर रात तक चली इस छापेमारी के दौरान आयकर अधिकारी तब हैरान रह गए जब उन्होंने देखा कि साहब ने डबल बेड के नीचे और अलमारियों में 10 करोड़ रुपये के नोट छिपाकर रखे हुए थे. इसके साथ-साथ कई अघोषित सम्पत्तियों के दस्तावेज भी बरामद किये गए.

कल शाम को ही साहब को पूछताछ के लिए लखनऊ से वापस बुलाया गया. अभी पिछले सप्ताह ही कानपुर के एक नामी प्राइवेट स्कूल पर भी कमर्शल टैक्स टीम ने छापा मारा था, जिसमे काफी गड़बड़ियां सामने आयी थीं. कुल मिलाकर देखा जाए तो उत्तर प्रदेश में बड़े पैमाने पर सफाई अभियान शुरू हो चुका है. जल्द ही इस अभियान में कई पूर्व नेताओं के लपेटे में आने की पूरी-पूरी संभावना जताई जा रही है. सपा व् बसपा सरकारों के दौरान जिस तरह से बड़े पैमाने पर जनता के टैक्स के पैसों की संगठित लूट हुई थी, उसका पाई-पाई वसूला जाएगा और दोषियों को जेल की हवा भी खिलाई जायेगी.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments