Home > ख़बरें > सेना का सबसे भयंकर संग्राम,खून से नहला दी कश्मीर घाटी, ऐसा एक्शन देख काँप उठा हर पत्थरबाज

सेना का सबसे भयंकर संग्राम,खून से नहला दी कश्मीर घाटी, ऐसा एक्शन देख काँप उठा हर पत्थरबाज

श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर से एक बहुत बड़ी खबर सामने आई है. हमारे देश जाबांज़ सुरक्षाबलों ने एक बार फिर उन आतंक प्रेमियों को दिखा दिया कि अब कश्मीर के दिन बदल गए हैं अब यहाँ सिर्फ शांति बहाल की जाएगी. जिसके लिए सेना की 150 आतंकियों की हिटलिस्ट में से धड़ाधड़ बड़े नाम कट रहे हैं.


बहुत बड़ी खबर – जाबांज़ सेना को मिली ज़बरदस्त कामयाबी !

अभी-अभी एएनआई न्यूज़ एजेंसी से बहुत बड़ी खबर सामने आ रही है जिसमें जम्मू-कश्मीर के बारामूला में सुरक्षाबलों ओर आतंकियों के बीच में घंटों से एनकाउंटर चल रहा है. जिसमें अब ज़बरदस्त खुशखबरी आयी है कि सेना स्पेशल अफसर ओर पुलिस के साथ मिलकर जैश-ए-मोहम्मद के ऑपरेशन हेड अबु खालिद को मार गिराया है. खालिद पिछले हफ्ते बीएसएफ कैंप पर हुए हमले का मास्टरमाइंड था जिसके बाद रक्षामंत्रालय से इसे हर हाल में ढूंढ कर मारने के आदेश जारी किये गए थे.

टांग में लगी गोली फिर बना दिए छेद ही छेद

दरअसल ये आतंकवादी खालिद एक घर में छुपकर बैठा था. सेना को जैसे ही खबर मिली तो ऑपरेशन आल आउट ओर ऑपरेशन कासों ने काम करना शुरू कर दिया. चौतरफा घेरा बनाकर आतंकी कमांडर को घेर लिए. एनकाउंटर में सबसे पहले सेना की गोली खालिद के पैर में लगी. जिससे वो चीख पड़ा. जिसके बाद सटीक जानकारी के मुताबिक सेना ने ना आव देखा न ताव ज़िंदा पकड़ने के बजाय खालिद के अंदर चाय छानने वाली छन्नी जितने छेद कर दिए. ये A++ कैटेगरी का आतंकी था.

 


ऑपरेशन कासो ओर ऑपरेशन आल आउट जारी, मातम शुरू

अभी इसके आतंकी खालिद के ओर साथी के छिपे होने की आशंका है. ऐसे में सेना का ऑपरेशन बड़े पैमाने पर चलाया जा रहा है. सेना ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर रखी है.बताया जा रहा है कि खालिद के तार पाकिस्तान से जुड़े थे और सीमापार से मिल रही मदद से वो लगातार घाटी में आतंकी गतिविधियां चला रहा था. इसके मरने की खबर मिलते ही घाटी में कुछ आतंकी प्रेमियों के घर में मातम शुरू हो गया है. गलियों में सन्नाटा छा गया है. अलगावादियों की गिरफ़्तारी ओर पैसे की कंगाली से पत्थरबाज बेरोज़गार हो गए हैं.

देश के दोगले करते हैं आतंकियों के मानवाधिकारों की बात

सेना ने अब ज़िंदा पकड़ना बंद कर दिया है क्यूंकि उन्हें पता है कि देश में ऐसे दोगले वामपंथी विचारधारा वाले बैठे हैं जो आतंकवादियों के सरंक्षण के लिए आधी रात को सुपरमे कोर्ट खुलवा देते हैं. यही वजह है की आज हमारी सेना पूरे जोश में दिखती है. पह्ले दूसरे देश हमले की धमकी दे कर चले जाते थे. लेकिन मोदी सरकार के खुली छूट देने के बाद आजकल हमारे सेना चीफ बिपिन रावत ज़मीन में ढाई फ़ीट गाड़ देने और वायु सेना चीफ का कहना कि हम हर वक़्त युद्ध के लिए तैयार है बस मोदी सरकार के कहने की देर है.

राजनाथ सिंह के आदेश गोली के बदले मारो गोला

अभी एक दो दिन पहले ही केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा था कि भारतीय फौज रोजाना पांच-छह आतंकवादियों को ढेर कर रही है. उन्होंने कहा कि भारत-पाकिस्तान सीमा पर भी सीजफायर का उल्लंघन होने पर मुंहतोड़ जवाब देते हुए एक गोली के बदले में बम का गोला मार दो ऐसा कहा गया है.


यदि आप भी जनता को जागरूक करने में अपना योगदान देना चाहते हैं तो इसे फेसबुक पर शेयर जरूर करें. जितना ज्यादा शेयर होगी, जनता उतनी ही ज्यादा जागरूक होगी. आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं.

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें

फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments