Home > ख़बरें > इज्राएली पीएम के भारत दौरे के दौरान मोदी करने जा रहे हैं ये काम, एलओसी पर काँप उठी पाक फ़ौज

इज्राएली पीएम के भारत दौरे के दौरान मोदी करने जा रहे हैं ये काम, एलओसी पर काँप उठी पाक फ़ौज

spike-missile-israel

नई दिल्ली : कुछ ही वक़्त पहले पीएम मोदी इजराइल की यात्रा पर गए थे और ऐसा करने वाले पहले भारतीय प्रधानमंत्री बने थे. पीएम मोदी ने इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू को भारत दौरे के लिए आमंत्रित भी किया था. अगले सप्ताह इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू भारत आ रहे हैं. सबसे अहम् बात ये है कि इजराइल के पीएम खाली हाथ नहीं आ रहे बल्कि अपने दोस्त मोदी के लिए ख़ास तोहफे भी ला रहे हैं.


इजराइल देगा टैंक को तबाह करने वाली मिसाइल

खारे पानी को पीने लायक शुद्ध बनाने वाले गल-मोबाइल जीप के अलावा टैंक के परखच्चे उड़ा देने वाली मिसाइल भी भारत को मिलेगी. खबर है कि भारत में इज्राएली पीएम के आने के बाद कई सैन्य सौदों पर हस्ताक्षर होंगे.

भारत अपनी अंतरराष्ट्रीय सीमाओं पर सुरक्षा व्यवस्था को और मजबूत करने की ओर कदम बढ़ाएगा और इजराइल इसमें भारत का पूरा साथ देगा. नेतन्याहू के दौरे पर भारत इजराइल से टैंक रोधी निर्देशित मिसाइल एटीजीएम स्पाइक खरीदने जा रहा है. यह सौदा सरकार-से-सरकार के स्तर पर होगा.

अपने दोस्त मोदी के लिए क्या गिफ्ट लाएंगे नेतन्याहू

बता दें कि पहले पीएम मोदी जब इजराइल गए थे, तब इजराइल के प्रधानमंत्री वेंजामिन नेतन्याहू ने बढ़-चढ़ कर पीएम मोदी का स्वागत किया था, मानो बचपन के दो दोस्त सालों बाद मिले हों. अब इज्राएली पीएम भारत दौरे के दौरान भी पीएम मोदी के लिए खास गिफ्ट ला रहे हैं.

नेतन्याहू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को तोहफे के तौर पर समंदर के पानी को स्वच्ठ करने वाली गाड़ी दे सकते हैं. इजरायल में दोनो नेता समंदर तट पर गए थे और समंदर का साफ किया पानी पीएम मोदी को पिलाया था.


एटीजीएम स्पाइक मिसाइल से दुश्मनों के उड़ेंगे परखच्चे

खबर है कि इसी दौरान भारत 50 करोड़ डॉलर की लागत से सेना के लिये एटीजीएम (मिसाइल) खरीदने की योजना बना रहा है. आधिकारिक सूत्रों ने जानकारी दी है कि सरकार अब सरकार-से-सरकार के स्तर पर इजराइल से मिसाइल की खरीद पर विचार कर रही है.

जिस तरह से मोदी सरकार ने फ्रांस से 36 राफेल जेट खरीदने का सौदा किया था, उसी की तर्ज पर ये डील भी की जायेगी. भारत के तत्कालीन रक्षामंत्री मनोहर पर्रीकर ने 59,000 करोड़ की ये डील 23 सितंबर, 2016 को फ्रांस के रक्षामंत्री ज्यां ईव द्रियां के साथ साइन की थी.

इस डील के मुताबिक भारत को 36 राफेल फाइटर जेट विमान मिलने हैं. पहला विमान सितंबर 2019 तक मिलने की उम्मीद है और बाकी के विमान बीच-बीच में 2022 तक मिलने की उम्मीद जताई जा रही है.

भारत और इजराइल के रक्षा संबंध तो पहले ही अच्छे थे लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पिछले साल हुए इस्राइल के दौरे से और भी बेहतर हो गए हैं. नेतन्याहू की इस यात्रा से दोनों देशों के बीच संबंध में और मजबूती आने की उम्मीद की जा रही है.

इजराइल की सहायता से एलओसी पर सीमा सुरक्षा इतनी मजबूत हो जायेगी कि दुश्मन की घुसपैठ नामुमकिन हो जायेगी. पाकिस्तान जो आये दिन सीजफायर का उलंघन करता रहता है, वो बंद हो जाएगा, आतंकियों की घुसपैठ भी रुक जायेगी.


पीएम नरेंद्र मोदी से जुडी सभी खबरें व्हाट्सएप पर पाने के लिए 783 818 6121 पर Start लिख कर भेजें.

यदि आप भी जनता को जागरूक करने में अपना योगदान देना चाहते हैं तो इसे फेसबुक पर शेयर जरूर करें. जितना ज्यादा शेयर होगी, जनता उतनी ही ज्यादा जागरूक होगी. आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं.


सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें

फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments