Home > ख़बरें > पाकिस्तान की छाती पर किया मोदी सरकार ने जबरदस्त कारनामा, लाहौर में लहराता दिखेगा तिरंगा

पाकिस्तान की छाती पर किया मोदी सरकार ने जबरदस्त कारनामा, लाहौर में लहराता दिखेगा तिरंगा

atari-border-flag

नई दिल्ली : भारत के कश्मीर पर कब्जा करने का ख्वाब पालने वाला पाकिस्तान अक्सर ही भारत में अपने आतंकियों की घुसपैठ कराता रहता है. जिसके कारण आये दिन कश्मीर में तनाव फैलता रहता है, सेना के एनकाउंटर चलते रहते हैं. पाकिस्तान की ओर से संभावित खतरे को देखते हुए भारत अपने सैन्य बल को तो बढ़ा ही रहा है लेकिन अब भारत ने एक ऐसा लाजवाब काम कर दिखाया है जिससे पाकिस्तान को अपनी छाती पर हर घडी सांप लोटने का अहसास होगा.

भारतीय सेना की ओर से की गयी सर्जिकल स्ट्राइक के बाद से दोनों देशों के बीच तनावपूर्ण स्थिति बनी हुई है और ऐसे में अब पाकिस्तान को चौबीसों घंटे अपनी छाती पर भारत का तिरंगा लहराता हुआ दिखाई देगा. भारत-पाकिस्तान अटारी बार्डर पर अब देश का सबसे ऊंचा तिरंगा झंडा आन-बान-शान के साथ फहराएगा.

आज से ठीक दो दिन बाद यानी 5 मार्च रविवार के दिन भारत-पाकिस्तान अटारी बार्डर पर 360 फीट यानी करीब 110 मीटर की ऊंचाई पर इस झंडे को फहराया जाएगा. 120 फीट लंबे और 80 फीट चौड़े इस झंडे का वजन तकरीबन 65 किलोग्राम होगा. ये झंडा इतना ऊंचा होगा कि पाकिस्तान के लाहौर से भी दिखाई देगा. यानी लाहौर के लोग भी हर रोज भारत की शक्ति के दर्शन किया करेंगे.


इस बेमिसाल प्रोजेक्ट का प्रबंधन गुरुग्राम की इन जीनियस स्टूडियो प्राइवेट लिमिटेड (आईएसपीएल) नाम की कंपनी द्वारा किया जा राह है. आईएसपीएल के संस्थापक रिंपेस शर्मा के मुताबिक़ अटारी बार्डर पर तीन एकड़ की जगह पर देश के सबसे ऊंचे इस तिरंगे की लहराया जाएगा. उन्होंने कहा कि उनके लिए ये गौरव की बात है कि इस महान काम को करने का सौभाग्य उन्हें मिला है.

पंजाब सरकार में बीजेपी कोटे से मंत्री अनिल जोशी के इस ड्रीम प्रोजेक्ट का निर्माण इंप्रूवमेंट ट्रस्ट करवा रहा है. अनिल जोशी के मुताबिक़ ये एक राष्ट्रीय गौरव का प्रतीक होगा जो हमें राष्ट्रीय एकता की भावना और प्रेरणा देगा. पंजाब पर्यटन काम्प्लेक्स में तिरंगा फहराने से पहले यहां पर सौंदर्यीकरण का काम कर लिया गया है. बेहद खूबसूरत पौधों के साथ पूरा काम्प्लेक्स बेहद खूबसूरत बनाया गया है.

केवल इतना ही नहीं बल्कि यहां पर एक एम्फीथियेटर भी बनाया गया है. भारत के इस सबसे ओनके राष्ट्रीय ध्वज को फहराने के लिए पोल भारत इलेक्ट्रिकल प्राइवेट लिमिटेड लगा रहा है. रिंपेश शर्मा की कंपनी आईएसपीएल वृंदावन में दुनिया के सबसे ऊंचे धार्मिक स्थल चंद्रोदय मंदिर के लिए भी डिजाइन बना रही है. इस तिरेंगे से ना केवल भारत का गौरव बढ़ेगा बल्कि पाकिस्तान को भी हर पल भारत की संप्रभुता और अखंडता का एहसास होगा.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments