Home > ख़बरें > भारत ने दिखाई ताकत, दागी पृथ्वी-2 मिसाइल, पाकिस्तान की उलटी गिनती शुरू, चीन के भी छूटे पसीने

भारत ने दिखाई ताकत, दागी पृथ्वी-2 मिसाइल, पाकिस्तान की उलटी गिनती शुरू, चीन के भी छूटे पसीने

prithvi-ii-india-misille

नई दिल्ली : पाकिस्तान द्वारा लगातार किये जा रहे सीजफायर के उलंघन के चलते हाल के दिनों में भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ता ही चला जा रहा है. इसी हफ्ते भारतीय सेना ने पाकिस्तान पर भीषण हमला करके उसकी कई चौकियों को ध्वस्त कर दी थीं, जिसमे कई पाक सैनिक भी मारे गए थे. आपसी तनातनी के बीच एक और ऐसी खबर सामने आयी है, जिसने पाकिस्तान के साथ-साथ चीन को भी परेशानी में डाल दिया है.


भारत ने दागी स्वदेशी पृथ्वी-2 मिसाइल

भारत ने एक बार फिर देश के दुश्मनों को अपना विकराल रूप दिखाते हुए स्वदेशी पृथ्वी-2 मिसाइल को सफलतापूर्वक दागा है. पृथ्वी-2 मिसाइल को ओडिशा के चांदीपुर परीक्षण रेंज से आज सुबह 10 बजकर 56 मिनट पर दागा गया. बता दें कि पृथ्वी-2 मिसाइल परमाणु हमला करने में भी सक्षम है और इसे पूरी तरह से भारत में ही विकसित किया गया है.

पृथ्वी-2 मिसाइल मिलने से भारतीय सेना की ताकत कई गुना तक बढ़ गयी है. पृथ्वी-2 मिसाइल जमीन से जमीन पर हमला करने में सक्षम है और दुश्मन के ठिकाने को पूरी तरह से तबाह कर सकती है. इससे पहले इसी परीक्षण स्थल पर 12 अक्टूबर 2009 को भी दो परीक्षण किए गए थे और दोनों ही सफल रहे थे। पृथ्वी-2 मिसाइल की मारक क्षमता 350 किलोमीटर है.

बता दें कि पृथ्वी 2 मिसाइल अपने साथ 500 से 1000 किलोग्राम तक के आयुध ले जाने में सक्षम है. लिक्विड प्रपल्शन ट्विन इंजन की इस मिसाइल की लंबाई 9 मीटर है. पृथ्वी 2 मिसाइल को 2003 में भारतीय सशस्त्र बल में शामिल किया गया था.


पृथ्वी-2 देश की पहली ऐसी मिसाइल है जिसे डीआरडीओ ने भारत के प्रतिष्ठित आईजीएमडीपी (इन्टग्रेटिड गाइडिड मिसाइल डिवलपमेंट प्रोग्राम) के तहत विकसित किया है. इससे पहले पृथ्वी-2 का उपयोगी परीक्षण 16 फरवरी 2016 को इसी रेंज से किया गया था.

रूस के साथ S-400 मिसाइल सिस्टम की डील पक्की

भारत द्वारा पृथ्वी-2 मिसाइल के सफल परिक्षण की चर्चा पाक मीडिया में की जानी शुरू हो गयी है. इसे भारत-पाक के बीच तनावपूर्ण रिश्तों से जोड़कर देखा जा रहा है. वहीँ रक्षामंत्री अरुण जेटली ने साफ शब्दों में पाकिस्तान को चेतावनी दी है कि भारतीय सेना पिछले कुछ हफ्तों की तरह एलओसी पर दबदबा बनाए रहेगी.

वहीँ पीएम मोदी को रूस में अपने दौरे के दौरान बड़ी सफलता मिली है. रूस के साथ S-400 मिसाइल सिस्टम के लिए डील पक्की हो गयी. इस सिस्टम से पाकिस्तान और चीन का भारत पर हवाई हमला करना लगभग नामुमकिन हो जाएगा. S-400 मिसाइल सिस्टम से दुश्मन की 36 मिसाइलों, विमानों व् ड्रोन को हवा में ही मार गिराया जा सकता है.

परमाणु हमला करने में सक्षम बैलिस्टिक और क्रूज मिसाइलों का हमला भी इसके जरिये से नाकाम किया जा सकता है. S-400 मिसाइल सिस्टम इतना आधुनिक व् ताकतवर है कि ये अमेरिका के अत्याधुनिक फाइटर जेट एफ-35 को भी हवा में ही ढेर कर सकता है. पृथ्वी-2 मिसाइल के परिक्षण और S-400 मिसाइल सिस्टम की सफल डील से भारतीय सेना के हौंसले और भी ज्यादा बुलंद हो गए हैं.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments