Home > ख़बरें > अभी-अभी : पुतिन ने मोदी को दिया पाकिस्तान की तबाही का हथियार, चीन के माथे पर भी चिंता की लकीरें

अभी-अभी : पुतिन ने मोदी को दिया पाकिस्तान की तबाही का हथियार, चीन के माथे पर भी चिंता की लकीरें

india-us-s-400-deal

नई दिल्ली : पीएम मोदी फिलहाल रूस के दौरे पर हैं. हर विदेश यात्रा की तरह इस बार भी मोदी खाली हाथ नहीं लौट रहे हैं बल्कि भारत को महाशक्ति बनाने वाली डील करके लौट रहे हैं. खबर है कि भारत और रूस में एक ऐसी डील पक्की हो गयी है, जिसके बाद भारत चीन तक को धुल चटा सकेगा.


भारत और रूस के बीच एस-400 डिफेंस सिस्टम को लेकर डील हो गयी है और अब जल्द ही ये भारतीय सेना को मिल सकता है. बता दें कि एस-400 डिफेंस सिस्टम की खासियत ये है कि युद्ध के दौरान ये एक साथ 36 मिसाइलों को मार गिराने में सक्षम है. खासकर पाकिस्तान और चीन से हवाई हमला किये जाने की स्थिति में भारत इस सिस्टम की मदद से हवा में ही उनकी मिसाइलों, लड़ाकू विमानों या ड्रोन को तबाह कर देगा.

साल भर से चल रही थी इस डील पर बात

इस मिसाइल डिफेंस सिस्टम डील के लिए पीएम मोदी पिछले सालभर से प्रयासरत थे और आखिरकार उन्हें सफलता मिल ही गयी. पिछले साल गोवा में हुए ब्रिक्स समिट के दौरान ही भारत और रूस के बीच 32 हजार करोड़ से ज्यादा की डिफेंस डील हुई थी. इस डील के तहत भारत रूस से पांच ‘S-400 एंटी मिसाइल डिफेंस सिस्टम’ और 200 ‘कामोव केए-226 टी’ हेलिकॉप्टर खरीदेगा.

सबसे अहम बात तो ये है कि 200 हेलीकॉप्टरों में से केवल 40 हेलिकॉप्टर ही रूस से बने-बनाये आएंगे, बाकी सभी हेलीकॉप्टर देश में मेक इन इंडिया के तहत ही बनाये जाएंगे. पीएम मोदी के रूस दौरे के दौरान रूस के उपप्रधानमंत्री दिमित्री रोगोजिन ने ऐलान कर दिया है कि भारत को विमान भेदी मिसाइल सिस्टम एस-400 देने के लिए प्रीकान्ट्रैक्ट तैयारियां जारी हैं.


अमेरिका के एफ-35 को भी कर सकता है तबाह

दोनों देशों की सरकारों के बीच समझौता हो गया है. बता दें कि S-400 Triumf एक विमान भेदी मिसाइल है, जिसे रूसी सेना भी इस्तमाल करती है. इस डिफेंस सिस्टम से दुश्मनों के विमानों, क्रूज और बैलिस्टिक मिसाइलों के साथ ज़मीनी ठिकानों को भी तबाह किया जा सकता है. इन मिसाइलों की मारक क्षमता 400 किलोमीटर तक की हैं. सबसे ख़ास बात तो ये है कि इस सिस्टम के द्वारा अमेरिका के सबसे एडवांस्ड फाइटर जेट एफ-35 को भी तबाह किया जा सकता है.

पाकिस्तान के साथ-साथ चीन को भी देगा टक्कर

इस बेमिसाल डिफेंस सिस्टम द्वारा एक साथ तीन मिसाइलें दागी जा सकती हैं. दुश्मनों द्वारा किया गया कोई भी मिसाइल हमला व् ड्रोन तक को ये नाकाम कर सकता है. यहाँ तक कि इसके द्वारा पाकिस्तान या चीन की परमाणु बैलिस्टिक मिसाइलों को भी हवा में ही तबाह किया जा सकता है, यानी भारत पर परमाणु हमला नहीं हो पायेगा.

चीन ने रूस से पहले ही ये सिस्टम खरीद लिया था, लेकिन भारत में कांग्रेस सरकार घोटालों में ही व्यस्त रही. लेकिन मोदी सरकार ने अब ये डील कर ली है. ऐसे में भारत अब चीन को आसानी से टक्कर दे सकेगा. भारत को पाकिस्तान के साथ-साथ चीन की ओर से भी मिसाइल हमलों और हवाई हमलों का ख़तरा रहता है. इसलिए एस-400 वायु सुरक्षा प्रणाली भारत के बहुत काम आ सकती है.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments